मेट्रो ट्रेन में केजरीवाल के विरूद्ध दीवार लेखन, आप ने भाजपा पर लगाया आरोप

केजरीवाल को निशाना बनाने वाले संदेश कई मेट्रो ट्रेन में लिखे मिले, पुलिस जांच में जुटी

नयी दिल्ली. आम आदमी पार्टी (आप) ने सोमवार को आरोप लगाया कि दिल्ली में मेट्रो ट्रेन के अंदर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के विरूद्ध जो दीवार लेखन किया गया है उसके पीछे भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) का हाथ है. पार्टी ने निर्वाचन आयोग से इस मुद्दे पर चर्चा करने और ज्ञापन देने के लिए के लिए ई-मेल भेजकर समय मांगा है. एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि उन्होंने इस मामले का संज्ञान लिया और इसकी जांच की जा रही है.

आप नेता आतिशी ने यहां संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि भाजपा इस बात से घबरा गई है कि वह दिल्ली की सभी सात लोकसभा सीट हारने वाली है, इसलिए वह ‘अलग-अलग तरह की साजिश’ रचकर केजरीवाल को निशाना बना रही है. आतिशी ने आरोप लगाया, ”उन्होंने मुख्यमंत्री केजरीवाल को 21 मार्च को गिरफ्तार कराया और फिर जब वह तिहाड़ जेल के अंदर बंद थे तो 15 दिनों तक उन्हें इंसुलिन नहीं दिया गया, जिसके बाद हमें अदालत का दरवाजा खटखटाना पड़ा. अब वह जेल से बाहर आ गए तो उन्हें निशाना बनाने के लिए स्वाति मालीवाल का इस्तेमाल किया गया, लेकिन भाजपा की यह साजिश भी सफल न हो सकी क्योंकि वीडियो से यह स्पष्ट हो गया कि आप की राज्यसभा सदस्य पर हमले के आरोप झूठे हैं.”

उन्होंने दावा किया, ”अब दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की जान को खतरा है.” आतिशी ने दावा किया कि एक व्यक्ति ने तीन मेट्रो स्टेशन राजीव चौक, पटेल चौक और पटेल नगर पर दीवार लेखन किया है जिसमें केजरीवाल को धमकी दी गयी है. उन्होंने आरोप लगाया, ”दीवार लेखन की तस्वीरें सोशल मीडिया पर भी अपलोड की गई हैं. इन तीनों मेट्रो स्टेशन पर सीसीटीवी कैमरे लगे हुए हैं और सुरक्षाकर्मी 24 घंटे तैनात रहते हैं. पुलिस इस पर कार्रवाई क्यों नहीं कर रही है? साइबर प्रकोष्ठ कहां है? इससे पता चलता है कि यह सब भाजपा द्वारा रचा जा रहा है.”

सोशल मीडिया पर आयी दीवार लेखन की तस्वीरों से पता चलता है कि केजरीवाल को धमकी देने वाले कई दीवार लेखन मेट्रो ट्रेनों के अंदर लिखे गए थे और उनमें से कम से कम दो पटेल नगर और राजीव चौक मेट्रो स्टेशनों पर स्टेशनों के नाम वाले ‘साइन बोर्ड’ पर लिखे गए थे. एक इंस्टाग्राम अकाउंट पर भी दीवार लेखन की कई तस्वीरें भी अपलोड की गई हैं. हालांकि अभी यह नहीं पता चल सका है कि इन दीवार लेखन की तस्वीरें पहली बार क्या इसी इंस्टाग्राम अकाउंट से साझा की गई थीं.

भाजपा की दिल्ली इकाई के अध्यक्ष वीरेन्द्र सचदेवा ने पुलिस और निर्वाचन आयोग से मुख्यमंत्री केजरीवाल की सुरक्षा को दोगुनी करने की अपील की है. इसी के साथ उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि उनकी पार्टी दिल्ली में 25 मई को होने वाले लोकसभा चुनाव से पहले जनता की सहानुभूति हासिल करने के लिए उन पर हमला करा सकती है. सचदेवा ने कहा कि आप मुख्यमंत्री आवास के अंदर राज्यसभा सदस्य स्वाति मालीवाल पर हुए हमले से ध्यान भटकाने की कोशिश कर रही है.

उन्होंने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, ”केजरीवाल से मेरा एक ही सवाल है कि वह अपने घर में मालीवाल के साथ हुई मारपीट की घटना पर कब अपनी चुप्पी तोड़ेंगे?” दिल्ली के कैबिनेट मंत्री सौरभ भारद्वाज ने एक संवाददाता सम्मेलन में बताया कि उन्होंने इस मुद्दे पर चर्चा करने के लिए निर्वाचन आयोग से समय मांगा है.

