रूसी सेना ने मारियुपोल में एक थिएटर पर किया हमला, सैंकड़ों लोग फंसे

मारियुपोल. यूक्रेन के अधिकारियों ने कहा कि रूसी सेना ने मारियुपोल शहर में एक थिएटर को ध्वस्त कर दिया है, जहां सैकड़ों लोगों ने शरण ले रखी थी. अधिकारी वहां फंसे लोगों का पता लगाने का प्रयास कर रहे हैं. अभी यह पता नहीं चला है कि इस हमले में कितने लोग हताहत हुए हैं. इस बीच एक अधिकारी ने कहा कि कुछ लोग थिएटर पर हुए हमले में बचने में कामयाब रहे.

इस बीच रूस ने बृहस्पतिवार को एक और शहर में कई नागरिक इमारतों को नष्ट कर दिया. मारियुपोल सिटी काउंसिल ने बताया कि थिएटर पर बुधवार को हवाई हमला किया गया. सिटी काउंसिल ने एक तस्वीर जारी की है जिसमें दिख रहा है कि इमारत का एक हिस्सा तबाह हो गया है. इमारत के तहखाने में सैंकड़ों लोगों ने शरण ले रखी थी. उपग्रह से तस्वीर लेने वाली मैक्सार कंपनी ने कहा कि सोमवार को आयी तस्वीरों में दिखायी दिया कि इमारत के सामने और पीछे रूसी भाषा में बड़े सफेद अक्षरों में ‘‘बच्चे’’ शब्द लिखा हुआ था.

स्थानीय अधिकारियों ने बताया कि रूसी सैनिकों की घेराबंदी वाले मारियुपोल शहर से ज्यादा नुकसान कहीं नहीं हुआ हैं. उन्होंने बताया कि मिसाइल हमलों और गोलाबारी में 2,300 से अधिक लोगों की मौत हो गयी. 4,30,000 लोगों की आबादी वाले इस दक्षिणी बंदरगाह शहर में तकरीबन तीन हफ्तों से लड़ाई चल रही है, जिससे लोग भोजन, पानी, बिजली और दवाई के लिए तरस गए हैं.

इस बीच यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की ने जर्मन सांसदों को वीडियो कॉफ्रेंस के जरिए संबोधित किया और अपने देश के लिए अधिक मदद का आ’’ान किया. उन्होंने कहा कि लगभग एक महीने पहले शुरू हुए इस युद्ध में 108 बच्चों सहित हजारों लोगों की मौत हो चुकी है.

उन्होंने मारियुपोल की गंभीर स्थिति का भी जिक्र किया और कहा, “उनके लिए सब कुछ निशाने पर है.’’ उन्होंने कहा कि रूसी सेना ने एक थिएटर को भी ध्वस्त कर दिया जहां सैकड़ों लोगों ने शरण ले रखी थी. यूक्रेन के राष्ट्रपति द्वारा जर्मन संसद को संबोधन तकनीकी गड़बड़ी के कारण देर से शुरू हुआ. जेलेंस्की जहां से बोल रहे थे, वहां के पास हमले के कारण तकनीकी समस्या पैदा हुयी.

रूसी रक्षा मंत्रालय ने बुधवार को मारियुपोल में थिएटर या कहीं और भी बमबारी किए जाने से इनकार किया.
आपातकालीन सेवा के अधिकारियों के अनुसार कीव में रूसी रॉकेट के हमले से एक इमारत में आग लग गई जिससे एक व्यक्ति की मौत हो गई और कम से कम तीन अन्य घायल हो गए. दमकल र्किमयों ने 16 मंजिला इमारत की ऊपरी मंजिलों से 30 लोगों को निकाला और एक घंटे के भीतर आग पर काबू पा लिया.

यूक्रेन की सुरक्षा से अधिक अपनी अर्थव्यवस्था को तरजीह दे रहा जर्मनी :जेलेंस्की

बर्लिनयूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की ने जर्मनी पर आरोप लगाया है कि वह रूसी आक्रमण के बाद उसकी (यूक्रेन की) सुरक्षा से अधिक अपनी अर्थव्यवस्था को तरजीह दे रहा है. जर्मनी की संसद में बृहस्पतिवार को अपने संबोधन में जेलेंस्की ने रूस से प्राकृतिक गैस लाने को लेकर नोर्ड स्ट्रीम-2 पाइपलाइन के लिए जर्मन सरकार के समर्थन की आलोचना की. यूक्रेन और अन्य देशों ने इस परियोजना का विरोध करते हुए चेतावनी दी है कि इससे कीव और यूरोप की सुरक्षा को खतरा पैदा हो रहा.

जेलेंस्की ने यह भी कहा कि जर्मनी रूस पर कड़े प्रतिबंध लगाने से बच रहा है क्योंकि उसे आशंका है कि इससे उसकी अर्थव्यवस्था को नुकसान पहुंच सकता है. यूक्रेन के राष्ट्रपति ने यूरोप को विभाजित करने वाली नयी दीवार नहीं खड़ी करने की जर्मनी से अपील करते हुए अपने देश (यूक्रेन) के लिए उत्तर अटलांटिक संधि संगठन (नाटो) और यूरोपीय संघ की सदस्यता का समर्थन करने का अनुरोध किया.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button

Happy Navratri 2022


Happy Navratri 2022

This will close in 10 seconds