रूसी राष्ट्रपति का यूक्रेन पर आक्रमण एक ‘‘रणनीतिक भूल’’ : व्हाइट हाउस

वाशिंगटन/मास्को. व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव केट बेंिडगफील्ड ने कहा कि रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन का यूक्रेन पर आक्रमण एक ‘‘रणनीतिक भूल’’ है, जिसने रूस को वैश्विक मंच पर अलग-थलग कर दिया है. बेंिडगफील्ड ने कहा कि अमेरिका को जानकारी मिली है कि रूसी राष्ट्रपति अपनी सेना द्वारा गुमराह किया हुआ महसूस कर रहे हैं, जिससे पुतिन और उनके सैन्य नेतृत्व के बीच लगातार तनाव बना हुआ है.

बेंिडगफील्ड ने एक दैनिक संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘हमारा मानना है कि पुतिन को उनके सलाहकारों द्वारा इस संबंध में गलत सूचना दी जा रही है कि रूसी सेना कितना खराब प्रदर्शन कर रही है और रूसी अर्थव्यवस्था को प्रतिबंधों से कैसे पंगु बनाया जा रहा है, क्योंकि उनके वरिष्ठ सलाहकार उन्हें सच बताने से बहुत डरते हैं.’’ उन्होंने कहा, ‘‘ इसलिए, यह स्पष्ट होता जा रहा है कि पुतिन का युद्ध एक रणनीतिक भूल है, जिसने रूस को लंबे समय के लिए कमजोर बना दिया है और विश्व मंच पर वह अलग-थलग पड़ गया है.’’

बेंिडगफील्ड ने कहा कि आक्रमण की शुरुआत में रूस कीव की ओर आक्रामकता से बढ़ रहा था, लेकिन अब वह सार्वजनिक रूप से अपने आक्रमण के लक्ष्यों को फिर से परिभाषित करने की कोशिश कर रहा है, जो पहले से अलग है. पुतिन को उनकी सेना द्वारा गलत जानकारी देने की अमेरिकी खुफिया एजेंसी की रिपोर्ट को सार्वजनिक करने के सवाल पर उन्होंने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि जानकारी सार्वजनिक करने से यह स्पष्ट होता है कि उनका यह कदम एक रणनीतिक भूल है.’’ इसके साथ ही उन्होंने यह भी दोहराया कि राष्ट्रपति जो बाइडन रूस में शासन परिवर्तन की नीति की वकालत नहीं कर रहे हैं.

उन्होंने कहा, ‘‘कुछ दिन पहले उन्होंने जो कहा था वह स्वाभाविक आक्रोश से भरा बयान था, हमारे पास शासन परिवर्तन की औपचारिक नीति नहीं है. हम केवल रूस पर व्यापक प्रतिबंध लगाने पर जोर दे रहे हैं. ’’ उन्होंने कहा, ‘‘हम यह सुनिश्चित करना चाहते हैं कि रूस अपनी गलती का परिणाम भुगते. पुतिन ने खुद भी कहा है कि प्रतिबंधों का प्रभाव काफी अधिक होगा. इसलिए, हम यूक्रेन को सुरक्षा सहायता प्रदान करने और रूस पर महत्वपूर्ण प्रतिबंध लगाने की अपनी रणनीति पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं.’’

गौरतलब है कि बाइडन ने पिछले सप्ताह एक भाषण में रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के बारे में कहा था कि ‘‘यह शख्स सत्ता में नहीं रह सकता.’’ इसके बाद, व्हाइट हाउस और अन्य अमेरिकी अधिकारियों ने स्पष्ट किया था कि बाइडन असल में पुतिन को बेदखल करने के बारे में बात नहीं कर रहे थे.

अमेरिकी अधिकारी पुतिन को नहीं समझते : क्रेमलिन
रूसी राष्ट्रपति कार्यालय क्रेमलिन ने रूस के राष्ट्रपति को सलाहकारों द्वारा गलत सूचना दिये जाने संबंधी अमेरिकी खुफिया रिपोर्ट को लेकर ंिचता जताई है. व्लादिमीर पुतिन के प्रवक्ता दमित्री पेस्कोव ने बृहस्पतिवार को संवाददाताओं से कहा कि ना तो (अमेरिकी) विदेश विभाग और ना ही पेंटागन (अमेरिकी रक्षा विभाग) के पास इस बारे में वास्तविक सूचना है कि क्रेमलिन में क्या हो रहा है.

पेस्कोव ने कहा, ‘‘सीधी सी बात है कि वे नहीं समझ पा रहे हैं कि क्रेमलिन में क्या चल रहा है, वे निर्णय लेने के तंत्र को नहीं समझते हैं, वे हमारे काम करने के तरीके को नहीं समझते हैं.’’ उन्होंने कहा, ‘‘यह न सिर्फ अफसोसजनक है, बल्कि ंिचतित करने वाला भी है क्योंकि पूरी समझ नहीं रहने से त्रुटिपूर्ण फैसले लिये जाएंगे जिनके बहुत बुरे परिणाम हो सकते हैं. ’’ व्हाइट हाउस के मुताबिक, अमेरिकी खुफिया अधिकारियों ने कहा है कि पुतिन को यूक्रेन में उनकी सेना के खराब प्रदर्शन के बारे में सलाहकारों से गलत सूचना मिल रही है. उन्होंने कहा कि सलाहकार पुतिन को सच्चाई बताने से डर रहे हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button