पुर्तगाल की स्वास्थ्य मंत्री ने गर्भवती भारतीय महिला की मौत के बाद दिया इस्तीफा, जांच के आदेश

लिस्बन/नयी दिल्ली. पुर्तगाल में गर्भवती भारतीय महिला को देश के एक अस्पताल से दूसरे अस्पताल में भेजे जाने और इस दौरान उसका निधन होने की दुखद घटना के बाद देश की स्वास्थ्य मंत्री मार्टा टेमिडो ने पद से इस्तीफा दे दिया है. अधिकारियों ने इस घटना की जांच के आदेश दिए हैं.

घटना के अनुसार 34 वर्षीय भारतीय महिला को सैंटा मारिया अस्पताल से एंबुलेंस से एक अन्य अस्पताल ले जाया जा रहा था और इसी दौरान उसे दिल का दौरा पड़ा. सैंटा मारिया अस्पताल में नवजात देखभाल (नियोनेटलॉजी) सेवा में जगह नहीं थी जिसके कारण उसे दूसरे अस्पताल ले जाया जा रहा था.

बीबीसी ने अपनी एक रिपोर्ट में बुधवार को कहा कि पुर्तगाल में ये इकलौती घटना नहीं है. इस वर्ष कई ऐसी घटनाएं हुई हैं जिनके लिए आलोचकों ने देश भर में अस्पतालों में नवजात देखभाल इकाइयों में कर्मचारियों की घोर कमी को जिम्मेदार ठहराया है.
टेमिडो 2018 से स्वास्थ्य मंत्री का पद संभाल रही थीं और देश में कोरोना वायरस संक्रमण के दौरान हालात को बेहतर तरीके से संभालने का श्रेय उन्हें दिया जाता है लेकिन मंगलवार को सरकार ने एक बयान जारी करके कहा कि टेमिडो ने ‘‘यह महसूस किया है कि वह अब इस पद पर बनी नहीं रह सकतीं.’’

पुर्तगाल की समाचार एजेंसी ‘लूसा’ ने अपनी एक रिपोर्ट में कहा कि देश के प्रधानमंत्री एंटोनियो कोस्टा ने कहा कि महिला का निधन ‘‘वह निर्णायक घटना’’ रही, जिससे टेमिडो ने इस्तीफा देने का निर्णय लिया. प्रसव तथा मातृ देखभाल इकाइयों में कर्मचारियों की घोर कमी और कुछ इकाइयों को बंद किए जाने, जिसके कारण महिलाओं को एक अस्पताल से दूसरे अस्पताल में जाने के लिए मजबूर होना पड़ता है, के लिए देश की सरकार की कठोर आलोचना हुई जिसके बाद सरकार ने यह बयान दिया है.

स्थानीय मीडिया की एक खबर के अनुसार पर्यटन के लिये आई गर्भवती महिला को लिस्बन के सैंटा मारिया अस्पताल से ले जाया जा रहा था क्योंकि उसकी (अस्पताल की) नवजात देखभाल इकाई में जगह नहीं थी. रिपोर्ट में चिकित्सक के हवाले से बताया गया कि महिला का तत्काल आॅपरेशन किया गया और उसने एक स्वस्थ शिशु को जन्म दिया. महिला की मौत के मामले की जांच की जा रही है.

भारत उस भारतीय महिला के परिवार के संपर्क में है, जिसकी पुर्तगाल में मौत हो गई

भारत ने पुर्तगाल में एक भारतीय गर्भवती महिला की मौत को ‘‘दुर्भाग्यपूर्ण’’ बताते हुए बृहस्पतिवार को कहा कि वह उसके परिवार के संपर्क में है. लिस्बन में एक अस्पताल से दूसरे अस्पताल भेजे जाने के दौरान महिला की मौत हो गई थी. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अंिरदम बागची ने यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘यह घटना दुर्भाग्यपूर्ण है. हम उसके (मृत महिला) परिवार के संपर्क में हैं.’’

ऐसा बताया जा रहा है कि 34 वर्षीय भारतीय महिला को सैंटा मारिया अस्पताल से एंबुलेंस से एक अन्य अस्पताल ले जाया जा रहा था और इसी दौरान उसे दिल का दौरा पड़ा. सैंटा मारिया अस्पताल में नवजात देखभाल (नियोनेटलॉजी) सेवा में जगह नहीं थी, जिसके कारण उसे दूसरे अस्पताल ले जाया जा रहा था. इस घटना के बाद पुर्तगाल की स्वास्थ्य मंत्री मार्टा टेमिडो ने पद से इस्तीफा दे दिया. अधिकारियों ने इस घटना की जांच के आदेश दिए हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button