जहां विभाजन होगा, वहां समाज मजबूत नहीं हो सकता : आदित्यनाथ

गोरखपुर. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री और गोरक्षपीठ के महंत योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को होली के पर्व के अवसर पर कहा कि आपसी वैमनस्य को समाप्त करके सत्य और न्याय के मार्ग पर चलकर ही हम समाज को शक्तिशाली बना सकते हैं. उन्होंने कहा कि जहां विभाजन होगा, वहां समाज मजबूत नहीं हो सकता.

मुख्यमंत्री ने कहा कि सनातन धर्म शोक और पश्चाताप में नहीं बल्कि उत्साह और आशावाद में विश्वास करता है और होली का पर्व भी यही संदेश देता है. आदित्यनाथ ने गोरखपुर में होली के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में कहा कि यह त्योहार एक सौहार्दपूर्ण समाज की स्थापना की भावना का प्रतीक है. उन्होंने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ द्वारा गोरखपुर के घंटाघर में आयोजित ‘भगवान नरसिंह की रंगभरी शोभा यात्रा’ के दौरान यह बात कही.

गोरखपुर में मंगलवार को होली मनाई जा रही है. मुख्यमंत्री ने सभी नागरिकों को होली की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि होली का त्यौहार उत्साह और आशावाद का पर्व है. मुख्यमंत्री ने कहा कि होली का त्योहार समतामूलक एवं समरसतापूर्ण समाज की स्थापना का भी संदेश देता है. उन्होंने कहा, “आपसी वैमनस्य को समाप्त करके सत्य और न्याय के मार्ग पर चलकर ही हम समाज को शक्तिशाली बना सकते हैं. जहां विभाजन होगा, वहां समाज मजबूत नहीं हो सकता.” इस अवसर पर मुख्यमंत्री आदित्यनाथ ने भगवान नरसिम्हा की पारंपरिक आरती की .

Related Articles

Back to top button