रोहित की रिकॉर्डतोड़ पारी से भारत ने अफगानिस्तान को आठ विकेट से रौंदा

नयी दिल्ली. कप्तान रोहित शर्मा की रिकॉर्ड तोड़ शतकीय पारी के दम पर भारत ने एकदिवसीय विश्व कप के मैच में बुधवार को यहां अफगानिस्तान को 90 गेंद शेष रहते आठ विकेट से हराकर लगातार दूसरी जीत दर्ज की। रोहित ने 84 गेंद की पारी में 16 चौके और पांच छक्कों की मदद से 131 रन बनाने के अलावा ईशान किशन (47) के साथ पहले विकेट के लिए 112 गेंद में 156 रन और विराट कोहली (नाबाद 55) के साथ दूसरे विकेट के लिए 42 गेंद में 49 रन की साझेदारी की।

कोहली ने श्रेयस अय्यर (नाबाद 25) के साथ 56 गेंद में 68 रन की अटूट साझेदारी कर टीम को जीत दिला दी। भारत ने अफगानिस्तान को आठ विकेट पर 272 रन पर रोकने के बाद 35 ओवर में दो विकेट के नुकसान पर लक्ष्य हासिल कर लिया। इस जीत से भारतीय टीम अपना नेट रन रेट बेहतर करते हुए पदक तालिका में दूसरे स्थान पर आ गयी।

अफगानिस्तान ने कप्तान हशमतुल्लाह शाहिदी (80) और अजमतुल्लाह ओमरजई (62) के बीच साथ चौथे विकेट के लिए 121 रन की साझेदारी से सम्मानजनक स्कोर खड़ा किया लेकिन भारतीयों इसे बौना साबित कर दिया। शाहिदी ने 88 गेंद में आठ चौका और एक छक्का लगाया तो वहीं ओमरजई ने 69 गेंद की पारी में दो चौके और चार छक्के जडे.।

भारत के लिए जसप्रीत बुमराह ने एक बार फिर अपनी धारदार गेंदबाजी से प्रभावित करते हुए 10 ओवर में 39 रन देकर चार विकेट लिये। हार्दिक पंड्या ने दो जबकि कुलदीप यादव और शारदुल ठाकुर ने एक-एक विकेट चटकाये। मोहम्मद सिराज ने नौ ओवर में बिना किसी सफलता के 76 रन लुटाये।

लक्ष्य का पीछा करते हुए रोहित ने फजलहक फारुकी के खिलाफ आक्रामक तेवर दिखाते हुए बायें हाथ के इस गेंदबाज के शुरूआती चार ओवर में पांच चौके और दो छक्के जडे। उन्होंने इस दौरान विश्व कप में 19 पारियों में 1000 रन पूरा कर डेविड वार्नर की बराबरी की।
भारतीय कप्तान ने नवीन उल हक पर चौका लगाकर 30 गेंद में अपना अर्धशतक पूरा किया और फिर 85 मीटर लंबा छक्का लगाकर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में सबसे ज्यादा छक्के लगाने का रिकार्ड अपने नाम किया। इससे पहले यह रिकॉर्ड क्रिस गेल के नाम था जिन्होंने 483 मैच (टेस्ट, एकदिवसीय और टी20 अंतरराष्ट्रीय) में 553 छक्के लगाये है। रोहित के नाम 453 पारी में 556 छक्के है।

भारतीय टीम ने 12वें ओवर में रन का शतक पूरा किया जिसमें किशन का योगदान महज 14 रन का था। बायें हाथ के इस बल्लेबाज ने 13वें ओवर में नबी के खिलाफ चौका और फिर स्लॉग स्वीप पर छक्का लगाकर हाथ खोला। रोहित ने 18वें ओवर में नबी के खिलाफ चौका और एक रन लेकर 63 गेंद में अपना शतक पूरा किया। विश्व कप में रोहित का यह रिकॉर्ड सातवां शतक है। विश्व कप में भारतीय बल्लेबाजों में यह सबसे तेज शतक है।

