पटना में विपक्ष की बैठक में भाग लेने वाले नेता घोटालों में संलिप्त : अमित शाह

मुंगेर. केंद्रीय गृह मंत्री और भाजपा के वरिष्ठ नेता अमित शाह ने पटना में 23 जून की बैठक में शामिल हुए विपक्षी नेताओं पर 20 लाख करोड़ रुपये से अधिक के घोटालों में शामिल होने का बृहस्पतिवार को आरोप लगाया. बैठक आयोजित करने वाले बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर निशाना साधते हुए शाह ने कहा कि राज्य के लोग 2024 के लोकसभा चुनाव में “भ्रष्ट नेताओं को करारा जवाब” देंगे.

केंद्रीय गृह मंत्री मुंगेर संसदीय क्षेत्र के लखीसराय में भारतीय जनता पार्टी द्वारा आयोजित एक रैली को संबोधित कर रहे थे. उन्होंने दावा किया कि राहुल गांधी को एक जन नेता के रूप में पेश करने की कांग्रेस की सभी कोशिशें ”विफल” हो गई हैं. शाह ने कहा, “बिहार ने हमेशा भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज उठाई है. 23 जून को पटना की बैठक में शामिल हुए विपक्षी नेता 20 लाख करोड़ रुपये से अधिक के घोटालों में शामिल हैं…बिहार 2024 के लोकसभा चुनाव में भ्रष्ट नेताओं को करारा जवाब देगा.” पिछले हफ्ते पटना में विपक्षी नेताओं की बैठक के बाद केंद्रीय गृह मंत्री पहली बार बिहार पहुंचे हैं. इससे पहले शाह ने तीन माह पूर्व राज्य का दौरा किया था.

पिछले साल राज्य में ‘महागठबंधन’ सरकार बनाने के लिए भाजपा का साथ छोड़ने वाले कुमार के संदर्भ में शाह ने कहा कि राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) को धोखा देने वाले नेताओं को “दंडित” किया जाना चाहिए. शाह ने मुख्यमंत्री की उपलब्धियों पर भी सवाल उठाया और पूछा, “नीतीश बाबू को बताना चाहिए कि उन्होंने बिहार के लिए क्या किया?”

शाह ने आरोप लगाया, ”पलटू बाबू नीतीश कुमार पूछ रहे थे कि भाजपा ने पिछले नौ वर्षों में (केंद्र में एनडीए सरकार के) क्या किया है…प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने देश के समग्र विकास के लिए बहुत कुछ किया है…नीतीश हमेशा अपने गठबंधन सहयोगियों को बदलते हैं और (राजद प्रमुख) लालू जी को गुमराह कर रहे हैं. वह भरोसेमंद नहीं है.” केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा, ”कांग्रेस पिछले 20 वर्षों से राहुल गांधी को ‘लॉन्च’ करने की कोशिश कर रही है. लेकिन वे असफल रहे… मतदाताओं को मोदी जी पर पूरा भरोसा है.” उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि राज्य में ‘महागठबंधन’ (जदयू, राजद और कांग्रेस गठबंधन) सरकार के तहत कानून-व्यवस्था की स्थिति दिन-ब-दिन खराब होती जा रही है.

दूसरी ओर, शाह ने दावा किया कि केंद्र में राजग शासन के नौ वर्ष के दौरान राज्य को मेडिकल कॉलेज, एक्सप्रेस-वे, पुल, नई रेलवे लाइन, 130 मेगावाट ताप बिजली संयंत्र सहित कई प्रमुख बुनियादी ढांचा परियोजनाएं मिली हैं. इससे पहले दिन में, पार्टी की राज्य इकाई के अध्यक्ष सम्राट चौधरी सहित वरिष्ठ भाजपा नेताओं और बिहार के केंद्रीय मंत्रियों ने यहां हवाई अड्डे पर शाह का स्वागत किया. रैली को संबोधित करने के लिए शाह हेलीकॉप्टर से लखीसराय पहुंचे. मुंगेर लोकसभा क्षेत्र वर्तमान में कुमार की पार्टी जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजीव रंजन सिंह उर्फ ‘ललन’ के पास है.

Related Articles

Back to top button