अमेरिका ने शिनजियांग में मानवाधिकारों के उल्लंघन पर चीन को लगाई फटकार

वाशिंगटन. अमेरिका ने चीन के शिनजियांग प्रांत और तिब्बत सहित अन्य क्षेत्रों में अल्पसंख्यक समुदायों के मानवाधिकारों के लगातार उल्लंघन के लिए बींिजग की कड़ी आलोचना की है. उसने अपने भागीदारों और अंतरराष्ट्रीय समुदाय के साथ मिलकर बींिजग को अपने ही लोगों के खिलाफ किए जा रहे घृणित कार्यों और उनके मानवाधिकारों के उल्लंघन के लिए जवाबदेह ठहराए जाने की प्रतिबद्धता भी जतायी.

व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव कैरेन ज्यां-पियरे ने बृहस्पतिवार को अपने दैनिक संवाददाता सम्मेलन के दौरान शिनजियांग में मानवाधिकारों की स्थिति को लेकर संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार उच्चायुक्त की रिपोर्ट का स्वागत किया, जो बुधवार रात जारी की गई थी.

ज्यां-पियरे ने कहा, ‘‘रिपोर्ट चीन में हो रहे नरसंहार और मानवता के खिलाफ अपराधों को लेकर हमारी ंिचताओं को और बढ़ाती है. शिनजियांग में अत्याचारों पर हमारी स्थिति हमारी कथनी और कार्यों से स्पष्ट रूप से दिखाई देती है.’’ उन्होंने कहा, ‘‘अमेरिका इस रिपोर्ट का स्वागत करता है, इस अहम रिपोर्ट का, जो चीन सरकार द्वारा उइगर और अन्य अल्पसंख्यक समुदायों के साथ किए गए घृणित मानवाधिकार व्यवहार का आधिकारिक रूप से वर्णन करती है.’’

इस रिपोर्ट में कहा गया है कि चीन के शिनजियांग में उइगर समुदाय के लोगों और अन्य को जबरन नजरबंद रखना मानवता के खिलाफ अपराध के दायरे में आ सकता है. ज्यां-पियरे ने कहा कि बाइडन प्रशासन ने ठोस कदम उठाए हैं और राष्ट्रपति ने जी7 सहित सहयोगी देशों और भागीदारों को यह सुनिश्चित करने के लिए लामबंद किया है कि शिनजियांग सहित सभी स्थान जबरन श्रम से मुक्त हों.

उन्होंने कहा, ‘‘हम चीन को जवाबदेह ठहराने के लिए भागीदारों और अंतरराष्ट्रीय समुदाय के साथ मिलकर काम करना जारी रखेंगे. हम चीन से शिनजियांग, तिब्बत और पूरे चीन में इन अत्याचारों को तुरंत बंद करने, अन्यायपूर्ण तरीके से नजरबंद किए गए लोगों को रिहा करने, लापता लोगों का पता बताने और स्वतंत्र जांचकर्ताओं को बिना किसी बाधा के शिनजियांग तक पहुंचने देने का आ’’ान करेंगे.’’

अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ंिब्लकन ने एक बयान जारी कर कहा कि संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार उच्चायोग कार्यालय द्वारा 31 अगस्त को जारी रिपोर्ट शिनजियांग में होने वाले मानवाधिकारों के उल्लंघन और दुर्व्यवहारों का खतरनाक विवरण बयां करती है.
उन्होंने कहा, ‘‘यह रिपोर्ट वहां जारी नरसंहार और मानवता के खिलाफ अपराधों के बारे में हमारी गंभीर ंिचता को और बढ़ाती है तथा पुष्टि करती है कि चीन सरकार के अधिकारी उइगरों के खिलाफ अपराध कर रहे हैं, जो मुख्य रूप से मुस्लिम हैं और शिनजियांग में अन्य जातीय एवं धार्मिक अल्पसंख्यक समूहों के सदस्य हैं.’’

उधर, चीनी विदेश मंत्रालय ने संयुक्त राष्ट्र की निवर्तमान मानवाधिकार प्रमुख मिशेल बैशलेट द्वारा जारी बहुप्रतीक्षित रिपोर्ट की आलोचना की है. बैशलेट ने बींिजग के साथ एक लंबे राजनयिक संघर्ष के बाद ंिशजियांग का दौरा किया था. चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता वांग वेनबिन ने एक संवाददाता सम्मेलन में आरोप लगाया, ‘‘तथाकथित आकलन अमेरिका और कुछ अन्य पश्चिमी ताकतों द्वारा सुनियोजित और निर्मित किया गया है. यह पूरी तरह से अवैध और बेमानी है.’’

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button