उपराष्ट्रपति क्रिस्टीना फर्नांडीज की हत्या करने की कोशिश नाकाम, नहीं चली पिस्तौल

ब्यूनस आयर्स. अर्जेंटीना के राष्ट्रपति अल्बर्टो फर्नांडीज ने बताया कि देश की उपराष्ट्रपति क्रिस्टीना फर्नांडीज के घर के बाहर उनकी हत्या करने की कोशिश की गई. एक व्यक्ति ने उन पर पिस्तौल तान दी थी, लेकिन वह चली नहीं. अधिकारियों ने बताया कि बृहस्पतिवार रात हुई घटना के तुरंत बाद संदिग्ध व्यक्ति को पकड़ लिया गया.

राष्ट्रपति ने घटना के बाद एक राष्ट्रीय प्रसारक से कहा, ‘‘ एक व्यक्ति ने उनके सिर पर (बृहस्पतिवार रात) हथियार ताना.’’ उन्होंने कहा कि गोली नहीं चली, जबकि ‘‘ उसने ट्रिगर खींच दिया था.’’ उपराष्ट्रपति क्रिस्टीना फर्नांडीज 2007 से 2015 तक देश की राष्ट्रपति भी रह चुकी हैं. ऐसा प्रतीत होता है कि उपराष्ट्रपति को कोई चोट नहीं आई है. संदिग्ध व्यक्ति उनके समर्थकों के बीच खड़ा था, जिसे घटना के तुरंत बाद पकड़ लिया गया.

मौके पर मौजूद जिना दे बई ने ‘द एसोसिएटेड प्रेस’ को बताया कि उन्होंने ‘‘ट्रिगर खींचने की आवाज सुनी थी.’’ उन्होंने कहा कि सुरक्षा र्किमयों के संदिग्ध को पकड़ने तक उन्हें एहसास नहीं हुआ था कि वह किसी हथियार की आवाज है. राष्ट्रपति अल्बर्टो फर्नांडीज ने इसे 1983 में ‘‘देश में लोकतंत्र बहाल होने के बाद की अभी तक की सबसे गंभीर घटना बताया.’’ घटना ऐसे समय में हुई है, जब उपराष्ट्रपति के खिलाफ उनके 2007-2015 के राष्ट्रपति कार्यकाल के दौरान भ्रष्टाचार के कथित कृत्यों के संबंध में मुकदमे चल रहे हैं.

स्थानीय टेलीविजन चैनल पर प्रसारित घटनास्थल के वीडियो में फर्नांडीज अपने घर के बाहर समर्थकों से घिरे अपने वाहन से बाहर निकलती दिख रहीं है और तभी एक व्यक्ति ‘‘पिस्तौल’’ जैसी दिखने वाली कोई एक वस्तु लिए नजर आ रहा है. हालांकि, उपराष्ट्रपति वहां से निकलने में कामयाब रहीं.

वीडियो में मौके पर मौजूद उपराष्ट्रपति के समर्थक भी स्तब्ध नजर आ रहे हैं. सोशल मीडिया पर प्रसारित असत्यापित वीडियो में हथियार फर्नांडीज के चेहरे को लगभग छूता नजर आ रहा है. एक अधिकारी ने बताया कि हमलावर की पहचान ब्राजील के नागरिक फर्नांडो आंद्रे सबाग मोंटिएल के तौर पर हुई है. उसका कोई आपराधिक रिकॉर्ड नहीं है. उसके पास .32-कैलिबर बर्सा पिस्तौल थी.

राष्ट्रपति ने उपराष्ट्रपति के साथ एकजुटता व्यक्त करने और लोगों को इस घटना से उबरने का समय देने के लिए शुक्रवार को छुट्टी की घोषणा की है. गौरतलब है कि एक अभियोजक ने पिछले सप्ताह सार्वजनिक कार्यों में कथित भ्रष्टाचार से जुड़े मामले में फर्नांडीज को 12 साल की सजा देने की मांग की थी, जिसके बाद से उपराष्ट्रपति के समर्थक उनके साथ एकजुटता दिखाने के लिए उनके घर के आसपास सड़कों पर जमा होते रहे हैं.

सरकार के अधिकारियों ने इस घटना को हत्या का प्रयास बताया है. वित्त मंत्री र्सिजयो मास्सा ने कहा, ‘‘ जब विचारों पर नफरत व ंिहसा थोपी जाती है, तो समाज बर्बाद हो जाते हैं और आज जैसी स्थिति उत्पन्न होती है. यह हत्या का प्रयास है.’’ राष्ट्रपति अल्बर्टो फर्नांडीज की सरकार में मंत्रियों ने एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा कि वे उपराष्ट्रपति की ‘‘हत्या के प्रयास की कड़ी ंिनदा करते हैं.’’ विज्ञप्ति में कहा गया, ‘‘आज रात जो हुआ वह अत्यधिक गंभीर घटना है और लोकतंत्र, संस्थाओं व कानून के शासन के लिए खतरा है.’’

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button

Happy Navratri 2022


Happy Navratri 2022

This will close in 10 seconds