भारत ने थाईलैंड को 74 रन से हराया, फाइनल में श्रीलंका से भिड़ेगा

सिलहट. भारत ने थाईलैंड को 74 रन से हराकर रिकॉर्ड आठवीं बार एशिया कप महिला क्रिकेट टूर्नामेंट के फाइनल में प्रवेश किया जहां उसका सामना श्रीलंका से होगा. भारतीय टीम छह बार खिताब जीत चुकी है . 2012 से पहले टूर्नामेंट एक दिवसीय प्रारूप में होता था और भारत चार चार बार वनडे और टी20 प्रारूप में फाइनल में पहुंचा है .

थाईलैंड के खिलाफ सेमीफाइनल अपेक्षा के अनुरूप एकतरफा ही रहा . भारत ने पहले बल्लेबाजी के लिये भेजे जाने पर छह विकेट खोकर 148 रन बनाये और जवाब में थाईलैंड को नौ विकेट पर 74 रन पर रोक दिया. थाईलैंड ने नियमित अंतराल पर विकेट गंवाये . इससे पहले लीग चरण में भारत के खिलाफ थाईलैंड का प्रदर्शन इससे खराब था जिसमें उसे नौ विकेट से हार मिली थी. भारत ने उसे 15 . 1 ओवर में 37 रन पर आउट कर दिया था और उसके बाद आसानी से लक्ष्य हासिल कर लिया.

भारत शनिवार को होने वाले फाइनल में श्रीलंका का सामना करेगा जिसने दूसरे सेमीफाइनल में पाकिस्तान पर एक रन से रोमांचक जीत दर्ज की. इस मैच में थाईलैंड की खिलाड़ियों ने बेहतर प्रदर्शन किया . उसके चार विकेट हालांकि आठवें ओवर में 21 रन पर गिर गए थे . भारत के लिये आफ स्पिनर दीप्ति शर्मा ने सात रन देकर तीन विकेट लिये . मध्यम तेज गेंदबाज रेणुका सिंह ने छह रन देकर एक विकेट लिया .

थाईलैंड के लिये कप्तान एन चाइवाइ और नत्ताया बूचाथम ने 21 . 21 रन बनाये . दोनों ने पांचवें विकेट के लिये 42 रन जोड़े और ये दोनों ही दोहरे अंक तक पहुंच सकीं. राजेश्वरी गायकवाड़ ने दो जबकि शेफाली वर्मा और स्रेह राणा ने एक एक विकेट लिया. इससे पहले बल्लेबाजी करते हुए शेफाली ने 28 गेंद में 42 रन बनाये जिसमें पांच चौके और एक छक्का शामिल था . जेमिमा रौड्रिग्ज ने 27 रन की पारी खेली . चोट के कारण पिछले दो मैचों से बाहर रही कप्तान हरमनप्रीत कौर ने 30 गेंद में 36 रन बनाये . पूजा वस्त्राकर ने 13 गेंद में 17 रन बनाकर भारत को 150 रन के करीब पहुंचाया.

Related Articles

Back to top button