सुरेश एन पटेल केंद्रीय सतर्कता आयुक्त नियुक्त

नयी दिल्ली.सुरेश एन पटेल ने केंद्रीय सतर्कता आयुक्त (सीवीसी) के रूप में बुधवार को शपथ ग्रहण की. यह पद एक साल से रिक्त था.
कार्यवाहक सीवीसी के रूप में इस साल जून से सेवाएं दे रहे पटेल को यहां राष्ट्रपति भवन में राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने केंद्रीय सतर्कता आयोग के प्रमुख पद की शपथ ग्रहण कराई.

‘प्रेस ट्रस्ट आॅफ इंडिया’ (पीटीआई) ने पिछले महीने खबर दी थी कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली एक चयन समिति ने पटेल को आयोग का प्रमुख बनाए जाने की मंजूरी दे दी है. राष्ट्रपति भवन की ओर से बुधवार को जारी एक विज्ञप्ति में कहा गया, ‘‘राष्ट्रपति भवन में आज पूर्वाह्न 10 बजे आयोजित एक समारोह में सुरेश एन पटेल को केंद्रीय सतर्कता आयुक्त के रूप में शपथ ग्रहण कराई गई. उन्होंने राष्ट्रपति के समक्ष पद की शपथ ली.’’ इस समारोह में प्रधानमंत्री मोदी और उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू भी उपस्थित थे.

इसके बाद दिन में, पटेल ने खुफिया ब्यूरो (आईबी) के पूर्व प्रमुख अरंिवद कुमार और पूर्व आईएएस अधिकारी प्रवीण कुमार श्रीवास्तव को सतर्कता आयुक्त के रूप में पद की शपथ दिलाई. इन नियुक्तियों के साथ, केंद्रीय सतर्कता आयोग में अध्यक्ष सहित तीनों पदों पर नियुक्ति पूर्ण हो गई है. आयोग का नेतृत्व केंद्रीय सतर्कता आयुक्त करता है और इसमें दो सतर्कता आयुक्त हो सकते हैं.

आंध्र बैंक के पूर्व प्रबंध निदेशक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी पटेल को अप्रैल 2020 में सतर्कता आयुक्त नियुक्त किया गया था. पूर्व भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) अधिकारी संजय कोठारी ने पिछले साल 24 जून को सीवीसी के रूप में अपना कार्यकाल पूरा किया था.

प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में तीन सदस्यीय चयन पैनल ने सीवीसी और सतर्कता आयुक्तों के संबंध में निर्णय लेने के लिए जुलाई में बैठक की थी. पैनल के अन्य दो सदस्य केंद्रीय गृह मंत्री और लोकसभा में विपक्ष के नेता हैं. पैनल ने बैठक के दौरान सीवीसी के रूप में पटेल की नियुक्ति को मंजूरी दी थी.

इसने पूर्व खुफिया ब्यूरो प्रमुख अरंिवद कुमार और पूर्व नौकरशाह प्रवीण कुमार श्रीवास्तव की सतर्कता आयुक्त के रूप में नियुक्ति को भी मंजूरी दी थी. कार्मिक मंत्रालय ने एक बयान में बताया कि केंद्रीय सतर्कता आयुक्त ने यहां केंद्रीय सतर्कता आयोग के कार्यालय में कुमार और श्रीवास्तव को सतर्कता आयुक्त के रूप में शपथ दिलाई. कुमार ने इस साल 30 जून को आंतरिक सुरक्षा खुफिया एजेंसी के प्रमुख के रूप में अपना कार्यकाल पूरा किया था. वहीं, श्रीवास्तव 31 जनवरी 2022 को कैबिनेट सचिवालय के सचिव (समन्वय) के रूप में सेवानिवृत्त हुए थे.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button