पेप्सिको की सीईओ इंदिरा नूई ने अमेरिका में भारतीय विद्यार्थियों को ‘सतर्क’ रहने की सलाह दी

न्यूयॉर्क. अमेरिका में भारतीय छात्रों से जुड़ी दुखद और चिंताजनक घटनाओं के बीच पेप्सिको की पूर्व मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) इंदिरा नूई ने उन्हें (विद्यार्थियों को) ”सतर्क” रहने एवं स्थानीय कानूनों का सम्मान करने की सलाह दी तथा उनसे अपनी सुरक्षा की खातिर यहां नशा या अत्यधिक शराब के सेवन से बचने का आग्रह किया.

दुनियाभर में सबसे शक्तिशाली और प्रभावशाली उद्यमियों में से एक मानी जानी वाली नूई ने अमेरिका आ रहे भारतीय विद्यार्थियों को सुरक्षित व सतर्क रहने तथा परेशानी में डालने वाली गतिविधियों से बचने की सलाह देते हुए 10 मिनट से अधिक लंबी वीडियो जारी की है. न्यूयॉर्क में भारत के महावाणिज्य दूत ने बृहस्पतिवार को ‘एक्स’ पर यह वीडियो पोस्ट किया.

नूई (68) ने वीडियो में कहा, ”मेरी यह वीडियो रिकॉर्ड करने की वजह आप सभी युवाओं से बात करना है, जो अमेरिका आने के बारे में सोच रहे हैं या पढ़ाई के सिलसिले में पहले ही यहां आ चुके हैं, क्योंकि मैं भारतीय छात्रों के दुर्भाग्यपूर्ण स्थितियों में फंसने की कई घटनाओं से संबंधित खबरें पढ़ तथा सुन रही हूं.” उन्होंने कहा, ”यह आपको सुनिश्चित करना है कि आप सुरक्षित रहने के लिए क्या करें…कानून के दायरे में रहें, रात को अकेले सुनसान जगहों पर न जाएं, कृपया नशा या अत्यधिक शराब पीने से बचें. ये सभी विपत्ति से बचने के उपाय हैं.” नूई ने अमेरिका आ रहे विद्यार्थियों से ”अपने विश्वविद्यालय तथा पाठ्यक्रम का चुनाव सावधानीपूर्वक” करने का भी अनुरोध किया.

उन्होंने कहा, ”जब आप अमेरिका आएं तो यहां आने के शुरुआती महीनों में काफी सतर्क रहें, खासतौर से आप किसे दोस्त बना रहे हैं, आपको कौन-सी नयी आदतें पड़ रही हैं और आप सांस्कृतिक बदलावों से कैसे निपटते हैं, क्योंकि आपके लिए आपको मिली आजादी का गलत फायदा उठाना और यह सोचना आसान है कि आपको हर किसी चीज का प्रयोग करना चाहिए. बहुत, बहुत सतर्क रहें.” नूई ने यह संदेश ऐसे वक्त में दिया है जब अमेरिका में भारतीय विद्यार्थियों की सुरक्षा से जुड़े कई चिंताजनक मामले सामने आए हैं. इस साल की शुरुआत से लेकर अब तक भारतीय और भारतीय मूल के छात्रों की मौत के कई मामलों ने समुदाय के बीच चिंता पैदा कर दी है.

Related Articles

Back to top button