नहीं मिला कोई बम, मॉस्को से आ रहे विमान ने 15 घंटे बाद जामनगर से गोवा के लिए उड़ान भरी

जामनगर/पणजी. गुजरात के जामनगर हवाई अड्डे पर बम होने की सूचना पर आपात स्थिति में उतरने वाली ‘अज़ूर एयर’ की मॉस्को से गोवा की उड़ान में कुछ भी संदिग्ध नहीं मिला जिसके बाद विमान मंगलवार दोपहर गोवा पहुंचा. अधिकारियों ने बताया कि विमान में बम होने की धमकी मिलने के बाद उसे सोमवार रात गुजरात के जामनगर हवाई अड्डे पर आपात स्थिति में उतारा गया था. इसके बाद राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड (एनएसजी) और स्थानीय पुलिस के दलों ने विमान की तलाशी ली, जिसमें कुछ भी संदिग्ध बरामद नहीं हुआ.

जामनगर हवाई अड्डे पर 15 घंटे तक रुकने के बाद विमान ने आज दोपहर एक बजकर 20 मिनट पर गोवा हवाई अड्डे के लिए उड़ान भरी. हवाई अड्डे के एक वरिष्ठ अधिकारी ने ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया कि विमान अपराह्न दो बजकर 39 मिनट पर गोवा के डाबोलिम हवाई अड्डे पर उतरा.

अधिकारियों ने बताया कि विमान में 236 यात्री और चालक दल के आठ सदस्य सवार थे. विमान में बम होने की धमकी मिलने के बाद सोमवार रात नौ बजकर 49 मिनट पर आपात स्थिति में उसे जामनगर हवाई अड्डे पर उतारा गया. उन्होंने कहा कि सभी यात्रियों और चालक दल के सदस्यों को सुरक्षित बाहर निकाला गया और सघन जांच में कुछ भी संदिग्ध नहीं मिला. चालक दल के सदस्यों व यात्रियों ने हवाईअड्डे के प्रतीक्षालय में रात गुजारी.

जामनगर के पुलिस अधीक्षक प्रेमसुख डेलू ने ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया कि स्थानीय पुलिस के साथ मिलकर अहमदाबाद और दिल्ली के एनएसजी के दलों ने यात्रियों के सामान समेत विमान की तलाशी ली, जो मंगलवार को सुबह पूरी हुई. विमान में कुछ भी संदिग्ध बरामद नहीं हुआ है.

डेलू ने बताया कि स्थानीय पुलिस के बम निरोधक दस्ते ने सोमवार रात विमान की तलाशी शुरू की. बाद में आधी रात को अहमदाबाद से एक एनएसजी दल पहुंचा और दिल्ली से एनएसजी का एक और दल तड़के करीब तीन बजे हवाई अड्डे पर पहुंचा. जामनगर के जिलाधिकारी सौरभ पारधी ने ‘पीटीआई-भाषा’ से कहा, ‘‘ जामनगर वायुसेना अड्डे ने हमें बम की धमकी के बारे में सूचित किया था. शायद यह धमकी गोवा एटीसी (एयर ट्रैफिक कंट्रोल) को मिली थी. तलाशी पूरी कर ली गई है और कुछ भी संदिग्ध नहीं मिला है.’’ इस बीच, डाबोलिम हवाई अड्डे पर उतरने के बाद, कुछ रूसी यात्रियों ने बताया कि शुरू में उन्हें पता नहीं था कि उन्हें जामनगर में विमान से नीचे क्यों उतारा गया. यात्रियों ने कहा कि हवाई अड्डे पर उनकी ठीक से देखभाल की गई जहां उन्होंने लगभग 15 घंटे बिताए.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button