राशिद खान ने 19वें ओवर में इशान किशन को आउट कर अफगानिस्तान को पहली सफलता दिलायी। किशन ने 47 गेंद की पारी में पांच चौके और दो छक्के जड़े कोहली के क्रीज पर आते ही अफगान कप्तान शाहिदी ने गेंद नवीन को थमा दी और दर्शक कोहली कोहली का नारा लगाने लगे। कोहली और नवीन के बीच आईपीएल के बीते सत्र में विवाद हुआ था। कोहली और नवीन हालांकि बाद में एक दूसरे से बातचीत करते दिखे।

कोहली ने कवर क्षेत्र में राशिद के खिलाफ चौके के साथ हाथ खोला। रोहित ने इस गेंदबाज के अगले ओवर में लगातार गेंदों पर चौका और छक्का लगाया। कोहली ने 25वें ओवर में ओमरजई की गेंद पर चौका जड़ टीम के स्कोर को 200 के पार पहुंचाया। अगले ओवर में राशिद ने रोहित को बोल्ड कर अफगानिस्तान को बड़ी सफलता दिलायी।

श्रेयस अय्यर ने क्रीज से आगे निकल कर मुजीब की गेंद पर छक्के के साथ हाथ खोला, जिससे भारत ने 33वें ओवर में 250 रन पूरे किये। कोहली ने 35वें ओवर में चौका और फिर तीन रन लेकर 55 गेंद में अपना अर्धशतक पूरा किया। उन्होंने अपनी पारी में छह चौके लगाये।

इससे पहले टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला करने के बाद सलामी बल्लेबाज इब्राहिम जदरान (22) ने दूसरे और चौथे ओवर में सिराज के खिलाफ तीन चौके जड़े तो वहीं रहमानुल्लाह गुरबाज (21) ने भी इस गेंदबाज के खिलाफ पारी के छठे ओवर में दो चौके लगाये।

दूसरे छोर से शानदार गेंदबाजी कर रहे बुमराह ने जदरान को विकेटकीपर लोकेश राहुल के हाथों कैच कराया। हार्दिक पंड्या ने 13वें ओवर में गुरबाज तो वहीं शारदुल ने 14वें ओवर में रहमत शाह (16) को पगबाधा किया। इससे अफगानिस्तान का स्कोर एक विकेट पर 63 रन से तीन विकेट पर 63 रन हो गया।

इसके बाद शाहिदी और ओमरजई ने भारतीय गेंदबाजों के खिलाफ अगले कुछ ओवर में रक्षात्मक नीति अपनायी लेकिन क्रीज पर समय बिताने के बाद आसानी से बड़े शॉट लगाये। ओमरजई ने 25वें ओवर में कुलदीप पर दो शानदार छक्के जड़ने के बाद जडेजा पर अपनी पारी का तीसरा छक्का लगाया।

इस बल्लेबाज ने 32वें ओवर में 62 गेंद में अपना अर्धशतक पूरा करने के बाद अगले ओवर में शाहिदी के साथ शतकीय साझेदारी पूरी की। अफगानिस्तान के कप्तान ने भी इसके बाद हार्दिक पर चौके से 58 गेंद में अपना पचासा पूरा किया हार्दिक ने हालांकि ओमरजई को बोल्ड कर चौथे विकेट के लिए 121 रन की साझेदारी को तोड़ा।

अफगानिस्तान ने 37वें ओवर में 200 रन पूरे किये। शाहिदी ने शारदुल और सिराज पर चौके जड़े लेकिन कुलदीप ने उन्हें पगबाधा कर मैच में भारत की वापसी करायी। बुमराह ने 45वें ओवर में नजीबुल्लाह जदरान (दो) और मोहम्मद नबी (19) को चलता कर टीम को दोहरी सफलता दिलायी। मुजीब उर रहमान (नाबाद 10), राशिद खान (16) और नवीन उल हक (नाबाद नौ) ने इसके बाद टीम को 270 के स्कोर के पार ले जाने में सफल रहे।

Related Articles

Back to top button