तेलंगाना में भाजपा नेता जितेंद्र रेड्डी के ट्वीट पर विवाद…

हैदराबाद: भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता एवं लोकसभा के पूर्व सदस्य ए. पी. जितेंद्र रेड्डी द्वारा ट्विटर पर पोस्ट किए एक वीडियो से विवाद खड़ा हो गया है। वीडियो में एक व्यक्ति ट्रक में चढ़ने के लिए ‘याक’ को लात मारते हुए दिख रहा है। नेता ने वीडियो साझा करते हुए लिखा कि पार्टी के तेलंगाना नेतृत्व को भी इसी तरह के व्यवहार की जरूरत है।

भाजपा के राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य ने बृहस्पतिवार को पार्टी के वरिष्ठ नेताओं अमित शाह, सुनील बंसल, बीएल संतोष और पार्टी मुख्यालय को ‘टैग’ करते हुए ट्वीट किया, ‘‘ भाजपा के तेलंगाना नेतृत्व को इसी व्यवहार की जरूरत है।’’ रेड्डी ने एक अन्य ट्वीट में अपनी बात का अर्थ समझाने की कोशिश करते हुए कहा कि वीडियो में यह दिखाने का प्रयास किया गया है कि तेलंगाना भाजपा प्रमुख बंदी संजय के नेतृत्व पर सवाल उठाने वालों के साथ किस तरह का व्यवहार किया जाना चाहिए लेकिन उनकी बात को गलत समझ लिया गया है।

तेलंगाना में पिछले कुछ दिन से भाजपा नेताओं द्वारा कथित तौर पर की गई कुछ टिप्पणियों (जिनमें रेड्डी का ट्वीट भी शामिल है) पर पार्टी ने आपत्ति जताते हुए कहा है, ‘‘ इस तरह की अनुशासनहीनता हमारी पार्टी में अस्वीकार्य है।’’ इसके अलावा मीडिया के एक वर्ग में ऐसी खबरें हैं कि वरिष्ठ नेता एटाला राजेंद्र और कोमाटिरेड्डी राज गोपाल राज्य नेतृत्व से खुश नहीं हैं।

भाजपा की तेलंगाना इकाई के मुख्य प्रवक्ता के. कृष्णा सागर राव ने एक बयान में कहा, ‘‘ मैं अपनी पार्टी के कुछ नेताओं द्वारा किए जा रहे अनुचित तथा हानिकारक ‘मीडिया लीक’ और सार्वजनिक बयानों की कड़ी ंिनदा करता हूं। ऐसा लगता है कि वे उस पार्टी को भूल रहे हैं जिसका वे वर्तमान में प्रतिनिधित्व कर रहे हैं।

भाजपा – कांग्रेस या बीआरएस (भारत राष्ट्र समिति) नहीं है। भाजपा में पार्टी तथा उसके नेतृत्व की सार्वजनिक आलोचना करने की संस्कृति नहीं है।’’ उन्होंने कहा कि व्यक्तिगत एजेंडा पार्टी के एजेंडा पर हावी नहीं हो सकता। इन नेताओं को पता होना चाहिए कि पार्टी में एक ‘‘लक्ष्मण रेखा’’ है।

Related Articles

Back to top button