मतदान, चक्रवात के बाद के राहत कार्य के चलते ‘इंडिया’ की बैठक में शामिल नहीं हो सकूंगी: ममता

'इंडिया' गठबंधन की एक जून को हो सकती है बैठक, टीएमसी नहीं होगी शामिल

नयी दिल्ली/कोलकाता. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख ममता बनर्जी ने सोमवार को कहा कि लोकसभा चुनाव के आखिरी चरण के मतदान और चक्रवात के बाद चलाए जा रहे राहत कार्यों के कारण वह एक जून को होने वाली ‘इंडिया’ गठबंधन की बैठक में शामिल नहीं हो सकेंगी. सूत्रों के मुताबिक, कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे ने आखिरी दौर के मतदान वाले दिन एक जून को दोपहर के समय ‘इंडिया’ गठबंधन के घटक दलों के नेताओं की बैठक बुलाई है. कोलकाता में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए ममता बनर्जी ने उस दिन राज्य में मतदान के कारण ‘इंडिया’ गठबंधन की बैठक में भाग लेने में असमर्थता का उल्लेख किया.

उन्होंने कहा, ” ‘इंडिया’ गठबंधन की बैठक एक जून को निर्धारित है. लेकिन मैंने पहले ही कहा है कि एक जून को नहीं जा सकती क्योंकि उस दिन हमारे राज्य में चुनाव है. अब तक मेरे पास यही जानकारी है कि पंजाब, उत्तर प्रदेश और बिहार में चुनाव है, मतदान शाम 6 बजे तक जारी रहेगा और कभी-कभी यह उससे (शाम 6 बजे) आगे तक बढ़ जाता है.” बनर्जी ने राहत प्रयासों के प्रति अपनी प्राथमिकता पर जोर दिया तथा चक्रवात के बाद के राहत कार्यों और चल रहे चुनावों की दोहरी चुनौतियों का भी उल्लेख किया.
उनका कहना था, ”मैं सब कुछ छोड़कर कैसे जा सकती हूं? मेरी प्राथमिकता राहत कार्य है. अगर मैं यहां इस जनसभा में शामिल हूं तो भी मेरी संवेदना उन लोगों (चक्रवात से प्रभावित) के साथ है.”

टीएमसी जनवरी में पश्चिम बंगाल में ‘इंडिया’ गठबंधन से इतर अलग चुनाव लड़ने का फैसला किया था, हालांकि उसका यह भी कहना रहा है कि वह राष्ट्रीय स्तर पर इस विपक्षी गठबंधन का हिस्सा है. टीएमसी के सूत्रों ने कहा कि बैठक वाले दिन पश्चिम बंगाल में नौ सीट पर मतदान होगा, जिनमें कोलकाता की दो सीट – कोलकाता दक्षिण और कोलकाता उत्तर शामिल हैं, जो पार्टी के लिए महत्वपूर्ण हैं. राज्य में उस दिन जिन अन्य निर्वाचन क्षेत्रों में मतदान होना है, उनमें यादवपुर, दमदम, बारासात, बशीरहाट, जयनगर, मथुरापुर और डायमंड हार्बर शामिल हैं.

पार्टी से जुड़े एक सूत्र ने बताया कि टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी, पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव अभिषेक बनर्जी और अन्य शीर्ष नेता उस दिन मतदान करेंगे और इसलिए बैठक में शामिल नहीं हो पाएंगे. सूत्र ने इस बात का उल्लेख किया कि पार्टी अब तक विपक्षी गठबंधन की सभी बैठकों में शामिल हुई है. सूत्र के अनुसार, टीएमसी ने बैठक के आयोजकों को शामिल होने में असमर्थता के बारे में जानकारी दे दी है.

‘इंडिया’ गठबंधन की पहली बैठक पिछले साल 23 जून को पटना में हुई थी, उसके बाद 17-18 जुलाई, 2023 को बेंगलुरु में और फिर 31 अगस्त से 1 सितंबर के बीच मुंबई में बैठक हुई. विपक्षी गठबंधन की चौथी बैठक 19 दिसंबर को दिल्ली में हुई. इसके बाद अरविंद केजरीवाल और हेमंत सोरेन की गिरफ्तारी के विरोध में दिल्ली में आयोजित ‘लोकतंत्र बचाओ’ रैली में 31 मार्च को विपक्षी नेता शामिल हुए थे. टीएमसी इन सभी बैठकों और जनसभाओं का हिस्सा रही है. दिल्ली में 31 मार्च की रैली में टीएमसी के नेता डेरेक ओब्रायन ने घोषणा की थी कि वे ‘इंडिया’ ब्लॉक का हिस्सा बने रहेंगे.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button