देश एक बार फिर मजबूत आर्थिक प्रदर्शन के लिए तैयार: मुख्य आर्थिक सलाहकार

नयी दिल्ली. देश के मुख्य आर्थिक सलाहकार (सीईए) वी अनंत नागेश्वरन ने बुधवार को कहा कि देश एक और वर्ष मजबूत आर्थिक प्रदर्शन करने के लिए तैयार है. वित्त वर्ष 2022-23 की चौथी तिमाही में उम्मीद से बेहतर सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) वृद्धि दर के साथ उन्होंने यह बात कही. कृषि, विनिर्माण, खनन और निर्माण क्षेत्रों में अच्छे प्रदर्शन से देश की आर्थिक वृद्धि दर जनवरी-मार्च तिमाही में 6.1 प्रतिशत रही. वहीं पूरे वित्त वर्ष 2022-23 में वृद्धि दर 7.2 प्रतिशत रही.

तिमाही आंकड़ों पर संवाददाताओं से बातचीत में सीईए ने कहा कि चालू वित्त वर्ष के लिए अनुमानित 6.5 प्रतिशत जीडीपी वृद्धि दर के लिए जोखिम दोनों तरफ बराबर है और चालू वित्त वर्ष में आंकड़ा इससे ऊपर जाने की अच्छी संभावना है. उन्होंने कहा, ह्लइसलिए, हम वृहत आर्थिक, वित्तीय और राजकोषीय स्थिरता के साथ सतत आर्थिक वृद्धि की कहानी पेश करने में सक्षम हैं. इसके साथ एक और साल भारत के ठोस आर्थिक प्रदर्शन को लेकर उत्साहित हैं.ह्व

उल्लेखनीय है कि भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास ने पिछले सप्ताह कहा था कि 2022-23 के लिए आर्थिक वृद्धि अग्रिम अनुमान सात प्रतिशत से ज्यादा रहने की संभावना है. राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय (एनएसओ) के फरवरी में जारी दूसरे अग्रिम अनुमान में 2022-23 में आर्थिक वृद्धि दर सात प्रतिशत रहने का अनुमान लगाया गया था.

Related Articles

Back to top button