प्रधानमंत्री मोदी प्रति दिन कांग्रेस को चार क्विंटल गालियां देते हैं : खरगे

वडोदरा. कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए बृहस्पतिवार को कहा कि वह प्रति दिन कांग्रेस को चार क्विंटल गालियां देते हैं और सोनिया गांधी एवं राहुल गांधी सहित पार्टी के नेताओं पर हमला बोलते हैं. खरगे गुजरात के वडोदरा जिले के वाघोडिया शहर में कांग्रेस उम्मीदवार सत्यजीत सिंह गायकवाड़ के पक्ष में एक रैली को संबोधित कर रहे थे.

इससे पहले दिन में, मोदी ने गुजरात में पंचमहल जिले के कलोल में एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘कांग्रेस के नेताओं में होड़ मची है कि कौन मोदी को सबसे गंदी गाली देगा.’’ खरगे ने कहा, “मोदीजी बार-बार दावा करते हैं कि हमने उनका अपमान किया. वह मुझ पर और कांग्रेस के अन्य नेताओं पर उनके लिए अपशब्दों का प्रयोग करने का आरोप लगाते हैं. कभी-कभी मोदीजी कहते हैं कि वह गरीब हैं. आप कब तक यह कहते रहेंगे (कि मैं गरीब हूं)? यह कैसे संभव है जब आप करीब साढ़े 13 साल तक गुजरात के मुख्यमंत्री रहे और पिछले आठ साल से प्रधानमंत्री हैं?”

उन्होंने कहा कि अगर दो दशक तक मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री जैसे पद पर रहने के बाद भी मोदी गरीब बने रहते हैं, तो दलितों, गरीबों और जनजातीय लोगों की दुर्दशा की कल्पना की जा सकती है. खरगे ने आरोप लगाया कि मोदी ‘सहानुभूति’ पाने के लिए ऐसे दावे करते हैं और उन्हें चुनाव के दौरान विकास का मुद्दा उठाना चाहिए.

उन्होंने कहा, “मोदी दावा करते हैं कि कांग्रेस उन्हें प्रति दिन दो किलोग्राम गालियां देती है. लेकिन सच यह है कि आप हमें हर दिन चारक्विंटल गालियां देते हैं. कभी-कभी आप मुझे या सोनिया गांधी या राहुल गांधी को निशाना बनाते हैं. हमें गालियां दिए बिना आपको खाना नहीं पचता है. लेकिन नागरिकों के लिए, हम कभी कुछ नहीं कहते हैं.’’ उन्होंने कहा कि अगर कांग्रेस ने सात दशकों तक भारत में लोकतंत्र और संविधान को नहीं सुरक्षित रखा होता तो मोदी और उनके दोस्त कभी प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री नहीं बन पाते.

खरगे ने मोदी और उनकी सरकार पर ‘संपत्तियां बेचने’ का भी आरोप लगाया, जो पूर्ववर्ती कांग्रेस शासन के दौरान खड़ी की गई थीं. उन्होंने कहा, “हमने अतीत में जो कुछ भी बनाया था, मोदीजी सब कुछ बेच रहे हैं, चाहे वह बंदरगाह हो या हवाई अड्डे. ऐसी संपत्तियां बेचने के बाद, वे हमसे सवाल करते हैं कि हमने पिछले 70 साल में क्या किया. मैं उन्हें बताना चाहता हूं कि आप जो कुछ भी बेच रहे हैं, उन्हें हमने बनाया था.’’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button