वानखेड़े में ‘रोहित…रोहित’ के नारे, पंड्या की फिर से हुई हूटिंग

मुंबई. राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ आईपीएल मैच में सोमवार को यहां जब हार्दिक पंड्या टॉस के लिए उतरे तो प्रशंसकों ने मुंबई इंडियंस के कप्तान की जमकर हूटिंग की और वानखेड़े स्टेडियम पर ‘रोहित…रोहित’ के नारे गूंजते रहे. टूर्नामेंट से पहले 29 वर्षीय पंड्या को रोहित की जगह मुंबई इंडियंस का कप्तान बनाया गया. हैदराबाद और अहमदाबाद में टीम के पिछले दो मैचों में भी पंड्या की हूटिंग हुई थी. टॉस से पहले जब पंड्या वार्म अप के लिए मैदान का चक्कर लगा रहे थे तो दर्शकों के एक वर्ग ने उनकी हूटिंग की.

जब टॉस के समय उनके नाम की घोषणा की गई तो भी इस तेजतर्रार ऑलराउंडर की फिर से हूटिंग की गई जिसके जवाब में पंड्या केवल मुस्कुराए क्योंकि मुंबई के पूर्व कप्तान रोहित के समर्थन में जोर-जोर नारे लग रहे थे. टॉस हारने के बाद जब पंड्या ने बोलना शुरू किया तो भी हूटिंग जारी रही जिसके बाद प्रस्तोता संजय मांजरेकर को दर्शकों सही बर्ताव करने के लिए कहना पड़ा.

ठीक उसी समय रोहित अपनी ट्रेनिंग किट में अपने पूर्व साथी हरभजन सिंह से मिल रहे थे जो मैच से पहले शो करने वाले कमेंटेटरों में से एक के रूप में मैदान पर थे. इसके बाद जब पंड्या चौथे ओवर में टीम के 20 रन पर चार विकेट गंवाने के बाद मैदान पर उतरे तो उन्हें फिर हूटिंग शिकार होना पड़ा, खासकर सचिन तेंदुलकर स्टैंड से. इसके अतिरिक्त यहां के अधिकारियों के अनुसार मुंबई पुलिस को दिए गए चुनाव आयोग के निर्देश के कारण उनके बैनर जब्त करने के बाद ही प्रशंसकों को स्टेडियम के अंदर जाने की अनुमति दी गई.

हालांकि इसमें गलत संवाद और गलत व्याख्या का भी एक तत्व था क्योंकि निर्देश राजनीतिक बैनरों को अनुमति नहीं देने के बारे में था लेकिन प्रशंसकों ने सोशल मीडिया पर सभी बैनरों को जब्त किये जाने की शिकायत की. फिर भी कुछ प्रशंसक ऐसे थे जो अपने बैनर अंदर ले जाने में सक्षम थे.

Related Articles

Back to top button