भारत को महाशक्ति बनाने के लिए मोदी को एक बार फिर प्रधानमंत्री बनाना जरूरी : शिंदे

यवतमाल/भोपाल/पिथौरागढ.. महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने बृहस्पतिवार को कहा कि भारत को महाशक्ति बनाने के लिए जरूरी है कि नरेन्द्र मोदी एक बार फिर देश के प्रधानमंत्री बनें. उन्होंने प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार को पेश करने में विफल रहने और कोई एजेंडा नहीं होने के लिए विपक्षी गठबंधन ‘इंडिया’ पर भी हमला किया.

शिंदे अपनी पार्टी शिवसेना की राजश्री पाटिल द्वारा नामांकन दाखिल करने के बाद एक सभा को संबोधित कर रहे थे. राजश्री पाटिल सत्तारूढ. महायुति की ओर से यवतमाल-वाशिम लोकसभा सीट की उम्मीदवार हैं. राजश्री पाटिल हिंगोली के मौजूदा सांसद हेमंत पाटिल की पत्नी हैं.

प्रधानमंत्री मोदी का जिक्र करते हुए शिंदे ने कहा, ”यह भारत के लिए एक महत्वपूर्ण (लोकसभा) चुनाव है ताकि एक देशभक्त प्रधानमंत्री बने. वही व्यक्ति हैं जिन्होंने साहस दिखाया और अनुच्छेद 370 को निरस्त किया और अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण किया.” मुख्यमंत्री ने कहा, ”अगर भारत को महाशक्ति बनाना है तो मोदी जी को दोबारा प्रधानमंत्री बनाने के अलावा कोई विकल्प नहीं है.” ‘इंडिया’ गठबंधन पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि विपक्ष के पास न तो कोई एजेंडा है, न ही कोई झंडा और न ही कोई नेता है.

शिंदे ने कहा, ”विपक्ष के पास प्रधानमंत्री पद का कोई उम्मीदवार भी नहीं है और उनका गठबंधन टूट रहा है. एक तरफ, मोदी से नफरत करने वाले लोग हैं, जबकि दूसरी तरफ वे लोग हैं जिनका उद्देश्य विकास के एजेंडे के साथ आगे बढ.ना है.” उन्होंने दावा किया कि प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व वाली सरकार के पास नीति है और वह फैसले लेती है, जबकि विपक्ष भ्रष्टाचार में लिप्त है.

प्रधानमंत्री दूरदर्शी हैं, वे वर्ष 2047 के भारत के बारे में सोच रहे: शिवराज

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेता शिवराज सिंह चौहान ने बृहस्पतिवार को कहा कि एक दूरदर्शी नेता होने के नाते प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आज के बारे में नहीं बल्कि 2047 के भारत का खाका खींच रहे हैं. मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री यहां होशंगाबाद से भाजपा के उम्मीदवार दर्शन चौधरी से मिलने आए थे. चौधरी दिन में अपना नामांकन पत्र दाखिल करेंगे.

चौहान ने होशंगाबाद जिले, जिसे अब नर्मदापुरम के नाम से जाना जाता है, में संवाददाताओं से कहा, “हमारे प्रधानमंत्री एक दूरदर्शी नेता हैं और वह आज के बारे में नहीं सोचते हैं. 2047 में भारत कैसा होगा…मोदी आज इसकी योजना बना रहे हैं. सिर्फ (अगले) पांच साल के बारे में नहीं.” जब उनसे दिल्ली में भाजपा की घोषणा पत्र समिति की बैठक के बारे में पूछा गया, जिसमें वह शामिल होंगे तो उन्होंने कहा, ”नई सरकार के गठन के बाद 100 दिनों का एजेंडा पहले से ही तैयार है क्योंकि यह सरकार वापस आ रही है और इसमें कोई संदेह नहीं है. यह 370 के साथ-साथ 400 का आंकड़ा भी पार कर जाएगी. लेकिन 2047 में भारत कैसा होगा, इसका खाका तैयार किया जा रहा है.”

उन्होंने कहा, ”विकसित भारत हमारा संकल्प है और भाजपा और प्रधानमंत्री ने लोगों से सुझाव मांगे हैं. उनके आधार पर घोषणा पत्र को अंतिम रूप दिया जाएगा.” चौहान ने कहा कि भाजपा ने देश में महिलाओं को ‘लखपति दीदी’ बनाने का फैसला किया है. उन्होंने आगे कहा, “हमारी बहनों की आंखों में आंसू नहीं होंगे और उनके चेहरे पर मुस्कान होगी. हमें उनके आर्थिक, सामाजिक, शैक्षणिक और राजनीतिक सशक्तिकरण का समर्थन करना है.” इसके बाद एक आमसभा में बोलते हुए चौहान ने कहा कि आने वाले दिनों में भारत को “विश्व गुरु” बनने से कोई नहीं रोक सकता.

