अमेरिकन एअरलाइंस के विमान में पेशाब करने की घटना, पुलिस ने मामला दर्ज किया

नयी दिल्ली. न्यूयॉर्क से नयी दिल्ली आ रहे अमेरिकन एअरलाइंस के विमान में नशे की हालत में एक भारतीय छात्र ने नींद में कपड़ों में ही पेशाब कर दिया जिससे एक पुरुष सह-यात्री भी गीला हो गया. दिल्ली पुलिस ने एअरलाइन से शिकायत मिलने के बाद एक मामला दर्ज किया है.

नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (डीजीसीए) के एक वरिष्ठ अधिकारी ने ‘पीटीआई-भाषा’ से कहा कि एअरलाइन ने इस घटना के बारे में डीजीसीए को एक रिपोर्ट सौंपी है. ऐसा प्रतीत होता है कि एअरलाइन पेशेवर तरीके से इस स्थिति से निपटी और उसने सभी उचित कदम उठाए हैं. यह घटना उड़ान संख्या एए292 में हुई, जिसने शुक्रवार को रात नौ बजकर 16 मिनट पर न्यूयॉर्क से उड़ान भरी थी और शनिवार रात नौ बजकर 50 मिनट पर यहां इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय (आईजीआई) हवाई अड्डे पर उतरी.

अमेरिकन एअरलाइंस ने रविवार को एक बयान में कहा कि एक यात्री के दुर्व्यवहार के कारण विमान के दिल्ली पहुंचने पर कानून प्रवर्तन अधिकारी से सम्पर्क करना पड़ा. हालांकि, उसने घटना के बारे में खास जानकारी नहीं दी. दिल्ली हवाई अड्डे के पुलिस उपायुक्त देवेश कुमार महला ने रविवार को कहा कि अमेरिकन एअरलाइंस से अमेरिका में पढ़ाई कर रहे एक छात्र के खिलाफ सह-यात्री पर पेशाब करने की शिकायत मिली है. आरोपी राष्ट्रीय राजधानी में डिफेंस कॉलोनी का रहने वाला है.

उन्होंने कहा, ‘‘हमने भारतीय दंड संहिता की धारा 510 (नशे में एक व्यक्ति द्वारा सार्वजनिक दुर्व्यवहार) और 294 (सार्वजनिक रूप से अश्लील कृत्यों के लिए सजा) तथा नागरिक उड्डयन कानून की धारा 22 और 23 के तहत एक मामला दर्ज किया है. आरोपी अपने पिता के साथ पूछताछ के लिए आया. उसे पूछताछ के बाद जाने दिया गया. उसे मामले में अभी तक गिरफ्तार नहीं किया गया है और मामले में तफ्तीश चल रही है.’’

हवाई अड्डे पर एक सूत्र ने बताया, ‘‘आरोपी एक अमेरिकी विश्वविद्यालय का छात्र है. वह नशे की हालत में था और उसने नींद में कपड़ों में ही पेशाब कर दिया, जिससे बगल में बैठा हुआ यात्री भी गीला हो गया. इसके बाद यात्री ने चालक दल से शिकायत की.’’ उन्होंने बताया कि पीड़ित यात्री पुलिस से इस मामले की शिकायत नहीं करना चाहता था, क्योंकि आरोपी छात्र ने माफी मांग ली थी तथा शिकायत करने से उसका करियर खतरे में पड़ सकता था. बहरहाल, एअरलाइन ने इसे गंभीरता से लिया और इस मामले की सूचना आईजीआई हवाई अड्डे पर हवाई यातायात नियंत्रण (एटीसी) को दी.

चालक दल के सदस्यों ने इस घटना के बारे में पता चलने के बाद पायलट को इसकी सूचना दी, जिसने एटीसी को मामले की जानकारी दी. एटीसी ने केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल को इसकी सूचना दी, जिसने आरोपी यात्री को दिल्ली पुलिस को सौंप दिया. हवाई अड्डे के एक अन्य सूत्र ने ‘पीटीआई-भाषा’ से कहा, ‘‘घटना का पता चलने के बाद केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) के साथ एअरलाइन का खुद का सुरक्षा दल हरकत में आया. विमान से उतरने के बाद आरोपी को फौरन हिरासत में ले लिया गया. पुलिस संबंधित लोगों के बयान दर्ज कर रही है.’’ अमेरिकन एअरलाइंस ने एक बयान में कहा कि उड़ान 292 के जॉन एफ केनेडी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे (जेएफके) से इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर पहुंचने पर एक यात्री के दुव्यर्वहार के कारण स्थानीय कानून प्रवर्तन अधिकारियों को आना पड़ा.

एअरलाइन ने कहा, ‘‘विमान रात नौ बजकर 50 मिनट पर सुरक्षित उतरा. हम अपने चालक दल के सदस्यों के आभारी हैं, जो हमारे ग्राहकों की सुरक्षा और देखभाल के लिए सर्मिपत हैं और उन्होंने पूरी तरह पेशेवर तरीके से परिस्थितियों को संभाला.’’ नागरिक उड्डयन नियमों के अनुसार, अगर कोई यात्री अनुचित व्यवहार का दोषी पाया जाता है तो उसे किसी खास अवधि तक उड़ान भरने से प्रतिबंधित किया जा सकता है.

पिछले कुछ महीनों में नशे की हालत में किसी यात्री के सह-यात्री पर पेशाब करने की यह दूसरी घटना है. एअर इंडिया की 26 नवंबर को न्यूयॉर्क-दिल्ली उड़ान में भी ऐसी ही घटना हुई थी, जिसमें शंकर मिश्रा नामक यात्री ने नशे की हालत में एक बुजुर्ग महिला पर कथित तौर पर पेशाब कर दिया था.

यह घटना मीडिया में एक खबर के जरिये करीब एक महीने बाद सामने आयी थी, जिसके बाद प्राथमिकी दर्ज की गयी और मिश्रा को गिरफ्तार किया गया. उसे करीब एक महीने जेल में रहने के बाद जमानत पर रिहा कर दिया गया. नागर विमानन महानिदेशालय ने नियम के अनुसार, इस घटना की 12 घंटे के भीतर सूचना न देने के लिए एअर इंडिया पर 30 लाख रुपये का जुर्माना लगाया था. दिल्ली पुलिस मामले की जांच कर रही है, जबकि मिश्रा को चार महीने के लिए उड़ान भरने से प्रतिबंधित किया जा चुका है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button