कुर्सी के लालची लोग नीतीश के खाने में मिला रहे नशीला पदार्थ : जीतन राम मांझी

पटना. हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा (हम) के प्रमुख जीतन राम मांझी ने शुक्रवार को आरोप लगाया कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को परोसे जाने वाले भोजन में उनकी ‘कुर्सी के लालची लोगों’ द्वारा ‘जहरीला पदार्थ’ मिलाया जा रहा है. पूर्व मुख्यमंत्री मांझी ने विधानसभा परिसर के बाहर संवाददाताओं से बातचीत के दौरान यह आरोप लगाया. इससे एक दिन पहले ही मांझी के पूर्व राजनीतिक गुरु नीतीश कुमार ने उन्हें फटकार लगाई थी.

मांझी ने संवाददाताओं से कहा, ”कुछ दिन पहले नीतीश कुमार ने अभद्र भाषा का इस्तेमाल किया था, जिसके कारण उन्हें विधानमंडल के दोनों सदनों में माफी मांगनी पड़ी थी. कल उन्होंने फिर खुद पर नियंत्रण खो दिया और मुझसे अपमानजनक तरीके से बात की, यह भूल गए कि मैं उम्र और राजनीतिक अनुभव में उनसे वरिष्ठ हूं. यह उनका मानसिक स्वास्थ्य खराब होने का संकेत है.” इस दौरान मांझी के साथ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सदस्य मौजूद थे.

हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा के प्रमुख मांझी ने यह भी बताया कि वह बिहार में मौजूदा ‘गंभीर राजनीतिक स्थिति’ से राज्यपाल राजेंद्र अर्लेकर को अवगत कराने के लिए शनिवार को उनसे मुलाकात करेंगे. मांझी ने इस बारे में विस्तृत जानकारी देने से इनकार करते हुए कहा, ”मैं नीतीश कुमार को परोसे जाने वाले भोजन की उच्च-स्तरीय जांच कराने की भी मांग करता हूं. मुझे संदेह है कि उनके भोजन में ऐसे पदार्थ मिलाए जा रहे हैं, जो उन्हें पागल बना देंगे. उनके आस-पास कुछ ऐसे लोग हैं जो उनकी कुर्सी का लालच कर रहे हैं. ” बिहार विधानसभा में बृहस्पतिवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार अपने पूर्व सहयोगी जीतन राम मांझी पर जमकर बरसे और यह भी कहा कि उनकी ”मूर्खता” के कारण मांझी राज्य के मुख्यमंत्री बने थे.

Related Articles

Back to top button