भारद्वाज ने कहा, ”अरविंद केजरीवाल को सरेआम धमकी दी गई है. आरोपी ने मेट्रो ट्रेन के कोचों के अंदर धमकी भरे संदेश लिखे हैं और उसने इन्हें सोशल मीडिया पर भी साझा किया है.” उन्होंने कहा, ”मेट्रो स्टेशन के अंदर सीसीटीवी कैमरे लगे हैं. चिंता की बात यह है कि मुख्यमंत्री को धमकी दी गई लेकिन दिल्ली पुलिस और मेट्रो की ओर से कोई कार्रवाई नहीं की गई. अगर हमारी पार्टी के खिलाफ कोई शिकायत की जाती है तो पुलिस नकारात्मक प्रचार करने लग जाती है. केजरीवाल पर पहले भी हमले हुए हैं लेकिन उन पर क्या कार्रवाई हुई, इसका कुछ पता नहीं है.”

सौरभ भारद्वाज ने आरोप लगाया, ”चूंकि मुख्यमंत्री की सुरक्षा केंद्र के अधीन आती है इसलिए यह स्पष्ट है कि पीएमओ (प्रधानमंत्री कार्यालय) केजरीवाल के पीछे पड़ा हुआ है.” आप नेता ने धमकियों के पीछे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का हाथ होने का आरोप लगाते हुए कहा, ‘अगर उन्हें कोई नुकसान होता है तो इसके लिए प्रधानमंत्री जिम्मेदार होंगे.” भारद्वाज ने पार्टी से संबंधित मामलों में दिल्ली पुलिस की भूमिका को भी संदिग्ध बताया.

दिल्ली के कैबिनेट मंत्री सौरभ भारद्वाज ने सवाल किया, ”हाल ही में दो कॉल पर पुलिस तुरंत हरकत में आई. लेकिन भित्तिचित्र की घटना के बाद क्या दिल्ली पुलिस ने केजरीवाल की सुरक्षा बढ़ा दी? क्या केजरीवाल को मामले से अवगत कराया गया? या फिर पुलिस ने इसकी जानकारी मीडिया को दी?” आप के राज्यसभा सदस्य संजय सिंह ने आरोप लगाया, ”प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) और भाजपा केजरीवाल पर बहुत बड़े हमले की योजना बना रहे हैं. जब से केजरीवाल जेल से बाहर आए हैं वे उन पर हमला करने के लिए बार-बार प्रयास कर रहे हैं.”

केजरीवाल को निशाना बनाने वाले संदेश कई मेट्रो ट्रेन में लिखे मिले, पुलिस जांच में जुटी

दिल्ली पुलिस ने कुछ मेट्रो ट्रेन के भीतर और स्टेशनों पर आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक एवं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के विरुद्ध दीवार लेखन को लेकर जांच शुरू कर दी है. एक अधिकारी ने सोमवार को यह जानकारी दी. पुलिस के एक अधिकारी के मुताबिक मेट्रो ट्रेन और स्टेशन के भीतर लिखे कुछ संदेशों की तस्वीर सोशल मीडिया मंच ‘इंस्टाग्राम’ पर एक खाते के जरिए साझा की गईं.

मेट्रो ट्रेन के भीतर एक दीवार लेखन में लिखा गया, ”केजरीवाल दिल्ली छोड़ दीजिए! कृपया! अन्यथा आप उन तीन थप्पड़ को याद कर लें जो आपको पूर्व के चुनाव में लगे थे. अब असली मुक्का/थप्पड़ जल्द लगेगा. झंडेवालान में आज की बैठक है.” एक अन्य लेखन में लिखा गया, ”दिल्ली के मुख्यमंत्री हमें छोड़कर चले जाएं, हमें अब मुफ्त चीजों की जरूरत नहीं है. मुख्यमंत्री आवास पर 45 करोड़ रुपये खर्च किये गये.” एक अन्य मेट्रो ट्रेन में दीवार लेखन के जरिए लिखे गए संदेश में कहा गया,”आपको सुझाव दिया जाता है कि निम्नलिखित बिंदुओं को पालन करें… जल बोर्ड पारदर्शी ऑडिट कराए और संबंधित व्यक्ति/नेताओं की जिम्मेदारी तय की जाए, शराब नीति पर अंतिम रूप से आपका क्या कहना है तथा आपकी पार्टी या आपके नेताओं इसमें कुल कितनी रिश्वत मिली और राघव चड्ढा के नेत्र का उपचार एम्स या सफदरजंग या आपकी पसंद के किसी भी भारतीय अस्पताल में कराएं. आपसे यह उम्मीद की जाती है.”

एक अन्य अधिकारी ने बताया कि इसी तरह के संदेश कम से कम तीन मेट्रो स्टेशनों- पटेल नगर, रमेश नगर और राजीव चौक, पर लिखे मिले हैं. उन्होंने बताया कि पुलिस ने इस पर संज्ञान लिया है और जांच शुरू कर दी है. उन्होंने बताया कि संबंधित मेट्रो पुलिस थाने में उचित धाराओं में मामला दर्ज किया जाएगा.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button