सऊदी अरब से 0-2 से हारकर भारतीय फुटबॉल टीम एशियाई खेलों से बाहर

हांगझोउ. करिश्माई स्ट्राइकर सुनील छेत्री की अगुआई वाली भारतीय टीम पुरुष फुटबॉल स्पर्धा के प्री क्वार्टरफाइनल में गुरुवार को यहां मजबूत सऊदी अरब टीम के खिलाफ पहले हाफ में शानदार डिफेंस के बावजूद 0-2 से हारकर एशियाई खेलों से बाहर हो गयी. सऊदी अरब की मजबूत टीम हालांकि अपना सर्वश्रेष्ठ खेल नहीं दिखा सकी लेकिन वह भारतीय टीम की चुनौती खत्म करके अगले दौर में जगह बनाने में सफल रही.

सऊदी अरब के खिलाड़ियों की ताकत को लेकर कोई शक नहीं था और उसके फॉरवर्ड मोहम्मद खलील मारान ने 51वें और 57वें मिनट में दो गोल कर सुनील छेत्री की अगुआई वाली भारतीय टीम का अभियान खत्म कर दिया. अखिल भारतीय फुटबॉल महासंघ (एआईएफएफ) ने इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) आयोजकों के हठी रवैये की वजह से अनिश्चितता भरे माहौल में दोयम दर्जे की टीम भेजी लेकिन इगोर स्टिमक के खिलाड़ियों ने जिस तरह का प्रदर्शन किया, उसे अच्छा ही कहा जा सकता है.

कप्तान छेत्री ने ‘मिक्सड जोन’ में भारतीय प्रसारक से कहा, ”देश के लिए खेलना हमेशा सम्मान की बात होता है. हमने अपना सर्वश्रेष्ठ करने की कोशिश की. हम एक साथ नहीं खेले थे. कुछ खिलाड़ियों के बारे में जानना शानदार रहा. उनके लिए यह बहुत अच्छा अनुभव रहेगा. ” भारतीय खिलाड़ियों ने सऊदी अरब को पहले हाफ में गोल नहीं करने दिया जो काबिलेतारीफ प्रदर्शन रहा और अगर टीम उसे हराने में कामयाब रहती तो यह कोई चमत्कार ही होता.

संदीप झिंगन की अगुआई वाले डिफेंस ने सऊदी अरब के खिलाड़ियों को पहले हाफ में रोकने में सफलता हासिल की लेकिन बेहतर कौशल रखने वाले सऊदी अरब के मजबूत खिलाड़ियों ने अंत में अपनी श्रेष्ठता साबित की. चीन के खिलाफ (1-5 की हार वाले) मैच की तरह 50वें मिनट में भारत की पकड़ ढीली हो गयी. उस मैच की तुलना में अंतर बस यह था कि इस मैच से पहले खिलाड़ियों ने उचित आराम किया हुआ था और दो गोल से पिछड़ने के बावजूद प्रतिद्वंद्वी टीम लगातार गोल नहीं कर सकी.

मोहम्मद अल अबू शमत ने 51वें मिनट में दायीं ओर से परफेक्ट क्रास दिया और खलील ने झिंगन की मौजूदगी के बावजूद सिर पूरी ताकत से गेंद पर मारकर इसे गोल में बदलकर अपनी टीम को 1-0 से आगे कर दिया. भारतीय खेमे से इस गोल से काफी खलबली मच गयी और कुछ ही देर में दूसरा गोल हो गया. खलील ने गोलकीपर धीरज सिंह के सामने से आसानी से दूसरा गोल दागा. इसमें कहीं न कहीं भारतीय डिफेंस की चूक दिखी. लेकिन 2-0 की बढ़त के बावजूद सऊदी अरब की टीम गोल के काफी मौकों के बावजूद इस अंतर को बढ़ा नहीं सकी.

Related Articles

Back to top button