प्रधानमंत्री ने राजग सांसदों से अधिक से अधिक मुस्लिम महिलाओं तक पहुंचने को कहा

नयी दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा है कि तीन तलाक पर प्रतिबंध लगाने के उनकी सरकार के फैसले से मुस्लिम महिलाओं में सुरक्षा की भावना बढ.ी है. उन्होंने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेताओं से आगामी रक्षा बंधन के त्योहार के दौरान अधिक से अधिक मुस्लिम महिलाओं तक पहुंचने को कहा है.

सूत्रों ने कहा कि मोदी ने सोमवार रात पश्चिम बंगाल, ओडिशा और झारखंड के भाजपा नीत राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के सांसदों की एक बैठक में यह टिप्पणी की, जिसमें उन्होंने और भाजपा के अन्य वरिष्ठ नेताओं ने समाज के विभिन्न वर्गों के लिए केंद्र सरकार की विभिन्न विकास पहलों को रेखांकित किया.

बैठक में मौजूद कुछ सांसदों ने कहा कि मोदी ने समाज के हर वर्ग से जुड़ने की जरूरत पर जोर दिया और उसके बाद मुस्लिम समाज में एक बार में तीन तलाक की प्रथा पर प्रतिबंध लगाने के अपनी सरकार के फैसले का उल्लेख किया. सरकार ने इस प्रथा को अपराध घोषित कर दिया है.

बैठक में मौजूद कुछ सांसदों ने कहा कि प्रधानमंत्री ने उनसे अल्पसंख्यक समुदाय की महिलाओं तक पहुंचने के लिए रक्षा बंधन के दौरान कार्यक्रम आयोजित करने को कहा. रक्षा बंधन का त्योहार इस साल 30 अगस्त को पड़ेगा. मुस्लिम महिला (विवाह अधिकार संरक्षण) विधेयक 2019 में संसद द्वारा पारित किया गया था, जिसमें एक बार में तीन तलाक की प्रथा को अवैध घोषित किया गया था. इस अपराध के लिए पति को जेल की सजा हो सकती है. मोदी अक्सर मुस्लिम महिलाओं के लिए अपनी सरकार के सुधार उपायों को रेखांकित करते रहे हैं.

अपने हालिया ‘मन की बात’ संबोधन में उन्होंने कहा था कि इस साल 4,000 से अधिक मुस्लिम महिलाओं का ‘महरम’ के बिना हज करना एक ‘बड़ा परिवर्तन’ है. उन्होंने जोर देकर कहा कि पिछले कुछ वर्षों में उनकी सरकार द्वारा हज नीति में किए गए बदलावों के साथ अधिक से अधिक लोगों को वार्षिक तीर्थयात्रा पर जाने का मौका मिल रहा है.

सांसदों के समक्ष दिए गए अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि विपक्षी दल नए नाम ‘इंडिया’ (इंडियन नेशनल डेवलपमेंटल इन्क्लूसिव अलायंस) के तहत अपनी ताकत दिखाने का प्रयास कर रहे हैं, क्योंकि उनके पूर्ववर्ती संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) पर कई घोटालों का दाग था. उन्होंने कहा कि लोग इसे कभी स्वीकार नहीं करेंगे.

भाजपा ने राजग सांसदों को क्षेत्रवार करीब 40 सदस्यों के समूहों में बांटा है. संसद के मौजूदा मानसून सत्र के दौरान वह इन समूहों से मुलाकात करेंगे. पहली दो बैठकें सोमवार को हुई थीं. उन्होंने उत्तर प्रदेश के पश्चिमी हिस्से से लेकर कानपुर-बुंदेलखंड क्षेत्र तक के लगभग 45 राजग सांसदों की एक बैठक को भी संबोधित किया था.

उत्तर प्रदेश के सांसदों की बैठक को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि सत्तारूढ. गठबंधन समाज और देश की सेवा कर रहा है और उसे लोगों का आशीर्वाद मिल रहा है. मोदी ने सांसदों से सरकार के काम के बारे में सकारात्मक संदेश के साथ जनता के बीच जाने को कहा और कहा कि वह लोगों के बीच अधिक से अधिक समय बिताएं. उन्होंने कहा था कि विपक्षी गठबंधन ने भले ही अपना नाम संप्रग से बदलकर ‘इंडिया’ कर लिया हो, लेकिन वह ‘भ्रष्टाचार और कुशासन के अपने पापों’ को धो नहीं पाएगा.

Related Articles

Back to top button