विश्व कप फाइनल के लिए मुझे आमंत्रित ही नहीं किया गया: कपिल देव

अहमदाबाद. भारत के पूर्व कप्तान कपिल देव ने रविवार को दावा किया कि उन्हें मेजबान टीम और आस्ट्रेलिया के बीच यहां विश्व कप फाइनल के लिए आमंत्रित ही नहीं किया गया. भारत को 1983 में पहला वनडे विश्व कप खिताब दिलाने वाले कपिल ने कहा कि वह अपने साथी खिलाड़ियों के साथ मैच के लिए जाना चाहते थे.

कपिल ने ‘एबीपी न्यूज’ से कहा, ”मुझे वहां आमंत्रित ही नहीं किया गया. उन्होंने मुझे बुलाया नहीं इसलिये मैं नहीं गया. यह इतना ही सरल है. मैं चाहता था कि 1983 की पूरी टीम वहां मेरे साथ हो लेकिन मुझे लगता है कि यह इतना बड़ा टूर्नामेंट है और लोग जिम्मेदारियां संभालने में इतने व्यस्त हैं कि कभी कभार वे भूल जाते हैं. ” नरेंद्र मोदी स्टेडियम में भारत के पूर्व कप्तानों में सौरव गांगुली मौजूद थे जिन्हें भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) के पूर्व अध्यक्ष के तौर पर आमंत्रित किया गया था. वैसे बीसीसीआई का नियम है कि वह पूर्व अध्यक्ष और अधिकारियों को आमंत्रित करता है.

मैच देखने के लिए बालीवुड की बड़ी हस्तियां जैसे शाहरूख खान, दीपिका पादुकोण और रणवीर सिंह मौजूद थे. महान बैडमिंटन खिलाड़ी प्रकाश पादुकोण भी स्टैंड में उपस्थित थे. कांग्रेस के नेता जयराम रमेश ने इस पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा, ”यह पूरी तरह से अस्वीकार्य है कि क्रिकेट संस्था ने कपिल देव को अहमदाबाद में विश्व कप फाइनल के लिए आमंत्रित नहीं किया. बेदी की तरह ही कपिल देव भी अपनी बात बेबाकी से रखने के लिए जाने जाते हैं और कुछ महीने पहले उन्होंने प्रदर्शन करने वाली महिला पहलवानों का खुलकर समर्थन किया था. ”

Back to top button