नेहा हिरेमथ के बाद हुबली में एक और युवती की उसके परिचित ने चाकू मारकर हत्या की

हुबली. कॉलेज की छात्रा नेहा हिरेमथ की उसके पूर्व सहपाठी द्वारा चाकू मारकर हत्या किए जाने के कुछ ही सप्ताह बाद 21 वर्षीय एक युवती को बुधवार को उसके परिचित ने उसके घर के अंदर चाकू मार दिया जिससे उसकी मौत हो गई. एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि बेंडिगेरी पुलिस थाना क्षेत्र के वीरपुर ओनी इलाके में 23 वर्षीय विश्वा उर्फ गिरीश सावंत ने सुबह पांच बज कर 45 मिनट पर अंजलि अम्बिगेरा के आवास का दरवाजा खटखटाया.

अधिकारी ने कहा कि जब उसने दरवाजा खोला, तो गिरीश ने अंजलि पर चाकू से वार किया जिससे उसकी मौत हो गई. वारदात के बाद आरोपी भाग गया. अधिकारी के अनुसार, अंजलि की बहन ने इस निर्मम हत्याकांड को देखा. पुलिस ने बताया कि आरोपी गिरीश के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 302 के तहत हत्या का मामला दर्ज किया गया है और उसे पकड़ने के लिए टीमें गठित की गई हैं. अंजलि की बहन के अनुसार, ऐसा प्रतीत होता है कि अंजलि की हत्या का मामला नेहा के मामले के समान नहीं है, लेकिन हत्यारे ने कथित तौर पर धमकी दी थी कि उसका हश्र भी नेहा की तरह होगा. पीड़ित की बहन ने पुलिस पर आरोप लगाया कि धमकी की सूचना मिलने पर भी उसने कुछ नहीं किया.

पिछले महीने 23 वर्षीय नेहा हिरेमथ की हुबली में उसके कॉलेज परिसर के अंदर उसके पूर्व सहपाठी फयाज खोदुनाइक ने चाकू मारकर हत्या कर दी थी. घटना के बाद भाजपा ने आरोपी के मुस्लिम होने का हवाला देते हुए आरोप लगाया कि इसका मकसद ‘लव जिहाद’ था. साथ ही पार्टी ने घटना की सीबीआई जांच की मांग भी की.

अंजलि की बहन यशोदा ने यहां संवाददाताओं से कहा ”गिरीश पिछले कुछ समय से मेरी बहन अंजलि को परेशान कर रहा था. उसने उससे अपने प्यार का इज.हार किया लेकिन मेरी बहन ने मना कर दिया. उसने मेरी बहन पर अपने साथ मैसूरु चलने के लिए भी दबाव डाला. उसने उसे धमकी भी दी थी कि उसका हश्र भी नेहा जैसा होगा.” उसने कहा ”जब हमने पुलिस को उसकी धमकियों के बारे में सूचित किया, तो उन्होंने इसे गंभीरता से नहीं लिया और आज देखिए, मेरी बहन मर गई.” अंजलि के परिवार और इलाके के स्थानीय निवासियों ने आरोपी के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग करते हुए यहां विरोध प्रदर्शन किया. बाद में पुलिस मौके पर पहुंची और न्याय दिलाने का आश्वासन देकर उन्हें वहां से हटाया.

अंजलि के पिता मोहन ने कहा कि करीब सात महीने पहले उनकी बेटी ने उन्हें बताया था कि गिरीश उसे परेशान कर रहा है. उन्होंने कहा, ”मैंने उसे (गिरीश) चेतावनी दी थी. लेकिन आज सुबह, दुर्भाग्य से उसी व्यक्ति ने मेरी बेटी की हत्या कर दी. आरोपी को सजा मिलनी चाहिए.” अंजलि के परिवार ने कहा कि किसी भी लड़की को उस स्थिति का सामना नहीं करना चाहिए, जिस स्थिति का सामना अंजलि ने किया. परिवार ने आरोपी के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की, जो फरार है.

Related Articles

Back to top button