क्या अमित शाह पुजारी हैं कि उन्होंने राम मंदिर बनकर तैयार होने की तारीख की घोषणा कर दी: खरगे

पानीपत. कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे ने अयोध्या में राम मंदिर निर्माण का काम अगले साल एक जनवरी तक पूरा होने की गृह मंत्री अमित शाह की घोषणा को लेकर उन पर निशाना साधते हुए शुक्रवार को सवाल किया कि क्या शाह राम मंदिर के पुजारी हैं जो वह ऐसी घोषणा कर रहे हैं.

उन्होंने यह भी कहा कि ऐसी घोषणा साधु-संतों को करनी चाहिए और गृह मंत्री के तौर पर शाह का जो कर्तव्य है उन्हें उस पर ध्यान देना चाहिए. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने चुनावी राज्य त्रिपुरा में बृहस्पतिवार को एक रैली में कहा था कि अगले साल एक जनवरी तक अयोध्या में भव्य राम मंदिर बन कर तैयार हो जायेगा .

राहुल गांधी पर हमला बोलते हुये शाह ने कहा था, ‘‘राहुल बाबा सुनिये, एक जनवरी 2024 तक भव्य राम मंदिर बन कर तैयार हो जायेगा.’’ हाल ही में राम जन्मभूमि मंदिर के मुख्य पुजारी आचार्य सत्येंद्र दास और श्री रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के सचिव चंपत राय ने भी राहुल गांधी की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ की सराहना की थी.

कांग्रेस की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ के तहत आयोजित यहां एक जनसभा को संबोधित करते हुए खरगे ने यह आरोप लगाया कि भाजपा द्वारा लालच देकर और जांच एजेंसियों का दुरुपयोग करके चुनी हुई सरकारों को अस्थिर किया जा रहा है. उन्होंने यात्रा का उल्लेख करते हुए कहा, ‘‘राहुल गांधी का धैर्य और साहस देखकर सबको अचंभा हुआ है. हम तो राहुल गांधी जी को दिल्ली में देखते थे, एसी के कमरे में देखते थे, गाड़ी में देखते थे, लेकिन ये राहुल अलग निकले, जिन्होंने कन्याकुमारी से लेकर पानीपत तक अपनी पदयात्रा पूरी की है…मैं इसके लिए उन्हें बधाई देता हूं.’’

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, ‘‘राहुल गांधी जी की लड़ाई महंगाई के खिलाफ, बेरोजगारी के खिलाफ है. वह युवाओं के लिए रास्ते पर आकर लड़ रहे हैं.’’ उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘मोदी जी जबसे प्रधानमंत्री बने हैं, अमित शाह जबसे गृह मंत्री बने हैं तबसे सिर्फ चुनाव के चक्कर में पड़े रहते हैं…वे दूसरे राजनीतिक दलों में तोड़फोड़ करते हैं. ईडी और दूसरी एजेंसियों का दुरुपयोग करते हैं.’’ खरगे ने दावा किया, ‘‘भाजपा ने कुछ राज्यों में कांग्रेस के लोगों को पैसे का लाचल देकर या फिर ईडी का डर दिखाकर अपने साथ लिया और सरकारें गिराई.’’

उन्होंने कटाक्ष किया, ‘‘ये लोग चुनी हुई सरकारें गिराते हैं और फिर कहते हैं कि ये लोग लोकतंत्र में विश्वास करते हैं.’’ खरगे ने कहा, ‘‘शायद ही किसी प्रधानमंत्री और गृह मंत्री ने इतना झूठ बोला हो. ये झूठों के सरदार हैं. इन्होंने कहा कि हम दो करोड़ युवाओं को नौकरी देंगे. क्या नौकरी दी? 15-15 लाख रुपये देने का वादा किया था. क्या 15 लाख रुपये मिले?’’

उन्होंने गृह मंत्री के बयान का उल्लेख करते हुए कहा, ‘‘सब लोग भगवान में आस्था रखते हैं. लेकिन आप क्यों घोषणा करते हैं? मई (2024) में चुनाव हैं तो कहते हैं कि जनवरी में राम मंदिर का उद्घाटन होगा. क्या आप राम मंदिर के पुजारी हैं, क्या महंत हैं? साधु संतों को बोलने दीजिए. आपका काम देश की सुरक्षा करना, लोगों की सुरक्षा करना, लोगों का पेट भरना और किसानों को उचित दाम देना है.’’ कांग्रेस अध्यक्ष ने दावा किया कि शाह और भाजपा के लोग चुनावी वादों को चुनाव के बाद जुमला करार देते हैं.

उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘इनके मुख में राम, बगल में छुरी है. ये छुरी लेकर घूम रहे हैं, समाज को बांट रहे हैं, जाति, जाति और धर्म, धर्म के बीच झगड़ा लगा रहे हैं.’’ उन्होंने कहा, ‘‘इसीलिए राहुल गांधी यह पदयात्रा निकाल रहे हैं. यह यात्रा वोटों के लिए नहीं है, ये देशहित के लिए है.’’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button