ऐसे नए नागरिक चाहिए जो सिंगापुर को जानते हों, केवल यहां शक्तिशाली पासपोर्ट पाने न आएं

सिंगापुर: सिंगापुर के भारतीय मूल के विपक्षी नेता प्रीतम ंिसह ने कहा कि देश ऐसे नए नागरिक चाहता है जो सिंगापुर की जीवन शैली को अपनाएं, बल्कि वे नहीं जो केवल देश का शक्तिशाली पासपोर्ट पाना चाहते हैं। सह ने सोमवार को संसद में कहा, ‘‘ हम ऐसे लोग चाहते हैं जो सही मायने में सिंगापुर को जानते हों और सिंगापुर की जीवन शैली को अपनाएं। हम उन्हें चाहते हैं जो सही मायने में यहां रहना चाहते हों।’’

‘चैनल न्यूज एशिया’ के अनुसार, ंिसह ने कहा कि देश की प्रजनन दर 2022 में 1.05 के ऐतिहासिक निम्न स्तर तक गिर जाने के साथ ही नए नागरिक सिंगापुर के भविष्य के लिए और भी महत्वपूर्ण होंगे। उन्होंने कहा, ‘‘ सिंगापुर को ऐसे नए नागरिक नहीं चाहिए जो यहां रहना चाहते हैं लेकिन केवल उसका शक्तिशाली पासपोर्ट पाने और उनकी संपत्ति तथा धन के लिए एक सुरक्षित वातावरण के वास्ते।’’ विपक्षी नेता ने स्विट्जÞरलैंड का हवाला दिया, जहां नए नागरिकों के लिए एक अत्यधिक विशिष्ट चयन प्रक्रिया है जो आवेदकों को खुद को देश से जुड़ा हुआ दिखाने के लिए मजबूर करती है।

उन्होंने नागरिकता और स्थायी निवासी आवेदनों में अंग्रेजी भाषा की परीक्षा के लिए भी जोर दिया। ंिसगापुर की कुल आबादी 2022 में 56.4 लाख थी, जिनमें से 35.5 लाख नागरिक थे। 75 प्रतिशत जनसंख्या चीनी मूल की है, 15 प्रतिशत मलय और शेष भारतीय व अन्य हैं, जिनमें यूरेशियाई भी शामिल हैं।

Related Articles

Back to top button