चंद्रयान-3 को लेकर इसरो के अनौपचारिक संदेशों ने लोगों का दिल जीता

बेंगलुरु. चंद्रयान-3 जब चंद्रमा के करीब पहुंच रहा है तो भारतीय अन्तरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के आधिकारिक सोशल मीडिया हैंडल से लाखों लोगों को आर्किषत करने के लिए तकनीकी शब्दावली से परे दिलचस्प शब्दों का इस्तेमाल किया जा रहा है. इसरो के सोशल मीडिया हैंडल पर सामान्य तौर पर भारत के महत्वाकांक्षी चंद्रयान-3 के बारे में जानकारी देने के लिए तकनीकी शब्दों का इस्तेमाल किया जाता है, लेकिन इस बार ‘वेलकम बडी’ (स्वागत है दोस्त) और ‘थैंक्स फॉर द राइड, मेट’ (सवारी के लिए शुक्रिया साथी) जैसे अनौपचारिक वाक्यांश प्रयोग किये गये हैं.

चंद्रयान-3 मिशन के लैंडर ने सोमवार को जब इसके पूर्ववर्ती चंद्रयान-2 मिशन की ऑर्बिटर के साथ संपर्क स्थापित किया तो इसरो के सोशल मीडिया पर डाली गईं पोस्ट ने प्रशंसकों का दिल जीत लिया. चंद्रयान-2 के ऑर्बिटर द्वारा चंद्रयान-3 के लैंडर मॉड्यूल के स्वागत करने के रूप में ‘वेलकम बडी’ लिखा गया. इसके साथ एक पोस्ट में लिखा गया कि दोनों के बीच संवाद स्थापित हो गया है. इसे ‘एक्स’ पर 34 लाख से अधिक लोगों ने पढ़ा.

इससे पहले 17 अगस्त को जब लैंडर मॉड्यूल सफलतापूर्वक अपने प्रणोदन मॉड्यूल से अलग हुआ था तब इसरो ने ‘एक्स’ पर लिखा, ”थैंक्स फॉर द राइड, मेट”. इसके साथ हाथ हिलाने का एक इमोजी भी था. इसरो चंद्रयान-3 की यात्रा के बारे में लोगों को जानकारी देने वाले पोस्ट लगातार डाल रहा है. चंद्रमा के दक्षिण ध्रुव पर बुधवार शाम 6 बजकर 4 मिनट पर लैंडर विक्रम और रोवर प्रज्ञान के उतरने के पूर्व निर्धारित कार्यक्रम से पहले इसरो ने सोशल मीडिया पोस्ट में रोचक अंदाज में यह संदेश दिया कि यह मॉड्यूल सुगमता से आगे बढ़ रहा है.

Related Articles

Back to top button