आस्कर या एमी, गुलबदिन नायब के मैच के दौरान मैदान पर गिरने पर मचा बवाल

किंग्सटाउन. बांग्लादेश के खिलाफ टी20 विश्व कप सुपर आठ चरण के आखिरी मैच में अफगानिस्तान के कोच जोनाथन ट्रॉट ने अपने खिलाड़ियों को धीमे खेलने का इशारा किया और फिर गुलबदिन नायब नाटकीय ढंग से कमर के बल गिर गए जिससे पूर्व क्रिकेटरों ने सवाल उठाया है कि क्या वह वाकई तकलीफ में थे .

स्लिप में फील्डिंग कर रहे नायब ने 12वें ओवर में ऐंठन की शिकायत की . इससे पहले ट्रॉट को अपने खिलाड़ियों को खेल की गति धीमी करने का इशारा करते कैमरे पर देखा गया था चूंकि बारिश के कारण खलल पड़ने पर डकवर्थ लुईस प्रणाली से उनकी टीम आगे चल रही थी .

मैच में कई बार बारिश के कारण बाधा पड़ी . उस समय बांग्लादेश की टीम सात विकेट पर 81 रन बना चुकी थी और 19 ओवर में 114 रन के संशोधित लक्ष्य का पीछा करते हुए डकवर्थ लुईस प्रणाली के तहत दो रन से पीछे थी . अफगानिस्तान ने आठ रन से जीत दर्ज करके पहली बार विश्व कप सेमीफाइनल में जगह बनाई .

साइमन डाउल ने कमेंट्री करते समय कहा ,” कोच संदेश दे रहे हैं कि धीमे हो जाओ और अचानक पहली स्लिप में खड़ा खिलाड़ी बिना वजह गिर जाता है . यह अस्वीकार्य है . ” जिम्बाब्वे के कमेंटेटर पॉमी एम्बांग्वा ने कहा ,” आस्कर या एमी .” नायब को उपचार दिया गया और तेज गेंदबाज नवीनुल हक उन्हें मैदान से बाहर ले गए . इसके बाद फिर बारिश शुरू हो गई और खिलाड़ी डगआउट में चले गए . थोड़ी देर बाद खेल बहाल हुआ .

नायब ने बाद में एक्स पर हंसती हुई इमोजी के साथ लिखा, ”कभी खुशी कभी गम में होता है. पैर की मांसेपेशियों में खिंचाव.” नायब भारतीय ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन को जवाब दे रहे थे. अश्विन ने एक्स पर लिखा ,” गुलबदिन नायब को रेडकार्ड .” नायब 13वें ओवर में मैदान पर लौट आये और 15वें ओवर में तंजीम हसन का विकेट भी लिया .

इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वॉन ने लिखा ,” क्रिकेट की भावना जीवित है . यह देखकर अच्छा लगा कि क्रिकेट के इतिहास में गुलबदिन पहले क्रिकेटर बन गए जिन्होंने गिरने के 25 मिनट बाद आकर विकेट भी लिये .” न्यूजीलैंड के पूर्व क्रिकेटर और कमेंटेटर इयान स्मिथ ने लिखा ,” पिछले छह महीने से मैं घुटनों के दर्द से परेशान हूं . अब मैच के बाद मैं सीधे गुलबदिन नायब के डॉक्टर के पास जाऊंगा . वह इस समय दुनिया का आठवां अजूबा है .”

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button