कांग्रेस और विपक्ष के ‘इंडी’ गठबंधन पर निशाना साधते हुए चौहान ने कहा कि न केवल उनके पास नेता का अभाव है, बल्कि नीति और इरादे की भी कमी है. भाजपा नेता ने कहा कि आजादी के बाद, महात्मा गांधी ने कांग्रेस को भंग करने का आह्वान किया था, लेकिन तत्कालीन प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू ने सलाह पर ध्यान नहीं दिया.

उन्होंने व्यंग्यात्मक लहजे में कहा, ”लेकिन राहुल गांधी ने ठान लिया है कि वह तब तक नहीं रुकेंगे जब तक वह कांग्रेस को खत्म नहीं कर देंगे.” उन्होंने अयोध्या में राम मंदिर में प्राणप्रतिष्ठा समारोह का निमंत्रण ठुकराने के लिए भी कांग्रेस की आलोचना की और कहा कि पार्टी अपना विवेक खो चुकी है. चौहान ने कहा, “आज पार्टी से नेताओं का पलायन हो रहा है और इसे कोई नहीं बचा सकता.”

‘ब्रांड मोदी’ बनाम ‘ब्रांड विरोधी’: भाजपा नेता अजय आलोक

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय प्रवक्ता अजय आलोक ने कहा है कि लोकसभा चुनाव ‘ब्रांड मोदी’ और ‘ब्रांड विरोधी’ के बीच की लड़ाई है और जिसने वस्तुत: इस मुकाबले को राष्ट्रपति चुनाव की तरह बना दिया है. उन्होंने यह भी कहा कि लोगों के साथ नरेन्द्र मोदी के भावनात्मक जुड़ाव के चलते इस बात को लेकर कोई संदेह नहीं रह जाता है कि मौजूदा चुनाव में कौन जीतेगा.

आलोक ने ‘पीटीआई-भाषा’ से कहा कि प्रधानमंत्री के 370 सीट जीतने के लक्ष्य को हासिल करने में दक्षिणी राज्यों और पश्चिम बंगाल से मदद मिलेगी, जहां इस बार भाजपा पिछले सारे रिकॉर्ड तोड़ने वाली है. उन्होंने कहा, ”पार्टी तमिलनाडु में सात-आठ सीट जीतेगी… जो कि ‘1,000 प्रतिशत सुनिश्चित’ है, तेलंगाना में आठ, आंध्र प्रदेश में चार और केरल में भी हम कुछ सीट जीतेंगे.” उनका ये दावा चौंकाने वाला है, क्योंकि भाजपा ने वाम दलों और कांग्रेस के प्रभुत्व वाले केरल में कभी भी लोकसभा सीट नहीं जीती है. वर्तमान में आंध्र प्रदेश और तमिलनाडु में उसके पास कोई सीट नहीं है. तेलंगाना में वर्तमान में उसके पास चार सीट हैं.

यह पूछे जाने पर कि क्या तमिलनाडु जैसे राज्य को लेकर वह ‘कुछ ज्यादा ही’ आशान्वित नहीं है, उन्होंने कहा, ”बिल्कुल नहीं. लोगों में हिंदुत्व की भावना मजबूत हुई है और द्रविड़ राजनीति की अपनी एक सीमा है.” उन्होंने कहा कि मोदी के एक दशक लंबे कार्यकाल का बड़ा प्रभाव यह रहा है कि हिंदुओं में अपनी आस्था के प्रति गौरव का पुनरुत्थान हुआ है.

उन्होंने कहा, ”लोग अब अपनी हिंदू पहचान का दिखावा करने में र्शिमंदगी महसूस नहीं करते हैं.” भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि हालांकि, हिंदू होना और भारतीय होना एक ही है. उन्होंने मोदी के कार्यकाल के दौरान देश की प्रगति और विकास पर जोर दिए जाने को भी रेखांकित किया.

बिहार से ताल्लुक रखने वाले आलोक ने कहा कि उनके राज्य में भी मोदी की शानदार छवि है, जो भाजपा की अगुवाई वाले राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) की भारी जीत सुनिश्चित करेगी. जद (यू) अध्यक्ष और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की छवि तथा चुनाव में उनके असर के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, ”इस चुनाव में या तो आप मोदी के साथ हैं या मोदी के खिलाफ हैं. इसमें नीतीश और अन्य लोग कुछ जोड़ने का काम करेंगे, लेकिन एक ब्रांड नहीं बन सकते.” आलोक ने भाजपा से अपनी राजनीतिक पारी शुरू की और फिर जद (यू) में शामिल हो गए. बाद में वह फिर भाजपा में लौट आए. भारत में भले ही राष्ट्रपति प्रणाली की सरकार न हो, लेकिन लोग अक्सर इसी तर्ज पर वोट देते हैं, क्योंकि अक्सर देखा गया है कि चुनावों के दौरान लोग नेता के चेहरे पर वोट देते हैं.

