भाजपा ‘बेटी बचाओ’ का नारा देती है, लेकिन उसकी हरकतें बेटियों को रुलाने वाली हैं : कांग्रेस

महिला उत्पीड़न मामले पर प्रधानमंत्री के वाराणसी कार्यालय का घेराव करेगी कांग्रेस : राय

नयी दिल्ली/शाहजहांपुर. काशी हिंदू विश्वविद्यालय (बीएचयू) में एक छात्रा के साथ सामूहिक बलात्कार में भाजपा के स्थानीय नेताओं की कथित संलिप्तता को लेकर कांग्रेस ने सोमवार को भाजपा पर निशाना साधते हुये कहा कि सत्ताधारी दल का नारा तो ‘बेटी बचाओ’ का है, लेकिन काम ‘बेटी रुलाओ’ का है. महिला कांग्रेस की प्रमुख नेटा डिसूजा ने कहा कि एक तरफ भाजपा कहती है ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ और दूसरी तरफ सच्चाई यह है कि वह महिलाओं के लिए ‘बलात्कारी जनता पार्टी’ बन गई है.

उत्तर प्रदेश में आईआईटी-बीएचयू परिसर के अंदर एक छात्रा के साथ कथित तौर पर सामूहिक बलात्कार किये जाने के दो महीने बाद, पुलिस ने रविवार को तीन लोगों को गिरफ्तार किया था और विपक्षी दलों ने आरोप लगाया है कि वे तीनों भाजपा के पदाधिकारी हैं.
तीनों आरोपियों ने अपने फेसबुक पेज पर भाजपा के आईटी सेल का सदस्य होने का दावा किया था. कांग्रेस मुख्यालय में संवाददाता सम्मेलन के दौरान डिसूजा ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी समेत भाजपा के वरिष्ठ नेताओं के साथ आरोपियों की तस्वीर साझा करते हुये प्रधानमंत्री से इस मुद्दे पर अपनी ‘चुप्पी’ तोड़ने का आग्रह किया.

कांग्रेस नेता ने कहा, ”दो महीने पहले, काशी हिंदू विश्वविद्यालय में एक छात्रा के साथ सामूहिक बलात्कार किया गया था. इस घटना के सीसीटीवी फुटेज में तीनों आरोपी साफ नजर आ रहे थे. उनके नाम कुणाल पांडे, अभिषेक चौहान और सक्षम पटेल हैं, ये सभी भाजपा आईटी सेल के पदाधिकारी हैं.” उन्होंने कहा, ”एक तरफ भाजपा कहती है ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’, और दूसरी तरफ सच्चाई यह है कि भाजपा महिलाओं के लिए ‘बलात्कारी जनता पार्टी’ बन गई है. उनका नारा बेटी बचाओ का है, और काम बेटी रुलाओ का है.”

उन्होंने कहा, ”आपके (प्रधानमंत्री मोदी) अपने संसदीय क्षेत्र में एक छात्रा के साथ सामूहिक बलात्कार किया गया है और आरोपी भाजपा आईटी सेल के सदस्य निकले. उन्हें गिरफ्तार करने में 60 दिन लग गए, क्योंकि ये बलात्कारी मध्य प्रदेश चुनाव में भाजपा के लिए प्रचार कर रहे थे.” कांग्रेस नेता ने दावा किया कि अगर इस घटना को बीएचयू के छात्रों ने नहीं उठाया होता, तो कई अन्य मामलों की तरह इसे भी दबा दिया गया होता .

उत्तर प्रदेश की कांग्रेस नेता डॉली शर्मा भी संवाददाता सम्मेलन में मौजूद थीं और उन्होंने भी मामले में भारतीय जनता पार्टी पर जमकर निशाना साधा. उन्होंने कहा, ”गृह मंत्री अमित शाह कहा करते थे कि उत्तर प्रदेश में दूरबीन से ढूंढने पर भी अपराधी नहीं मिलेंगे. दूरबीन की कोई जरूरत नहीं है, क्योंकि अपराधी आपके बगल में बैठे हैं.” शर्मा ने कहा कि उत्तर प्रदेश में इन अपराधियों के घरों पर बुलडोजर चलते नहीं देखा गया. विपक्षी दलों ने राज्य में कानून-व्यवस्था की स्थिति को लेकर योगी आदित्यनाथ सरकार पर निशाना साधा है और आरोप लगाया है कि मामले में गिरफ्तार किए गए लोगों का सत्तारूढ़ भाजपा से संबंध है.

