कांग्रेस शासन में बेमेतरा जिला ‘लव जिहाद’ का केंद्र बन गया : अमित शाह

साजा/जांजगीर/चांपा/कोरबा. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बुधवार को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल पर हमला करते हुए कहा कि उनके शासन में छत्तीसगढ़ का बेमेतरा जिला ‘लव जिहाद’ का केंद्र बन गया है. शाह ने वादा किया कि अगर राज्य में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सत्ता में आई तो कोई भी ऐसी हरकत करने की हिम्मत नहीं करेगा.

छत्तीसगढ़ के बेमेतरा जिले के साजा विधानसभा क्षेत्र में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए शाह ने बघेल पर दुर्ग संभाग को शिक्षा केंद्र से सट्टेबाजी के केंद्र में बदलने का भी आरोप लगाया. भाजपा ने साजा सीट से ईश्वर साहू को मैदान में उतारा है. ईश्वर साहू के बेटे भुनेश्वर साहू की इस साल अप्रैल माह में जिले के बिरनपुर गांव में सांप्रदायिक झड़प के दौरान हत्या हो गई थी.

शाह ने सभा को संबोधित करते हुए कहा, ”ईश्वर साहू न सिर्फ उम्मीदवार हैं बल्कि वह न्याय की लड़ाई के प्रतीक हैं. भूपेश कक्का के शासन में सांप्रदायिक तत्वों ने साहू के बेटे भुनेश्वर साहू की पीट-पीटकर हत्या कर दी. भूपेश कक्का के लोगों ने ईश्वर जी को चेक और नौकरी की पेशकश करते हुए कहा कि वे न्याय न मांगें. लेकिन मैं ईश्वर जी को धन्यवाद देना चाहूंगा कि उन्होंने उसे अस्वीकार कर दिया और न्याय मांगा.”

केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा, ”भुनेश्वर साहू के लिये न्याय सुनिश्चित करना हमारी जिम्मेदारी है. किसी को भी कानून का उल्लंघन करने की इजाजत नहीं दी जाएगी. भुनेश्वर साहू के हर हत्यारे को जेल भेजा जाएगा..भूपेश कक्का के सत्ता से बाहर होने की उल्टी गिनती शुरू हो गई है.” शाह ने मतदाताओं से भाजपा को सत्ता में लाने का आग्रह करते हुए कहा कि उनके वोट न केवल राज्य में भाजपा की सरकार बनाएंगे बल्कि भुनेश्वर साहू को न्याय भी दिलाएंगे तथा तुष्टिकरण की राजनीति को सबक सिखाएंगे.

कांग्रेस सरकार की आलोचना करते हुए शाह ने कहा, ”भूपेश बघेल शासन में बेमेतरा लव जिहाद का केंद्र बन गया. साहू, कुर्मी और गोंड समुदाय इसके (लव जिहाद के) निशाने पर थे और भूपेश बघेल सरकार सोयी रही. उन्हें कौन जगाएगा? आप जगाएंगे, आपके वोट जगाएंगे. मैं वादा करता हूं कि आप भाजपा को सत्ता में लाएं, कोई भी ऐसा कृत्य करने की हिम्मत नहीं करेगा.” राज्य में कथित महादेव सट्टेबाजी ऐप घोटाले को लेकर मुख्यमंत्री बघेल पर निशाना साधते हुए शाह ने कहा, ”भूपेश कक्का ने दुर्ग संभाग को बर्बाद कर दिया. रमन सिंह के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार के दौरान दुर्ग संभाग शिक्षा का केंद्र बन गया था. भूपेश बघेल ने इसे सट्टा (सट्टेबाजी) का केंद्र बना दिया.”

उन्होंने कहा, ”बघेल जी को ऐप का नाम अपने ही नाम पर रखना था. उन्होंने महादेव नाम का प्रयोग क्यों किया? मोदी जी ने चंद्रमा पर ‘चंद्रयान’ भेजा और भगवान शिव और मां शक्ति के प्रति श्रद्धा व्यक्त करते हुए उस स्थान (जहां चंद्रयान उतरा) का नाम ‘शिव शक्ति’ रखा. लेकिन भूपेश कक्का ने एक सट्टेबाजी ऐप का नाम महादेव के नाम पर रखा और उनका अपमान किया.” शाह ने कहा, ”अगर गलती से भी भूपेश बघेल दोबारा सत्ता में आ गए तो आप महादेव का नाम नहीं ले पाएंगे क्योंकि बघेल को डर है कि पुलिस आ जाएगी. उन्होंने युवाओं को सट्टेबाजी के कारोबार में धकेलने का पाप किया है.” भ्रष्टाचार को लेकर कांग्रेस सरकार पर निशाना साधते हुए शाह ने बघेल पर छत्तीसगढ़ को कांग्रेस का ‘एटीएम’ बनाने का आरोप लगाया.

