बिहार में सामाजिक न्याय की लडाई लड़ाई जारी रखेगा महागठबंधन, नीतीश कुमार की जरूरत नहीं: राहुल

मोदी सरकार ने किसानों का भरोसा खो दिया है, हम इसे वापस जीतने की कोशिश करेंगे: राहुल

पूर्णिया/नयी दिल्ली. कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने मंगलवार को कहा कि ‘महागठबंधन’ बिहार में सामाजिक न्याय के लिए लड़ाई जारी रखेगा और गठबंधन को इसके लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की ‘कोई जरूरत नहीं’ है. अपनी भारत जोड़ो न्याय यात्रा के क्रम में पूर्णिया जिले में एक रैली को संबोधित करते हुए गांधी ने बार-बार पाला बदलने के लिए कुमार पर कटाक्ष भी किया.

पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष गांधी ने कुमार के अचानक पाला बदलकर महाठगबंधन से भाजपा नीत राजग में चले जाने पर उनपर कटाक्ष करते हुए कहा, ‘थोड़ा सा दवाब पड़ता है और (वह) यूटर्न ले लेते हैं.” उन्होंने कहा, ”महागठबंधन बिहार में सामाजिक न्याय के लिए लड़ेगा. हमें उसके लिए नीतीश कुमार की आवश्यकता नहीं है, हमें उनकी बिल्कुल भी आवश्यकता नहीं है.” कांग्रेस महागठबंधन का हिस्सा है, जिसमें राजद और वामपंथी दल भी शामिल हैं. गांधी ने यह भी कहा कि दलितों और पिछड़े वर्गों को देश के सभी क्षेत्रों में उचित प्रतिनिधित्व नहीं मिलता है.

कांग्रेस सांसद गांधी ने पूर्णिया के रंगभूमि मैदान में रैली को संबोधित करते कहा, ”हमारे देश को दलितों, ओबीसी, आदिवासियों और अन्य लोगों की सटीक जनसंख्या जानने के लिए जाति आधारित जनगणना की आवश्यकता है.” मणिपुर पर टिप्पणी करते हुए उन्होंने दावा किया कि यह ”गृहयुद्ध के माहौल” का अनुभव कर रहा है और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अभी तक जातीय संघर्षग्रस्त इस राज्य का दौरा नहीं किया है.

कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे पूर्णिया नहीं पहुंच सके और उन्होंने अपने एक वीडियो संदेश के माध्यम रैली को संबोधित किया.
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अखिलेश प्रसाद ने कहा कि दृश्यता कम होने के कारण उनका (खरगे का) विमान पूर्णिया हवाई अड्डे तक नहीं पहुंच सका. छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और भाकपा माले महासचिव दीपांकर भट्टाचार्य ने भी सभा को संबोधित किया.
कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस, आम आदमी पार्टी और भाकपा माले 28 पार्टी के विपक्षी गठबंधन इंडिया का हिस्सा हैं.

चंडीगढ़ महापौर चुनाव पर राहुल का आरोप: ‘गोडसेवादियों’ ने संवैधानिक मूल्यों की बलि चढ़ा दी

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने चंडीगढ़ के महापौर के चुनाव में भारतीय जनता पार्टी की जीत और आठ मतों को अवैध करार दिए जाने के बाद मंगलवार को आरोप लगाया कि महात्मा गांधी की पुण्यतिथि पर ‘गोडसेवादियों’ ने बापू के आदर्शों और संवैधानिक मूल्यों की बलि चढ़ा दी.

भाजपा ने चंडीगढ़ में महापौर चुनाव में महापौर समेत सभी तीन पदों पर जीत हासिल की है और कांग्रेस-आप गठबंधन को हरा दिया. इस चुनाव में भाजपा उम्मीदवार मनोज सोनकर ने कांग्रेस सर्मिथत आम आदमी पार्टी के कुलदीप कुमार को हराकर जीत हासिल की. सोनकर को 16 मत मिले, जबकि कुमार के पक्ष में 12 मत आए. आठ मतों को अवैध घोषित कर दिया गया.

राहुल गांधी ने ‘एक्स’ पर पेस्ट किया, ”जो भाजपा मेयर चुनाव में पूरी दुनिया के सामने लोकतंत्र की हत्या कर सकती है, वो दिल्ली की सत्ता में बने रहने के लिए क्या करेगी, यह कल्पना से परे है.” उन्होंने आरोप लगाया, ”वर्षों पहले आज ही के दिन गोडसे ने गांधी जी की हत्या की थी और आज ही गोडसेवादियों ने उनके आदर्शों और संवैधानिक मूल्यों की बलि चढ़ा दी.”

Related Articles

Back to top button