बेंगलुरु पहुंचते ही प्रज्वल को गिरफ्तार करने के लिए कर्नाटक पुलिस सतर्क

बेंगलुरु. यौन उत्पीड़न के आरोपों से घिरे जनता दल सेक्युलर (जदएस) के निलंबित नेता प्रज्वल रेवन्ना ने 30 मई को म्यूनिख से बेंगलुरु आने को लेकर हवाई यात्रा का टिकट बुक कराया है तथा उसी दिन देर रात उसके यहां पहुंचने की संभावना है. इससे पहले बुधवार को एक स्थानीय विशेष अदालत (निर्वाचित प्रतिनिधि) ने उसकी अग्रिम जमानत अर्जी खारिज कर दी. पुलिस जदएस नेता के हवाई अड्डे पर पहुंचते ही उसके खिलाफ गिरफ्तारी वारंट तामील करने के लिए बिल्कुल सतर्क हैं. विशेष जांच दल (एसआईटी) के सूत्रों के अनुसार जदएस सुप्रीमो और पूर्व प्रधानमंत्री एच डी देवेगौड़ा के पोते प्रज्वल के बृहस्पतिवार को देर रात यहां पहुंचने की संभावना है.

एक अधिकारी ने कहा, ” रेवन्ना ने लुफ्थांसा एयरलाइंस से म्यूनिख से बेंगलुरु आने के लिए टिकट आरक्षित कराया है. बृहस्पतिवार दोपहर यह उड़ान म्यूनिख से रवाना होगी और उसी रात 12 बजकर पांच मिनट पर बेंगलुरु पहुंचेगी.” उन्होंने बताया कि एसआईटी रेवन्ना के बेंगलुरु पहुंचते ही उसे गिरफ्तार करने के लिए यहां केम्पेगौड़ा हवाईअड्डे पर लगातार नजर रख रही है.

हासन लोकसभा सीट से राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के प्रत्याशी के तौर पर फिर से चुनाव लड़ रहे रेवन्ना यह खबर सामने आने के तुरंत बाद विदेश भाग गए थे कि कर्नाटक राज्य महिला आयोग ने मुख्यमंत्री सिद्दरमैया से उन आपत्तिजनक वीडियो की जांच करने का आदेश दिया है जिसमें वह (रेवन्ना) कई महिलाओं का कथित तौर पर यौन शोषण करते हुए दिख रहे हैं. पुलिस सूत्रों ने बताया कि अभी तक रेवन्ना के खिलाफ यौन शोषण के तीन मामले दर्ज किए गए हैं. हासन के सांसद ने दो दिन पहले एक वीडियो संदेश जारी किया था जिसमें उन्होंने 31 मई को एसआईटी के समक्ष पेश होने और जांच में सहयोग करने का वादा किया था. सूत्रों ने बताया कि रेवन्ना ने पहले भी जर्मनी से दो बार विमान का टिकट रद्द कराया है.

इस बीच, एसआईटी ने मंगलवार को हासन के जिला मुख्यालय में स्थित रेवन्ना के आवास पर तलाशी ली जो देर रात तक चली.
उन्होंने बताया, ”कुछ अभियोजनयोग्य सामग्री जब्त की गयी है.” गिरफ्तारी से बचने की आखिरी कोशिश के तहत हासन के सांसद ने अपने वकील के माध्यम से विशेष अदालत (निर्वाचित प्रतिनिधि) में अग्रिम जमानत की अर्जी दायर की थी. एक विशेष अदालत ने एसआईटी (विशेष जांच दल) के आवेदन पर प्रज्वल के खिलाफ 18 मई को गिरफ्तारी वारंट जारी किया था. कर्नाटक के गृहमंत्री जी परमेश्वर ने कहा है कि प्रज्वल को यहां हवाई अड्डे पर पहुंचते ही गिरफ्तार किया जाएगा.

उन्होंने यहां संवाददाताओं से कहा, ” सभी जरूरी उपाय किये जाने हैं क्योंकि उसके खिलाफ वारंट जारी किया गया है. उसे गिरफ्तार किया जाना है . एसआईटी इंतजार कर रही है, वह गिरफ्तार करेगी और उसका बयान दर्ज करेगी एवं उसकी (एसआईटी की) प्रक्रिया शुरू हो जाएगी.” जब उनसे पूछा गया कि क्या प्रज्वल को हवाई अड्डे पर उतरते ही गिरफ्तार किया जाएगा तब उन्होंने कहा, ”यह (गिरफ्तारी) वहां (हवाईअड्डे पर) ही की जानी है क्योंकि वारंट जारी किया गया है.” एसआईटी ने प्रज्वल के पिता एवं जदएस विधायक एच डी रेवन्ना को गिरफ्तार किया था जो महिला के अपहरण में कथित रूप से शामिल थे. फिलहाल वह जमानत पर हैं.

इस बीच, प्रज्वल की मां भवानी रेवन्ना ने अपने पति से जुड़े अपहरण मामले में गिरफ्तारी की आशंका से विशेष (निर्वाचित प्रतिनिधि) अदालत में अग्रिम जमानत अर्जी दायर की है. एसआईटी ने उन्हें अग्रिम जमानत देने का विरोध किया है . उसने इसी मामले में एच डी रेवन्ना को मिली अंतरिम अग्रिम जमानत को रद्द करने की भी मांग की है. भवानी रेवन्ना की अग्रिम जमानत अर्जी पर आदेश 31 मई के लिए सुरक्षित रख लिया गया है. पेन ड्राइव बांटने के सिलसिले में दो लोगों की गिरफ्तारी के संबंध में पूछे जाने पर गृहमंत्री ने कहा कि इस मामले में जो भी शामिल होगा, उसे गिरफ्तार किया जाएगा, भले ही वह किसी भी दल का हो. उन्होंने कहा, ” इस मामले में 11-12 लोग गिरफ्तार किये जा चुके हैं.”

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button