अमेरिका के ‘म्यूजिक डिप्लोमैसी 2024’ कार्यक्रम की शुरुआत भारत से

वांिशगटन: अमेरिका ने अपने वार्षिक ‘म्यूजिक डिप्लोमैसी 2024’ की शुरुआत भारत से की और मशहूर जाज़ संगीतकार हर्बी हैनकॉक तथा डायने रीव्स नयी दिल्ली और मुंबई में प्रस्तुतियां दे रहे हैं। विदेश विभाग ने शुक्रवार को एक आधिकारिक घोषणा में कहा कि अमेरिका के दो दिग्गज जाज़ संगीतकार ‘ग्लोबल म्यूजिक डिप्लोमैसी इनीशिएटिव’ के तहत 14-24 जनवरी तक भारत में हैं।

इसके साथ ही डॉ. मार्टिन लूथर ंिकग जूनियर की विरासत की स्मृति में भारत में अमेरिकी मिशन ने हर्बी हैनकॉक, डायने रीव्स और ‘हर्बी हैनकॉक इंस्टीट्यूट आॅफ जाज़ परफॉर्मेंस‘ को नयी दिल्ली तथा मुंबई में शिक्षा कार्यक्रमों में प्रस्तुति देने तथा भाग लेने के लिए आमंत्रित किया है। इसका उद्देश्य अमेरिका और भारत के लोगों के बीच शांति को बढ़ावा देना तथा संबंधों को मजबूत बनाना है।

भारत में अमेरिका के राजदूत एरिक गार्सेटी ने नयी दिल्ली में यूसीएलए समूह के साथ प्रस्तुति दी। वह कॉन्सर्ट पियानोवादक भी हैं। मुंबई में हैनकॉक और रीव्स के साथ भारतीय कलाकार सितारवादक पूर्बायन चटर्जी और तबलावादक स्वरूपा अनंत-सावकर भी प्रस्तुति देंगे।

विदेश मंत्री एंटनी ंिब्लकन ने सितंबर 2023 में ‘ग्लोबल म्यूजिक डिप्लोमैसी इनीशिएटिव’ की शुरुआत की थी जिसका उद्देश्य संगीत के जरिए शांति और सीमा पार सांस्कृतिक संबंधों को बढ़ावा देना और शिक्षा, आर्थिक अवसर, समानता और सामाजिक समावेशन तक पहुंच बढ़ाने के लिए व्यापक अमेरिकी विदेश नीति के लक्ष्यों में सहयोग देना है।

Related Articles

Back to top button