स्वास्थ्य मंत्रालय ने नीट-पीजी 2023 की सभी श्रेणियों में कटऑफ शून्य की

नयी दिल्ली. केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने राष्ट्रीय पात्रता एवं प्रवेश परीक्षा परास्नातक (नीट पीजी) 2023 में काउंसलिंग के लिए अनिवार्य ‘क्वालिफाइंग परसेंटाइल’ को घटाकर शून्य कर दिया है. सरकार के इस कदम के बाद नीट पीजी परीक्षा देने वाले सभी विद्यार्थियों को काउंसलिंग में शामिल होने का मौका मिलेगा.

भारत सरकार के स्वास्थ्य सेवा निदेशालय की मेडिकल काउंसलिंग कमेटी (एमसीसी) ने एक नोटिस में कहा है कि नीट पीजी काउंसलिंग 2023 के लिये पीजी पाठ्यक्रमों (मेडिकल/डेंटल) के लिए ‘क्वालीफाइंग परसेंटाइल’ को मंत्रालय ने सभी श्रेणियों में ‘शून्य’ कर दिया गया है. ‘परसेंटाइल’ को घटाने के बाद पात्र विद्यार्थियों के लिये पीजी काउंसलिंग के राउंड-तीन के लिए पंजीकरण और पसंद भरने की खिड़की फिर से खोली जाएगी.

इसमें कहा गया है कि पीजी काउंसलिंग राउंड-3 का नया कार्यक्रम जल्द ही एमसीसी वेबसाइट पर डाला जाएगा. हाल ही में, फेडरेशन ऑफ रेजिडेंट डॉक्टर्स एसोसिएशन ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय से नीट पीजी 2023 परीक्षा के लिए कट-ऑफ अंक को कम करने पर विचार करने की अपील की थी.

Related Articles

Back to top button