महिला उत्पीड़न मामले पर प्रधानमंत्री के वाराणसी कार्यालय का घेराव करेगी कांग्रेस : राय

काशी हिंदू विश्वविद्यालय में एक छात्रा से कथित बलात्कार और उसका वीडियो बनाने के आरोप में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के आईटी प्रकोष्ठ के तीन पदाधिकारियों की गिरफ्तारी के बाद उत्तर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय राय ने सोमवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में हो रही इन घटनाओं के विरोध में पार्टी कार्यकर्ता मंगलवार को मोदी के बनारस स्थित कार्यालय का घेराव करेंगे.

राय ने यहां प्रेस वार्ता में यह भी पूछा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री बताएं कि वाराणसी में गिरफ्तार तीनों भाजपा पदाधिकारियों के घरों पर बुलडोजर कब चलाया जाएगा? प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने आरोप लगाया, ”प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में महिलाओं और बच्चों के साथ बलात्कार किया जा रहा है.” उन्होंने कहा कि इन घटनाओं को उजागर करने के लिए ह्लबनारस की हमारी जिला तथा महानगर इकाई प्रधानमंत्री के वाराणसी कार्यालय का मंगलवार को घेराव करेगी.

साथ ही प्रधानमंत्री से मांग करेगी कि वह अपने संसदीय क्षेत्र में हुई इस घटना के लिये देश से माफी मांगें.” उन्होंने आरोप लगाया कि वाराणसी में भाजपा के आईटी प्रकोष्ठ के संयोजक कुणाल पांडे, प्रकोष्ठ कार्य समिति के सदस्य अभिषेक चौहान और सह संयोजक सक्षम पांडे को मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए भेज दिया गया था ताकि उन्हें गिरफ्तार नहीं किया जा सके.

राय ने दावा किया कि अगर चुनाव से पहले उनकी गिरफ्तारी हो जाती तो पूरे देश में संदेश जाता कि भाजपा के ये ‘तीनों पदाधिकारी बलात्कारी हैं.’ राय ने आरोप लगाया, ”भाजपा बलात्कारियों की पार्टी है. इसमें कुलदीप सेंगर तथा स्वामी चिन्मयानंद जैसे बलात्कारी नेता हैं. भाजपा बलात्कारियों को बचाने का काम कर रही है.” प्रदेश में महिलाओं और बच्चियों का लगातार उत्पीड़न किये जाने का आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा कि हाल में गोरखपुर के गगहा बाजार स्थित एक इंटर कॉलेज की छात्राओं के साथ कथित रूप से छेड़छाड़ की घटना हुई तथा कॉलेज के प्राचार्य द्वारा इसकी शिकायत किये जाने के बावजूद पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की.

वाराणसी के लंका थाना इलाके में स्थित काशी हिंदू विश्वविद्यालय (बीएचयू) की आईआईटी की एक छात्रा के साथ कथित रूप से दुष्कर्म और वीडियो बनाये जाने के मामले में तीन आरोपियों को पुलिस ने रविवार को गिरफ्तार किया है. पकड़े गये तीनों आरोपियों की पहचान ब्रिज इनक्लेव निवासी कुणाल पांडेय, जिवधीपुर बजरडीहा निवासी आनंद उर्फ अभिषेक चौहान व सक्षम पटेल के रुप में हुई है.
छात्रा ने दो नवम्बर 2023 को लंका थाने में तहरीर देकर आरोप लगाया था कि एक नवम्बर की देर रात वह अपने आईआईटी छात्रावास से निकली थी तभी कर्मन बाबा के मंदिर के पास एक मोटरसाइकिल पर सवार तीन लोगों ने उसे और साथ जा रहे उसके मित्र को रोक लिया.

छात्रा का आरोप है कि बदमाश उसका मुंह दबा कर उसे कोने में ले गए और उसे निर्वस्त्र कर वीडियो बनाया और फोटो खींचे. बाद में पीड़िता ने अपने साथ दुष्कर्म का आरोप भी लगाया था. इस मामले में पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था. बाद में मामले में सामूहिक बलात्कार की धारा भी जोड़ी गई. राय ने अयोध्या जाने के सवाल पर कहा, ”भगवान राम हमारे आराध्य हैं. हम सभी लोग अयोध्या जाएंगे और सभी को जाना भी चाहिए. हमें निमंत्रण का इंतजार नहीं है. हम भगवान राम की अनुमति लेकर अयोध्या जाएंगे.”

Related Articles

Back to top button