नारायणपुर में स्थानीय कांग्रेस नेता की गोली मारकर हत्या

नारायणपुर. छत्तीसगढ़ के नारायणपुर जिले में अज्ञात हमलावरों ने एक स्थानीय कांग्रेस नेता की गोली मारकर हत्या कर दी. पुलिस अधिकारियों ने मंगलवार को यह जानकारी दी. पुलिस अधिकारियों ने बताया कि शहर के बखरूपारा इलाके में अज्ञात हमलावरों ने सोमवार रात विक्रम बैस (40) की गोली मारकर हत्या कर दी. उन्होंने बताया कि बैस विपक्षी दल कांग्रेस से जुड़े थे. पूर्व में वह नारायणपुर जिला इकाई के महासचिव भी थे. बैस नारायणपुर ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन के निवर्तमान सचिव थे.

अधिकारियों ने बताया कि प्रारंभिक जानकारी के अनुसार सोमवार रात बैस अपने कार्यालय से मोटरसाइकिल से अपने घर के लिए निकले थे. जब घर के करीब पहुंचे तब मोटरसाइकिल सवार लगभग चार हमलावरों ने उनके सीने पर गोली मार दी. इससे बैस वहीं गिर पड़े. उन्होंने बताया कि इसके बाद हमलावरों ने उनके सिर पर एक और गोली मारी जिससे बैस की मौके पर ही मौत हो गई. वारदात को अंजाम देने के बाद हमलावर मौके से भाग गए.

अधिकारियों ने बताया कि घटना की सूचना मिलने के बाद घटनास्थल के लिए पुलिस दल रवाना किया गया तथा हमलावरों की खोज में वाहनों की तलाशी शुरू की गई. पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है. हमले में नक्सलियों की संभावित भूमिका के बारे में पूछे जाने पर नारायणपुर के पुलिस अधीक्षक प्रभात कुमार ने कहा कि प्रारंभिक जांच में इस घटना में नक्सलियों की भूमिका की जानकारी नहीं मिली है. लेकिन सभी संभावित पहलुओं पर जांच की जा रही है.

अंतिम संस्कार से पहले बैस के पार्थिव शरीर को अंतिम दर्शन के लिए नारायणपुर स्थित कांग्रेस कार्यालय लाया गया. राज्य के पूर्व मंत्री और कांग्रेस नेता मोहन मरकाम ने बैस को श्रद्धांजलि दी तथा सत्ताधारी दल भाजपा पर निशाना साधते हुए दावा किया कि (पिछले विधानसभा चुनाव में) भाजपा के सत्ता में आने के बाद से असामाजिक तत्व सक्रिय हो गए हैं. मरकाम ने यह भी आरोप लगाया कि राज्य सरकार कांग्रेस और अन्य राजनीतिक दलों के सदस्यों को सुरक्षा देने में विफल रही है.

Back to top button