विपक्षी दलों के गठबंधन ‘इंडिया’ की मानसिकता महिला विरोधी है : प्रधानमंत्री मोदी

वाराणसी. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने विपक्षी गठबंधन इंडियन नेशनल डेवलपमेंटल इंक्लूसिव अलायंस (इंडिया) की मानसिकता को ‘महिला विरोधी’ करार देते हुए मंगलवार को दावा किया कि आज कांग्रेस की सरकार होती तो रसोई का खर्च दो तीन गुना ज्यादा होता, जबकि इसके विपरीत भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की सरकार ने विभिन्न योजनाओं के जरिए जनता को हजारों रुपयों की बचत करायी है. प्रधानमंत्री ने अपने संसदीय निर्वाचन क्षेत्र वाराणसी में आयोजित नारी शक्ति सम्मेलन में कहा कि उनके नेतृत्व में पहली बार केंद्र में ऐसी सरकार आई है जिसने महिलाओं के सम्मान की चिंता की है.

उन्होंने कहा, ”बीते 10 साल में पहली बार सरकार की नीतियों से लेकर निर्णयों तक के केंद्र में माताएं, बहनें और महिलाएं आई हैं. इस पर उतनी चर्चा भले ही न हुई हो लेकिन यह भारत की सफलता की कहानी का एक बहुत बड़ा कारक है.” उन्होंने कांग्रेस और समाजवादी पार्टी (सपा) की सरकारों पर महिलाओं की उपेक्षा करने का आरोप लगाते हुए कहा, ”जब घर आपके बिना नहीं चलता है तो देश आपके बगैर कैसे चल जाता, यह बात 60 वर्षों तक सरकारों को समझ ही नहीं आई. विपक्षी दलों के समूह ‘इंडिया’ की मानसिकता ही महिला विरोधी है. वे महिलाओं को आरक्षण देने का विरोध करते हैं.” प्रधानमंत्री ने महंगाई के मुद्दे पर कांग्रेस को घेरते हुए दावा किया कि उनकी सरकार की विभिन्न योजनाओं से जनता की बचत में इजाफा हुआ है.

उन्होंने कहा, ”कांग्रेस की सरकार की पहचान एक गाने से खूब होती है. महंगाई डायन खाए जात है…. कांग्रेस आई, महंगाई लाई. कांग्रेस सरकार रही होती तो आपकी रसोई का बजट दो-तीन गुना बढ़ चुका होता लेकिन यह मोदी लगातार प्रयास करता है कि आपका खर्च कम हो और आपकी बचत बढ़े.” प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ”मुफ्त राशन योजना से हर परिवार के साल में करीब 12 हजार रुपये बच रहे हैं. उज्ज्वला रसोई गैस सिलेंडर योजना से प्रति सिलेंडर 300 रुपये से ज्यादा की बचत हो रही है. जन औषधि केंद्रों पर 80 प्रतिशत छूट वाली दवाएं मिल रही हैं. पाइपलाइन के जरिए गैस आपूर्ति होने से भी बचत हो रही है.”

उन्होंने कहा, ”वाराणसी में पिछले 10 साल में तीन लाख से अधिक लोगों का मोतियाबिंद का ऑपरेशन हुआ है. प्रति ऑपरेशन कम से कम 10 हजार रुपये के हिसाब से देखें तो लोगों के करोड़ों रुपये बचे हैं.” प्रधानमंत्री ने कहा कि ‘पीएम सूर्य घर योजना’ से भी बिजली के बिल में प्रति माह दो से ढाई हजार रुपये की बचत हो रही है. चार जून के बाद सरकार बनने पर इस योजना का विस्तार किया जाएगा.

उन्होंने महिला सुरक्षा के मुद्दे पर सपा को घेरते हुए कहा, ”बनारस के लोग तो उत्तर प्रदेश और बिहार दोनों जगह रहे ‘जंगल राज’ से परिचित हैं. बहन-बेटियों का घर से निकलना मुश्किल था. बेटियों को पढ़ाई छोड़कर घर बैठना पड़ता था और सपा वाले बेशर्मी से कहते थे… लड़के हैं लड़कों से तो गलती हो जाती है. आज सपा के लड़के जरा गलती करके दिखाएं… योगी जी की सरकार उनका वह हाल करेगी जो उन्होंने सोचा भी नहीं होगा.” प्रधानमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार ने विपक्ष द्वारा मजाक उड़ाये जाने के बावजूद 11 करोड़ शौचालय यानी ‘इज्जतघर’ बनवाये हैं. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत चार करोड़ से ज्यादा पक्के घर बनवाकर उनकी रजिस्ट्री महिलाओं के नाम पर करवायी ताकि वे घर की मालकिन बन सकें.

उन्होंने कहा, ”यह बस योजनाएं ही नहीं थी बल्कि इससे नारी शक्ति को नया आत्मविश्वास मिला. यही मेरा मिशन था, यही मेरी सोच थी.” प्रधानमंत्री मोदी ने आरोप लगाया, ”विपक्षी गठबंधन के नेता खुलेआम कहते हैं कि हिंदुओं में जो शक्ति है उसका मैं विनाश करके रहूंगा लेकिन चार जून के बाद मोदी आपकी शक्ति को महाशक्ति बनाकर रहेगा.” प्रधानमंत्री ने वाराणसी में हर मतदान बूथ पर ‘कमल खिलाने’ का आह्वान करते हुए कहा कि बनारस में इस बार मतदान के सारे रिकॉर्ड तोड़ने हैं.

उन्होंने कहा, ”मैं पार्टी के प्रचार में कितना भी व्यस्त होता हूं लेकिन बनारस को लेकर हमेशा निश्चिंत रहता हूं क्योंकि सब कुछ आप लोग ही संभाले रहते हैं.” इससे पहले, प्रधानमंत्री मोदी एक खुले वाहन में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ लोगों का अभिवादन करते हुए कार्यक्रम स्थल पर पहुंचे. कार्यक्रम को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी संबोधित किया. उन्होंने महिला आरक्षण अधिनियम और महिलाओं पर केंद्रित अन्य योजनाओं का जिक्र करते हुए दावा किया कि इस बार मोदी को हर तरफ से आधी आबादी का पूरा समर्थन मिल रहा है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button