अगर आप मुझे एक बार मारेंगे तो मुझसे कई बार मार खाने के लिए तैयार रहें : कंगना रनौत

शिमला. मंडी लोकसभा सीट से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की उम्मीदवार अभिनेत्री कंगना रनौत का कहना है कि वह लड़ाई-झगड़े नहीं करतीं, लेकिन अगर कोई उन्हें एक बार मारता है तो उसे उनसे कई बार मार खाने के लिए तैयार रहना चाहिए. राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार से सम्मानित कंगना ने मंडी लोकसभा सीट के लिए मंगलवार को अपना नामांकन पत्र दाखिल किया. इस संसदीय क्षेत्र में एक जून को मतदान होगा.

कंगना ने ‘पीटीआई वीडियो’ को दिए एक साक्षात्कार में कहा कि उनकी जीत उनके जीवन का ”सबसे बड़ा महत्वपूर्ण मोड़” होगी.
मंडी सीट से अपने प्रतिद्वंद्वी और कांग्रेस के उम्मीदवार विक्रमादित्य सिंह की टिप्पणियों का जिक्र करते हुए कंगना ने कहा कि चुनाव मुद्दों पर लड़ा जाना चाहिए लेकिन अगर वह अपमानजनक शब्दों का इस्तेमाल करते हैं तो उन्हें उसी तरह की भाषा सुनने के लिए तैयार रहना चाहिए.

उन्होंने कहा ”मेरे पिछले रिकॉर्ड को देखें, मैं किसी को भी चुनौती दे सकती हूं. यह बात मायने नहीं रखती कि मैंने कितनी लड़ाइयां लड़ीं लेकिन हमेशा सबसे पहले मुझे निशाना बनाया जाता रहा है.” कंगना ने कहा, ”मैं लड़ाई-झगड़े नहीं करती, लेकिन अगर मुझ पर हमला होता है, तो मैं उनमें से नहीं हूं जो इसे चुपचाप सह ले. अगर आप मुझे एक बार मारते हैं, तो मुझसे कई बार मार खाने के लिए तैयार भी रहें.” भाजपा द्वारा मंडी से उम्मीदवार घोषित किए जाने के बाद से ही कंगना और कांग्रेस नेताओं के बीच जुबानी जंग जारी है.

उनके खिलाफ कुछ ”अपमानजनक” टिप्पणियां सोशल मीडिया मंच ‘एक्स’ पर कांग्रेस प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत के हैंडल से पोस्ट की गईं थीं. सुप्रिया ने बाद में इन टिप्पणियों को यह दावा करते हुए हटा दिया कि वे उनके द्वारा नहीं, बल्कि किसी और के द्वारा पोस्ट की गई थीं, जिनके पास उनके खातों तक पहुंच थी.

कंगना ने राहुल गांधी और विक्रमादित्य सिंह को ”बड़ा पप्पू और छोटा पप्पू” तथा विक्रमादित्य को ”एक नंबर का झूठा और पलटू बाज” कहा था जिसके बाद वह कांग्रेस नेताओं के निशाने पर आ गई थीं. रामपुर बुशहर शाही परिवार के वंशज विक्रमादित्य सिंह राज्य सरकार में मंत्री हैं और हिमाचल प्रदेश कांग्रेस प्रमुख प्रतिभा सिंह तथा पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के बेटे हैं.

गोमांस के सेवन पर कंगना के एक पुराने साक्षात्कार का जिक्र करते हुए, सिंह ने कथित तौर पर कहा था, ”मैं भगवान राम से प्रार्थना करता हूं कि वह उन्हें सद्बुद्धि दें और आशा है कि वह देवभूमि हिमाचल प्रदेश से शुद्ध होकर बॉलीवुड वापस जाएंगी क्योंकि वह चुनाव तो नहीं जीत पाएंगी. ऐसा इसलिए है क्योंकि वह हिमाचल प्रदेश के लोगों के बारे में कुछ नहीं जानतीं.” कंगना ने अपनी कुल्लू टोपी के बारे में पूछे जाने पर कहा कि इस पर सजाया गया पारंपरिक आभूषण ”जोत” शुभ अवसर पर पहना जाता है. उन्होंने कहा, ”मुझे लगा कि आज इसे पहनने का सही समय है.” उन्होंने दावा किया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के लिए जनता के समर्थन की लहर है और यह अभूतपूर्व है कि एक नेता जो तीसरे कार्यकाल में प्रधानमंत्री बनने जा रहा है, वह इतना लोकप्रिय है.

Related Articles

Back to top button