महिला ने अस्पताल की टॉयलेट सीट पर दिया बच्चे को जन्म, नवजात की मौत

सोनभद्र. उत्तर प्रदेश के सोनभद्र जिले में बुधवार को एक सरकारी अस्पताल में कथित रूप से चिकित्सक की अनुपस्थिति का हवाला देकर इलाज से इंकार किए जाने के बाद एक महिला ने बाथरूम की टॉयलेट सीट में बच्चे को जन्म दे दिया, जिससे इस घटना में नवजात की मौत हो गई. सूत्रों ने इसकी जानकारी दी.

सूत्रों के मुताबिक गोठानी गांव के रहने वाले जग नायक सिंह ने प्रसव पीड़ा से गुजर रही अपनी पत्नी रश्मि को आज सुबह सरकारी मातृ एवं शिशु अस्पताल में ले गये जहां यह घटना हुई. सिंह ने ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया, ”मैंने अस्पताल के कर्मचारियों से अपनी पत्नी को भर्ती करने का अनुरोध किया लेकिन उन्होंने कुछ भी करने से इनकार कर दिया और हमें चिकित्सकों के आने तक इंतजार करने को कहा.”

सिंह ने कहा, ”मेरी पत्नी दर्द से परेशान होकर बाथरूम में गई, जहां उसने बच्चे को जन्म दिया. बच्चा टॉयलेट सीट में गिर गया जिससे उसकी मौत हो गयी.” स्थानीय लोगों के अनुसार, परिवार के सदस्यों के साथ अस्पताल के कर्मचारियों ने बच्चे को बचाने की कोशिश की लेकिन जब तक बच्चे को बाहर निकाला गया तब तक बहुत देर हो चुकी थी. इसके बाद रश्मि को लेबर रूम में भर्ती कराया गया जहां उसकी हालत नाजुक बताई जा रही है.

हालांकि मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) अश्विनी कुमार ने आरोपों से इनकार किया और कहा, ”महिला को एक महिला डॉक्टर ने देखा था, जिसने उसे बताया कि बच्चे की धड़कन का पता नहीं चल रहा है. स्थिति स्पष्ट करने के लिए महिला को अल्ट्रासाउंड का इंतजार करने के लिए कहा गया था.” हालांकि उन्होंने पुष्टि की कि महिला ने बाथरूम के अंदर बच्चे को जन्म दिया है. सीएमओ ने कहा, “मृतक के परिजनों की सहमति से मामले की जांच के लिए तीन डॉक्टरों का एक पैनल गठित किया गया है. घटना में दोषी पाए जाने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी.”

Related Articles

Back to top button