उन्होंने कहा, ”आज या तो यह ‘ब्रांड मोदी’ है या ‘ब्रांड विरोधी’. अलग-अलग राज्यों में अलग-अलग प्रतिद्वंद्वी (विरोधी) हैं. लेकिन ‘ब्रांड मोदी’ हर जगह मौजूद है.” यह पूछे जाने पर कि भाजपा को 370 सीट के लक्ष्य तक पहुंचने के लिए किन राज्यों में अधिक सीट मिलने की उम्मीद है, उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल से चौंकाने वाले परिणाम सामने आएंगे. पिछले लोकसभा चुनाव में भाजपा ने राज्य की 18 सीट जीती थी.

आलोक ने कहा कि बंगाल में यह संख्या दोगुनी हो सकती है. उन्होंने कहा कि दक्षिण भारत के अलावा उत्तर प्रदेश और ओडिशा में भी भाजपा की संख्या में इजाफा होना तय है. मुख्य विपक्षी दल के बारे में पूछे गए सवालों पर उन्होंने कहा कि कांग्रेस ‘असाध्य रूप से बीमार’ है, क्योंकि उसका इलाज करने वाले डॉक्टर योग्य नहीं हैं. आलोक ने कहा कि उन्हें अपने डॉक्टर बदलने की जरूरत है.

मोदी को तीसरी बार प्रधानमंत्री बनाना आपकी राष्ट्रीय जिम्मेदारी है: नड्डा

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष जेपी नड्डा ने बृहस्पतिवार को उत्तराखंड की जनता से प्रदेश की सभी पांच लोकसभा सीट पर भाजपा को फिर जिताकर नरेन्द्र मोदी को लगातार तीसरी बार प्रधानमंत्री बनाने और भारत को विश्व की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनाने में मदद करने की अपील की.

यहां प्रदेश में अपनी पहली चुनावी सभा को संबोधित करते हुए नड्डा ने कहा, ”देश प्रधानमंत्री के हाथों में सुरक्षित है, देश उनके नेतृत्व में आगे बढ. रहा है, उन्हें तीसरी बार प्रधानमंत्री बनाना है. यह आपकी राष्ट्रीय जिम्मेदारी है.” नड्डा ने कहा कि कोविड-19 की मार और रूस-यूक्रेन युद्ध के बावजूद ब्रिटेन को पीछे छोड़कर भारत विश्व की पांचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन गया है. उन्होंने कहा, ”अब आप तीसरी बार भी पांचों सीट पर भाजपा को जिताएंगे तो मोदी जी के नेतृत्व में भारत तीसरे नंबर की अर्थव्यवस्था बन जाएगा.” उन्होंने कहा कि वर्तमान आम चुनाव में जनता को घोटालेबाजों और उन लोगों के बीच में चुनाव करना है जिन्होंने उनका दर्द समझा और उनके विकास में कोई कसर नहीं छोड़ी .

नड्डा ने कहा, ”आपको चयन करना है. एक तरफ वे लोग हैं जिन्होंने उत्तराखंड के दर्द को समझा, उसे आगे बढ.ाने में कोई कसर नहीं छोड़ी, प्रदेश के युवाओं की आकांक्षाओं को पंख लगाए और महिलाओं को ताकत दी और दूसरी तरफ वे लोग हैं जिन्होंने दशकों तक आपके साथ धोखा किया, जिन्होंने घोटाले किए और आपको विनाश की तरफ धकेला.”

उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस के कार्यकाल में अनेक घोटाले हुए और उसने जल, थल, नभ और पाताल हर क्षेत्र में भ्रष्टाचार किया. इस संबंध में, कोयला घोटाला, बोफोर्स घोटाला, पनडुब्बी घोटाला, अगस्ता वेस्टलैंड हैलीकॉप्टर घोटाला, टूजी-थ्रीजी घोटाला, राष्ट्रमंडल खेल घोटाला का नाम गिनाते हुए नड्डा ने कहा, ”इन्होंने न जल छोड़ा, न नभ छोड़ा, न ही थल छोड़ा और न ही पाताल छोड़ा. इन्होंने तीनों लोकों में भ्रष्टाचार किया. यह कांग्रेस पार्टी का इतिहास है.” भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में हर क्षेत्र में चहुंमुखी विकास हुआ है. उन्होंने कहा कि इले्ट्रिरक सामान के क्षेत्र में भारत 2014 के मुकाबले छह गुना आगे बढ. गया है जबकि इस्पात के क्षेत्र में हम दस साल में चौथे नंबर से दूसरे नंबर पर आ गए हैं .

Related Articles

Back to top button