कांग्रेस व गहलोत सरकार पिछड़ा विरोधी: शाह

जयपुर. केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने राजस्थान में सत्तारूढ़ कांग्रेस एवं उसकी सरकार को पिछड़ा विरोधी करार देते हुये मंगलवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पिछड़ा वर्ग को आगे बढ़ाने का काम किया है. शाह किशनगढ़ बास में चुनावी सभा को संबोधित कर रहे थे.

उन्होंने कहा, ”यह कांग्रेस पार्टी…और गहलोत सरकार भी पिछड़ा वर्ग की विरोधी सरकार है. इतने साल तक मंडल आयोग की रिपोर्ट का विरोध कांग्रेस पार्टी ने किया और इतने साल तक कांग्रेस पार्टी ने पिछड़ा वर्ग आयोग को संवैधानिक मान्यता नहीं दी.” शाह ने आगे कहा, ‘… मोदी जी ने पिछड़ा वर्ग आयोग को संवैधानिक मान्यता दी. केन्द्र की सारी शिक्षा व्यवस्था में नरेन्द्र मोदी सरकार ने सभी जगहों पर पिछड़ा वर्ग को 27 प्रतिशत आरक्षण देने का काम किया. आज नरेन्द्र मोदी सरकार में 27 प्रतिशत मंत्री पिछड़ा वर्ग के हैं और मोदी जी ने पिछड़ा वर्ग को आगे बढ़ाने का काम किया है.’ शाह ने आरोप लगाया कि गहलोत सरकार वोट बैंक के लालच में तुष्टिकरण करने का काम कर रही है.

कथित ‘लाल डायरी’ का जिक्र करते हुए शाह ने कहा,’लाल डायरी इनके भ्रष्टाचार के सारे कारनामे हैं.’ शाह ने कहा कि जो सरकार भ्रष्टाचार में लिप्त हो वो सरकार आपका भला नहीं कर सकती. उन्होंने पेपरलीक प्रकरण को लेकर भी राज्य सरकार पर निशाना साधा और कहा कि भाजपा की सरकार आने पर भ्रष्टाचारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी. शाह ने आरोप लगाया कि राज्य में तुष्टिकरण चरम सीमा पर है. राज्य में विधानसभा चुनाव के लिए 25 नवंबर को मतदान होगा जबकि वोटों की गिनती तीन दिसंबर को होगी.

Related Articles

Back to top button