देश में लोकतंत्र के लिए बड़ा दिन, सत्यमेव जयते : आप ने संजय की जमानत पर कहा

खुशियां अधूरी हैं, क्योंकि मेरे 3 भाई अब भी सलाखों के पीछे : संजय सिंह की पत्नी

नयी दिल्ली. आम आदमी पार्टी (आप) ने दिल्ली आबकारी नीति से जुड़े धन शोधन के मामले में पार्टी के राज्यसभा सदस्य संजय सिंह को जमानत देने के उच्चतम न्यायालय के फैसले का मंगलवार को स्वागत किया. पार्टी ने कहा कि ” यह देश में लोकतंत्र के लिए बड़ा दिन है और उम्मीद का क्षण है.” ‘आप’ नेताओं ने एक संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में दावा किया कि अदालत के आदेश से ‘उजागर’ हो गया है कि आबकारी नीति घोटाले का पूरा मामला चश्मदीदों और सरकारी गवाहों से ‘जबरन’ ली गई गवाही पर आधारित है.

आधिकारिक सूत्रों ने ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया कि सिंह को मंगलवार सुबह अस्पताल लाया गया और उन्हें बुधवार को रिहा किए जाने की संभावना है. प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने अब रद्द हो चुकी दिल्ली आबकारी नीति से जुड़े धनशोधन के मामले में पिछले साल चार अक्टूबर को गिरफ्तार किया था.

दिल्ली सरकार के मंत्री सौरभ भारद्वाज ने संवाददाता सम्मेलन में कहा, ” यह देश के लोकतंत्र के लिए बड़ा दिन है और खुशी एवं उम्मीद का क्षण है.” दिल्ली सरकार की एक और कैबिनेट मंत्री आतिशी ने कहा कि गत दो साल से आप नेताओं को फर्जी मामले में निशाना बनाया जा रहा और गिरफ्तार किया जा रहा है.

उन्होंने कहा, ” अदालत की सुनवाई से दो अहम बाते जनता के सामने आई हैं. पहला जब उच्चतम न्यायालय ने जब पैसों की लेनदेन के बारे में पूछा तो ईडी के पास कोई जवाब नहीं था. दूसरा, ईडी का पूरा मामला सरकारी गवाहों के बयानों पर आधारित है जिनपर केजरीवाल के खिलाफ बयान देने लिए दबाव बनाया गया.” दिल्ली आबकारी नीति ‘घोटाले’ में ही दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को भी ईडी ने गिरफ्तार किया है. अदालत ने उन्हें सोमवार को 15 अप्रैल तक के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया.
आतिशी ने सोशल मीडिया मंच ‘एक्स’ पर सिंह की जमानत की खबर साझा की और लिखा, ”सत्यमेव जयते.”

खुशियां अधूरी हैं, क्योंकि मेरे 3 भाई अब भी सलाखों के पीछे : संजय सिंह की पत्नी

शराब “घोटाला” मामले में आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सदस्य संजय सिंह को उच्चतम न्यायालय द्वारा मंगलवार को जमानत दिए जाने के बाद उनकी पत्नी अनीता सिंह ने कहा कि उनके तीन “भाइयों” अरविंद केजरीवाल, मनीष सिसोदिया और सत्येंद्र जैन के अब भी सलाखों के पीछे होने के कारण खुशियां अधूरी हैं. सिंह की जमानत को “सच्चाई की जीत” करार देते हुए उनकी पत्नी ने कहा कि आप तब जश्न मनाएगी, जब उसके सभी नेता मामले में रिहा होंगे.

अनिता सिंह ने संवाददाताओं से बात करते हुए कहा, “जब तक मेरे तीनों भाई अरविंद जी, मनीष सिसोदिया और सत्येंद्र जैन हिरासत से बाहर नहीं आ जाते, ये खुशी अधूरी है. ये सत्य की जीत है. मुझे न्यायिक प्रक्रिया पर पूरा भरोसा था.” उन्होंने कहा, “यह जश्न मनाने का सही मौका नहीं है. जब मेरे सभी भाई बाहर होंगे, तो हम एक साथ जश्न मनाएंगे.” यह पूछे जाने पर कि क्या शराब घोटाले में ‘आप’ के शीर्ष नेताओं के फंसने से पार्टी की राजनीति में उथल-पुथल मची हुई है, तो इसपर अनीता सिंह ने कहा, “आम आदमी पार्टी की राजनीति को कोई खतरा नहीं है. मेरे भाई जेल से बाहर आ जायेंगे. संजय जी पहले ही बाहर हैं. हम अब उनका इंतजार कर रहे हैं.”

Related Articles

Back to top button