नागल एटीपी रैंकिंग में 77वें स्थान पर, पेरिस ओलंपिक में भारत का प्रतिनिधित्व करने को तैयार

नयी दिल्ली. भारतीय टेनिस खिलाड़ी सुमित नागल सोमवार को जारी एटीपी रैंकिंग में 18 पायदान की छलांग से 77वें स्थान पर पहुंच गये हैं जिससे उनका पेरिस ओलंपिक पुरुष एकल ड्रा में स्थान लगभग पक्का हो गया है. नागल के 713 एटीपी अंक हैं. नागल ने रविवार को जर्मनी में हीलब्रॉन नेकरकप 2024 चैलेंजर टूर्नामेंट में पुरुष एकल खिताब अपने नाम किया जिसकी बदौलत उन्होंने रैंकिंग में इतनी ऊंची छलांग लगायी.

नागल ने रविवार को फाइनल में तीन सेट तक चले रोमांचक मुकाबले में स्विट्जरलैंड के एलेक्जैंडर रिट्सचार्ड को दो घंटे 22 मिनट में 6-1 6(5)-7 6-3 से मात दी. सोमवार को जारी रैंकिंग से ही पेरिस ओलंपिक के लिए प्रविष्टियों पर फैसला होगा. पेरिस ओलंपिक क्वालीफिकेशन मानदंड के अनुसार पुरुष और महिला दोनों ही वर्ग में शीर्ष 56 खिलाड़ी ओलंपिक के लिए स्वत? क्वालीफाई कर लेंगे. लेकिन प्रत्येक देश से अधिकतम चार खिलाड़ी ही ओलंपिक के लिए क्वालीफाई कर सकेंगे और इस नियम से निचली रैंकिंग वाले खिलाड़ियों को ड्रॉ में प्रवेश का मौका मिलेगा.

नागल ड्रॉ में अंतिम उपलब्ध रैंकिंग स्थान हासिल करने की अच्छी स्थिति में हैं. भारत के लिए अंतिम बार ओलंपिक के मुख्य ड्रा में जगह बनाने वाले खिलाड़ी सोमदेव देववर्मन थे जिन्होंने वाइल्डकार्ड की बदौलत 2012 ओलंपिक में ऐसा किया था. नागल ने फाइनल में जीत के बाद ‘एक्स’ पर पोस्ट किया, ”हीलब्रॉन में इस हफ्ते खिातब जीतकर काफी खुश हूं. यह मेरे लिए महत्वपूर्ण हफ्ता था और मुझे गर्व है कि जब सबसे ज्यादा मायने रखता था, तब मैं अपना सर्वश्रेष्ठ टेनिस खेलने में सफल रहा. ”

उन्होंने कहा, ”अगर मैं इस तरह के मैच जीत जाता हूं तो मैं खुद पर गर्व कर सकता हूं क्योंकि मुकाबला चुनौतीपूर्ण था. पहला लक्ष्य तो अच्छा टेनिस खेलना है, रैंकिंग का स्थान इसके बाद आता है. ” यह 26 साल का खिलाड़ी इस तरह पेरिस में पुरुष एकल स्पर्धा में क्वालीफाई करने वाल पहला भारतीय होगा. अंतरराष्ट्रीय टेनिस महासंघ (आईटीएफ) 12 जून तक राष्ट्रीय महासंघों को क्वालीफाई करने वाले खिलाड़ियों के बारे में सूचित करेगा जिसके बाद राष्ट्रीय ओलंपिक समितियां 19 जून तक अपनी प्रविष्टियों की पुष्टि करेंगी.

नागल का यह छठा एटीपी चैलेंजर खिताब था. इस साल के शुरू में घरेलू मैदान पर चेन्नई ओपन ट्राफी जीतने के बाद यह साल की उनकी दूसरी ट्राफी थी. नागल इस समय एकल खिलाड़ियों में सर्वश्रेष्ठ रैंकिंग वाले भारतीय हैं. उन्होंने 2023 के बाद चार एटीपी चैलेंजर खिताब जीते हैं और हीलब्रॉन में यह जीत क्लेकोर्ट पर उनका चौथा खिताब है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button