केंद्रीय गृहमंत्री ने कहा, ”छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री प्रीपेड मुख्यमंत्री हैं..यह भूपेश बघेल प्रीपेड मुख्यमंत्री हैं. जितना घूस दोगे उतना ही काम करेंगे वरना नहीं करेंगे. पूरे छत्तीसगढ़ को कलेक्शन सेंटर और एटीएम बनाने का काम या भूपेश कक्का ने किया है.” उन्होंने कांग्रेस पर पिछड़ा समाज का अपमान करने का आरोप लगाया और कहा, ”कांग्रेस पार्टी ने हमेशा पिछड़ा समाज का अपमान करने का काम किया है. कांग्रेस ने 70 साल में पिछड़ा समाज को संवैधानिक मान्यता नहीं दी. नरेंन्द्र मोदी जी ने पिछड़ा वर्ग आयोग को संवैधानिक मान्यता देने का काम किया. भाजपा ने पहली बार देश को अति पिछड़ा समाज का प्रधानमंत्री देने का काम किया. मोदी जी की मंत्रिमंडल में 27 मंत्री पिछड़ा समाज से हैं. 303 सांसदों में करीब 100 सांसद पिछड़ा समाज से हैं. 1358 विधायकों में 27 परसेंट विधायक पिछड़ा समाज से हैं. राहुल बाबा ओबीसी समाज को गाली देने का काम करते हैं.”

शाह ने कहा, ”कांग्रेस पार्टी ओबीसी विरोधी पार्टी है. उसने ना काका कालेलकर कमीशन का और ना ही मंडल आयोग के रिपोर्ट पर अमल किया. जब मंडल आयोग को जमीन पर उतर गया राजीव गांधी ने विरोध किया था.” उन्होंने कांग्रेस पर अयोध्या में श्रीराम मंदिर के निर्माण में बाधा डालने का आरोप लगाया और कहा, ”कांग्रेस पार्टी 70 साल से राम मंदिर के निर्माण को अटका रही थी. मोदी जी ने इसका भूमि पूजन किया और 22 जनवरी 2024 को रामलाल की प्राणप्रतिष्ठा अयोध्या के मंदिर में होगी.” शाह ने कहा, ”राहुल बाबा ने 2014 से 2019 तक मुझे बहुत परेशान किया. मुझे ताना मारते थे कि मंदिर वहीं बनाएंगे तिथि नहीं बताएंगे. राहुल बाबा को मैं तिथि बताने आया हूं.”

उन्होंने जांजगीर-चांपा जिले में एक अन्य सभा को संबोधित करते हुए कहा, ”चांपा कोसा की नगरी है. कोसा के व्यापार को भूपेश बघेल की सरकार में बहुत नुकसान पहुंचा है. इसे करने वाले देवांगन समाज के लोग हैं जो ओबीसी समाज से आते हैं..राज्य में भाजपा की सरकार बनने पर हम स्पेशल पैकेज लाकर कोसा उद्योग को आगे बढ़ाने का काम करेंगे.” शाह ने कश्मीर से धारा 370 समाप्त करने को लेकर कहा, ” कांग्रेस पार्टी 70 साल से धारा 370 को बचा कर रखी थी. अपने वोट बैंक की पॉलिटिक्स के कारण और तुष्टिकरण की नीति के कारण आतंकवादियों को पनाह देने का काम कांग्रेस पार्टी की सरकारों ने किया. मोदी जी धारा 370 को समाप्त कर कश्मीर को हमेशा के लिए भारत के साथ जोड़ने का काम किया.”

केंद्रीय गृहमंत्री ने कहा, ”मैं विधेयक लेकर संसद में खड़ा हुआ तब राहुल बाबा कह रहे थे कि मत हटाओ. जब पूछा गया क्यों न हटाएं तो कहा कि कश्मीर में खून की नदियां बह जाएगी. खून की नदियां छोड़ो किसी की कंकर चलाने की हिम्मत नहीं हुई. यह नरेंद्र मोदी सरकार है.. नरेन्द्र मोदी जी ने र्सिजकल स्ट्राइक और एयर स्ट्राइक करके देश को सुरक्षित करने का काम किया है. पीएफआई पर बैन लगाने का काम किया है और रोहिंग्या घुसपैठियों पर भी नकेल कसने का का केंद्र सरकार ने किया है.”

उन्होंने हाथी प्रभावित कोरबा जिले में घोषणा की कि राज्य में भाजपा की सरकार बनने के बाद हाथियों के आतंक के कारण मृत्यु होने पर मृतकों के परिजनों को सात लाख 50 हजार रुपए अनुग्रह राशि दी जाएगी. वर्तमान राज्य में सरकार में हाथियों के हमले में मृत व्यक्ति के परिजनों को छह लाख रुपये अनुग्रह राशि दी जाती है. राज्य में 17 नवंबर को होने वाले दूसरे चरण के चुनाव के लिए बुधवार को प्रचार समाप्त हो गया.

Back to top button