मुसलमानों के खिलाफ हर मंच से नफरत भरे भाषण दे रहे हैं प्रधानमंत्री : विपक्ष

नयी दिल्ली. विपक्ष ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ”अल्पसंख्यकों के खिलाफ कभी एक शब्द भी नहीं बोलने” की टिप्पणी को लेकर सोमवार को उनकी आलोचना करते हुए कहा कि वह ”झूठ बोल रहे हैं” क्योंकि वह हर उपलब्ध मंच से मुसलमानों के खिलाफ ”नफरत भरे भाषण” दे रहे हैं. मोदी ने ‘पीटीआई-वीडियो’ को दिए साक्षात्कार में कहा है कि उन्होंने अल्पसंख्यकों के खिलाफ कभी एक शब्द भी नहीं बोला और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) केवल आज ही नहीं, बल्कि कभी भी अल्पसंख्यकों के खिलाफ नहीं रही है. हालांकि, प्रधानमंत्री ने यह भी कहा कि वह किसी को भी ”विशेष नागरिक” के तौर पर स्वीकार करने को तैयार नहीं हैं.

उनकी टिप्पणी पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (भाकपा) के महासचिव डी राजा ने कहा, ”यह पूरी तरह से झूठ है. मोदी जानते हैं कि वे (भाजपा) मुसलमानों के बारे में कैसी बात बोल रहे हैं. मंगलसूत्र, अधिक बच्चों को जन्म देने वाली माताओं के बारे में किसने बात की? मुसलमानों और अन्य अल्पसंख्यकों का अपमान किया गया है और उन्हें कई वाजिब अधिकारों से वंचित किया गया है.” राजा ने आरोप लगाया कि भाजपा-आरएसएस (राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ) अल्पसंख्यकों को कमजोर करने और उनका उपहास करने के मंसूबे को आगे बढ.ा रहे हैं.

राज्यसभा सदस्य कपिल सिब्बल ने कहा कि शिक्षा और स्वास्थ्य की कोई बात नहीं हो रही है जो हमें ‘विकसित भारत’ की ओर ले जाएगा, बल्कि मंगलसूत्र की चर्चा हो रही है. सिब्बल ने कहा, ”वे देश के विकास के बारे में नहीं, बल्कि अपनी पार्टी के विकास के बारे में सोचते हैं.” तृणमूल कांग्रेस की सांसद सागरिका घोष ने भी प्रधानमंत्री की टिप्पणी के लिए उनकी आलोचना की.

उन्होंने कहा, ”जब आप सोचते हैं कि वह अब और झूठ नहीं बोल सकते, तो वह एक और झूठ बोलते हैं… यह वह पार्टी है जिसने बिलकिस बानो के बलात्कारियों को माला पहनाई थी, यह वह पार्टी है जिसने मुस्लिम-पशु व्यापारी की पीट-पीटकर हत्या करने वालों को माला पहनाई थी. मोदी खुद ‘शमशान, कब्रिस्तान’ की बात करते हैं.” सागरिका ने दावा किया कि मोदी ने मुसलमानों के खिलाफ सबसे भयावह सांप्रदायिक भाषा का इस्तेमाल किया है, जैसे कि उन्होंने कहा कि कांग्रेस हिंदुओं की संपत्ति मुसलमानों को दे देगी.
उन्होंने कहा, ”वह लगातार हर उपलब्ध मंच से मुसलमानों के खिलाफ नफरत फैलाने वाले भाषण दे रहे हैं. भाजपा पदाधिकारियों और संघ परिवार के सदस्यों ने मुसलमानों पर हमले किये हैं और मुसलमानों को गाली देने वालों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई. यह पूरी तरह से मुस्लिम विरोधी पार्टी है.”

आम आदमी पार्टी (आप) के सांसद संजय सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री की टिप्पणियां हास्यास्पद हैं क्योंकि वह ”रोजाना नफरत की जुबान” में बात करते हैं. सिंह ने कहा, ”केवल हिंदू और मुस्लिम ही नहीं, वह हिंदुओं को भी आपस में लड़वाते हैं. पहले हिंदुओं को मुसलमानों से लड़वाते हैं, फिर हिंदुओं को सिखों से लड़वाते हैं, फिर ईसाइयों से लड़वाते हैं, फिर उन्हें बौद्धों से लड़वाते हैं, मराठों को गैर-मराठों से लड़वाते हैं, दलितों को पिछड़ों से लड़वाते हैं.” उन्होंने दावा किया कि भाजपा असल में ‘भारतीय झगड़ा पार्टी’ है और यही उनका काम है. द्रमुक प्रवक्ता टी के एस एलंगोवन ने भी प्रधानमंत्री पर निशाना साधते हुए कहा कि मोदी के साथ यही समस्या है कि उनका झूठ तुरंत उजागर होने लगता है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button