शाह ने रायबरेली को ‘पारिवारिक सीट’ करार देने को लेकर प्रियंका गांधी पर निशाना साधा

रायबरेली. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने शुक्रवार को यहां एक चुनावी रैली में कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी पर रायबरेली को ‘पारिवारिक सीट’ करार देने के लिए हमला बोला. उन्होंने कहा कि रायबरेली किसी ‘परिवार’ की नहीं बल्कि जनता की सीट है. समाजवादी पार्टी (सपा) के बागी विधायक मनोज पांडे आज भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल हुए और मंच पर अमित शाह के बगल में बैठे. शाह ने अयोध्या में आयोजित प्राणप्रतिष्ठा समारोह का निमंत्रण ठुकराने को लेकर कांग्रेस पर तीखा हमला बोला और कहा कि यदि कांग्रेस सत्ता में आई तो वे फिर से मंदिर में ”बाबरी ताला” लगा देंगे. उन्होंने कहा कि मनोज पांडे ने सही कहा कि प्राकृतिक आपदा के दौरान गांधी परिवार कभी भी रायबरेली नहीं आया.

उन्होंने कहा, ”कांग्रेस का कहना है कि राम मंदिर का ठीक से अभिषेक नहीं हुआ है. अगर ‘इंडिया’ गठबंधन आया तो वे राम मंदिर पर फिर से ‘बाबरी ताला’ लगा देंगे.” शाह ने कहा कि ‘इंडिया’ एक परिवार आधारित गठबंधन है. उन्होंने दावा किया, ”लालू (प्रसाद यादव) अपने बेटे को मुख्यमंत्री बनाना चाहते हैं, ममता अपने भतीजे को मुख्यमंत्री बनाना चाहती हैं और सोनिया गांधी अपने बेटे को प्रधानमंत्री बनाना चाहती हैं.” वह (प्रियंका गांधी) कहती हैं कि रायबरेली और अमेठी उनके परिवार की सीट हैं. उन्होंने कहा, ”मैं कहता हूं कि यह सीट किसी परिवार की नहीं है. यह दोनों जिलों के गरीब युवाओं की सीट हैं. रायबरेली और अमेठी की जनता जिसे चाहेगी, वह संसद में जाएगा. यह लोकतंत्र है, परिवार की कोई सीट नहीं है.” शाह ने कहा कि संकट में साथ रहने वाला और विकास करने वाला ही विजयी होता है. शाह ने कहा, ”अमेठी में स्मृति ईरानी और रायबरेली में दिनेश प्रताप की जीत के साथ, दोनों सीट मोदी के पास जाने वाली हैं.”

उन्होंने कहा, ”कांग्रेस पार्टी अनुच्छेद 370 पर बैठी थी. मोदी ने इसे खत्म कर दिया. कांग्रेस कहती है कि हम अनुच्छेद 370 वापस लाएंगे. मोदी जी ने देश से आतंकवाद खत्म कर दिया है.” शाह ने कहा कि एक तरफ नरेन्द्र मोदी हैं जिन पर 23 साल तक मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री रहने के बावजूद चार आने का भी आरोप नहीं है और दूसरी तरफ भ्रष्टाचार के आरोपों से घिरे लोग हैं. शाह ने कहा कि राहुल गांधी सुन लें कि जिन-जिन लोगों ने भ्रष्टाचार किया है, उन्हें जेल में डालने का काम नरेन्द्र मोदी करेंगे.

शाह ने कहा कि जिस संसदीय क्षेत्र को वे पारिवारिक सीट कहते हैं, वहां 70 साल से कोई कलेक्टर कार्यालय नहीं था, लेकिन वर्ष 2018 में योगी आदित्यनाथ की सरकार ने स्मृति ईरानी के साथ मिलकर कलेक्टर कार्यालय की नींव रखने का काम किया. उन्होंने कहा कि अमेठी और रायबरेली के लोग वर्षों से गांधी परिवार को अपना नेता मानते रहे हैं, लेकिन उन्होंने कभी यहां के लोगों को अपना नहीं माना.

भाजपा के पूर्व अध्यक्ष शाह ने कहा कि वर्ष 2014 में जब वे यहां आये थे तो उन्हें लगा कि स्मृति ईरानी यहां क्या करेंगी, लेकिन ईरानी ने उनसे कहा था कि, ”अमित जी, मैं यहां घर बनाऊंगी और यहीं रहूंगी.” रायबरेली के भाजपा उम्मीदवार दिनेश प्रताप सिंह का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि मोदी जी ने आपको ऐसा उम्मीदवार दिया है जो 24 घंटे आपके बीच रहेगा. शाह ने कहा कि देश आगे बढ. रहा है और मोदी जी ने 10 साल में उप्र के विकास के लिए 18 लाख 55 हजार करोड़ रुपये भेजे हैं. सभा में केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी भी शामिल हुईं.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button