कानपुर-लखनऊ हाइवे पर डंपर में आग लगने से दो लोग जिंदा जले, एक की कूदने से मौत…

कानपुर-लखनऊ हाईवे पर अजगैन क्षेत्र के चमरौली के पास एक बार फिर लापरवाही से भीषण सड़क हादसा हुआ। अचानक एक ट्रक चालक के ब्रेक लगाने से पीछे से तेज रफ्तार में आ रहे तीन वाहन आपस में टकरा गए। टक्‍कर इतनी भीषण थी आग लगने से गिट्टी लदे डंपर में दो लोग जिंदा जल गए, वहीं जान बचाने के चक्कर में नीचे कूदने में एक युवक की मौत हो गई।

आग की लपटों में घिरे लोगों की चीख-पुकार सुनने के बाद भी कोई उन्हें बचाने की हिम्मत नहीं जुटा सका। धूं-धूंकर जल रहे वाहनों को देख यातायात ठहर गया। हादसे के आधा घंटे बाद पहुंची दमकल ने आग पर काबू पाया। जाम लगने पर उन्‍नाव दही चौकी मोड़ से पुरवा की ओर वाहनों का रूट डायवर्ट किया गया। पुलिस जाम खुलवाने की कोशिश कर रही है। स्थानीय लोगों में हादसे को लेकर गुस्सा दिखा। हादसा शनिवार सुबह करीब सात बजे हुआ।

कानपुर से लखनऊ की ओर जाने में चमरौली गांव के सामने डिवाइडर के पास एक ट्रक चालक ने अचानक ब्रेक लगा दिया। स्थानीय लोगों के अनुसार तभी तेज रफ्तार मौरंग लादकर कानपुर से लखनऊ जा रहा एक डंपर उससे टकरा गया।
इसके बाद पीछे से आ रहा दूसरा डंपर व एक अन्य ट्रक टकरा गए। सबसे पीछे टकराया ट्रक डिवाइडर पर चढ़कर दूसरी ओर चला गया। दोनों डंपर के आपस में टकराने से डंपर में आग लग गई।

एक डंपर में फंसे दो लोगों को भागने का भी समय नहीं मिला। दोनों जान बचाने के लिए चीखते रहे और उसी में जिंदा जल गए। वहीं दूसरे डंपर का चालक जान बचाने में नीचे कूदा। चर्चा है कि किसी वाहन की चपेट में आकर उसकी मौत हो गई। 20 मिनट बाद पहुंची पुलिस ने दमकल को जानकारी दी। आधा घंटा बाद पहुंची दमकल ने आग पर काबू पाया।

क्रेन की मदद से डंपर की बाडी को फाड़कर शवों को निकालने का प्रयास किया गया। शव चालक व क्लीनर के होने की आशंका है। सीओ पंकज सिंह ने बताया कि ट्रक नंबर के आधार पर दिवंगतों की पहचान कराने की कोशिश की जा रही है। स्थानीय लोगों के अनुसार टकराए वाहनों की स्पीड करीब 70 से 80 किमी प्रतिघंटा थी। रफ्तार अधिक होने से वाहनों के टकराने से आग लग गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button