गिरफ्तारी के बाद से केजरीवाल का 4.5 किग्रा वजन घटा, भाजपा उनकी सेहत को खतरे में डाल रही: आतिशी

नयी दिल्ली. आम आदमी पार्टी (आप) की वरिष्ठ नेता आतिशी ने बुधवार को दावा किया कि 21 मार्च को गिरफ्तार किए जाने के बाद से दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का वजन तेजी से घट रहा है. आतिशी ने साथ ही भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर केजरीवाल को जेल में रखकर उनके स्वास्थ्य को खतरे में डालने का आरोप लगाया. आतिशी ने कहा कि पार्टी मुख्यमंत्री की सेहत के संबंध में कानूनी मदद लेगी.

वहीं, तिहाड़ जेल प्रशासन ने केजरीवाल की सेहत के संबंध में आतिशी के दावों को खारिज किया है. केजरीवाल 15 अप्रैल तक तिहाड़ जेल में न्यायिक हिरासत में हैं. तिहाड़ जेल के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि केजरीवाल की हालत सामान्य है. तिहाड़ जेल प्रशासन ने एक बयान जारी कर कहा, ” एक अप्रैल को लाए जाने के बाद दो चिकित्सकों ने केजरीवाल की जांच की और सभी मानक सामान्य पाए गए. जेल में आने से आज तक उनका वजन 65 किलोग्राम बना हुआ है. अदालत के आदेश के अनुसार उन्हें घर का बना भोजन मुहैया कराया जा रहा है.” केजरीवाल को प्रवर्तन निदेशालय ने आबकारी नीति से जुड़े धनशोधन के मामले में गिरफ्तार किया है. उन्हें 15 अप्रैल तक न्यायिक हिरासत में भेजा गया है.

आतिशी ने सोशल मीडिया मंच ‘एक्स’ पर एक पोस्ट में कहा, ”अरविंद केजरीवाल को मधुमेह है. सेहत से जुड़ी समस्याओं के बावजूद वह 24 घंटे देश की सेवा में लगे हैं. गिरफ्तारी के बाद से केजरीवाल का वजन 4.5 किलोग्राम कम हुआ है. यह चिंताजनक है. भाजपा उन्हें जेल में डालकर उसकी सेहत से खिलवाड़ कर रही है.” आतिशी ने कहा कि अगर अरविंद केजरीवाल को कुछ हो गया तो न केवल पूरा देश बल्कि भगवान भी ‘उन्हें’ माफ नहीं करेंगे.

बाद में दिल्ली की मंत्री ने संवाददाता सम्मेलन में कहा, ” आज दिल्ली उच्च न्यायालय ईडी द्वारा उनकी गिरफ्तारी को चुनौती देने वाली एक याचिका पर सुनवाई करेगा. उस पर उच्च न्यायालय के निर्णय के बाद हम उनकी सेहत को लेकर कानूनी मदद पर विचार करेंगे. ” आतिशी ने आरोप लगाया कि केजरीवाल को ”झूठे मामले” में सलाखों के पीछे डाला गया है और वे लोग केजरीवाल की सेहत पर करीब से नजर रख रहे हैं.

उन्होंने कहा,” पूरा देश देख रहा है. मधुमेह के गंभीर मरीजों में यदि रक्त में शर्करा का स्तर 50 मिलीग्राम प्रति डेसीलीटर से गिर जाता है तो यह काफी चिंताजनक है. जब वह ईडी की हिरासत में थे, उनके रक्त में शर्करा का स्तर तीन बार गिरा और एक बार तो यह 46 मिलीग्राम प्रति डेसीलीटर तक पहुंच गया था.” आतिशी ने दावा किया कि पिछले 12 दिनों में केजरीवाल का वजन 4.5 किलोग्राम कम हो गया है, जो स्वास्थ्य के लिए खतरनाक है.

आम आदमी पार्टी के विधायक दिलीप पांडे ने संवाददाताओं से बातचीत में आतिशी के दावे को दोहराया और कहा कि यह रिकार्ड में है कि केजरीवाल का वजन 69.5 किलोग्राम से घटकर 65 किलोग्राम हो गया है. पांडे ने कहा,” वह मधुमेह के गंभीर मरीज हैं. मधुमेह केवल एक मर्ज नहीं है. इससे अन्य कई गंभीर बीमारियां हो सकती हैं. पिछले 12 दिन में उनका वजन 69.5 किलोग्राम से घटकर 65 किलोग्राम हो गया है. यह रिकार्ड में है. हम चाहते हैं कि उनकी सेहत को लेकर कोई गैरजिम्मेदाराना बर्ताव नहीं हो.”

केजरीवाल की सेहत के बारे में किए जा रहे दावों को तिहाड़ प्रशासन द्वारा नकारे जाने पर पांडे ने कहा, ” वह कई दिन से तिहाड़ जेल में हैं. उन्हें जब से ईडी ने गिरफ्तार किया था, हम तब से बात कर रहे हैं. ईडी की हिरासत में उनके रक्त में शर्करा का स्तर गिर गया था, जो सेहत के लिए गंभीर खतरा था.” अधिकारियों ने बताया कि दिल्ली के मुख्यमंत्री को तिहाड़ जेल में घर का बना खाना खाने की अनुमति दी गई है. मंगलवार को सुबह केजरीवाल के रक्त में शर्करा का स्तर गिर गया था. शर्करा का स्तर बढ़ने-घटने के कारण वह तिहाड़ जेल के चिकित्सकों की निगरानी में हैं.

Related Articles

Back to top button