‘लव जिहाद’ और धर्मांतरण के खिलाफ अभियान को तेजी से आगे बढ़ाने की संघ की रणनीति

लखनऊ. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) ने कथित ‘लव जिहाद’ और धर्मांतरण के खिलाफ वृहद जन जागरण अभियान तेजी से आगे बढ़ाने और नयी पीढ़ी में अपनी विचारधारा के प्रचार के लिए पूरी सक्रियता से काम करने का फैसला किया है.

संघ के प्रांत प्रचार प्रमुख अशोक दुबे ने सोमवार को बताया कि सरसंघचालक मोहन भागवत के अवध (लखनऊ) प्रांत में प्रवास के दौरान संगठन की विभिन्न बैठकें हुईं. उन्होंने बताया कि इस दौरान ग्रामीण अंचल में ”समाज एवं राष्ट्र विरोधी तत्वों” की गतिविधियों के विरुद्ध अभियान तथा ‘लवजिहाद’ और धर्मांतरण के खिलाफ वृहद जन जागरण का काम तेजी से आगे बढ़ाने का निर्णय लिया गया.

उन्होंने बताया कि इन बैठकों में नयी पीढ़ी में भी संघ के विचार एवं संस्कार के प्रचार के लिए पूरी सक्रियता से काम करने का फैसला किया गया. दुबे ने बताया कि संघ समाज के हर क्षेत्र में अपनी व्यापक उपस्थिति एवं गतिविधियां बढ़ाने का कार्य सक्रिय रूप से करेगा.

उन्होंने बताया कि बैठकों में हिंदू समाज के हित की दृष्टि से अवध प्रांत में संभावनाओं को खोजने एवं उनके क्रियान्वयन पर भी चर्चा हुई. दुबे ने कहा कि संघ समाज के वंचित लोगों को अधिकार एवं सम्मान दिलाने के लिए प्रतिबद्ध है और उसके लिए विभिन्न स्तरों पर कार्य कर रहा है. उन्होंने बताया कि बैठकों में अवध प्रांत में संघ कार्य के विस्तार और सुदृढ़ीकरण के लिए विभिन्न विषयों पर चर्चा हुई.

Related Articles

Back to top button