आयकर विभाग पर आरोप लगाने के बजाय कांग्रेस को कर दायित्वों को पूरा करना चाहिए: भाजपा

नयी दिल्ली. भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने शुक्रवार को कहा कि कांग्रेस को आयकर विभाग एवं न्यायपालिका के खिलाफ आरोप लगाने के बजाय कानूनी प्रक्रियाओं का पालन करते हुए अपने कर दायित्वों को पूरा करना चाहिए. भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता जफर इस्लाम ने गांधी परिवार की ओर परोक्ष इशारा करते हुए कहा, “कांग्रेस पार्टी के एक खास परिवार का मानना है कि उन्हें नियमों से छूट मिलनी चाहिए और उन पर विशेष कानून लागू होने चाहिए लेकिन आधुनिक भारत में ऐसा संभव नहीं है.”

कांग्रेस ने शुक्रवार को कहा कि उसे आयकर विभाग से नए नोटिस मिले हैं, जिसमें उसे 1,823.08 करोड़ रुपये का भुगतान करने के लिए कहा गया है. उसने यह आरोप भी लगाया कि आयकर विभाग ने भाजपा को लेकर आंखें बंद कर ली हैं जबकि उस पर 4,600 करोड़ रुपये का जुर्माना बनता है. कांग्रेस ने सत्तारूढ. भाजपा पर लोकसभा चुनाव से पहले विपक्षी पार्टी को आर्थिक रूप से कमजोर करने के लिए ‘कर आतंकवाद’ में लिप्त होने का भी आरोप लगाया.

इस्लाम ने पलटवार करते हुए कहा कि कांग्रेस नेता आयकर विभाग और न्यायपालिका के खिलाफ आरोप लगाकर अपनी ‘हताशा’ को दर्शा रहे हैं. उन्होंने कहा कि मीडिया में बयान देने के बजाय कांग्रेस को कानूनी प्रक्रियाओं का पालन करना चाहिए और अपने कर दायित्वों को पूरा करना चाहिए. इस्लाम ने कहा कि आयकर विभाग कानून के अनुसार कार्रवाई करने के लिए ‘मजबूर’ है क्योंकि कांग्रेस ने न केवल आयकर रिटर्न दाखिल करने में देरी की बल्कि ‘अपनी आय को भी कम करके दिखाया’.

उन्होंने कहा, “कांग्रेस कर दाखिल करने और अपील करने की सही प्रक्रिया का पालन करने में विफल रही, आयकर आयुक्त (सीआईटी), आयकर अपीलीय न्यायाधिकरण (आईटीएटी) और दिल्ली उच्च न्यायालय सहित विभिन्न न्यायिक निकायों ने कांग्रेस की दलीलों को खारिज करते हुए आयकर विभाग के फैसलों को बरकरार रखा है.” उन्होंने कहा कि दिल्ली उच्च न्यायालय ने भी इस मामले में कांग्रेस की आलोचना की.

इस्लाम ने कहा, “राहुल गांधी, मल्लिकार्जुन खरगे और अन्य कांग्रेस नेताओं के मीडिया बयानों में विश्वसनीयता की कमी है, जो कांग्रेस के दावों को अदालत द्वारा खारिज किए जाने से साबित होता है.” गांधी ने शुक्रवार को भाजपा पर जांच एजेंसियों का दुरुपयोग कर ‘कर आतंकवाद’ में लिप्त होने का आरोप लगाया और कहा, ”जब सरकार बदलेगी तो ‘लोकतंत्र का चीरहरण’ करने वालों पर कार्रवाई ज.रूर होगी. ऐसी कार्रवाई होगी कि दोबारा फिर किसी की हिम्मत नहीं होगी, ये सब करने की.”

कांग्रेस अध्यक्ष खरगे ने भाजपा नीत केंद्र सरकार पर आयकर विभाग, ईडी और सीबीआई जैसी संस्थाओं का दुरुपयोग कर लोकतंत्र को कमजोर करने और संविधान का अनादर करने का आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि इस तरह की कार्रवाई कांग्रेस को आगामी लोकसभा चुनाव लड़ने से नहीं रोक पाएगी और उनकी पार्टी देश की संस्थाओं को भाजपा की ‘तानाशाही’ से मुक्त कराएगी.

Related Articles

Back to top button