आप हरियाणा विधानसभा चुनाव अपने बूते, पर लोकसभा चुनाव ‘इंडिया’ के साथ मिलकर लड़ेगी:केजरीवाल

चंडीगढ़. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रविवार को कहा कि उनकी आम आदमी पार्टी (आप) हरियाणा की सभी 90 विधानसभा सीटों पर अपने दम पर चुनाव लड़ेगी, लेकिन लोकसभा चुनाव विपक्षी गठबंधन ‘इंडियन नेशनल डेवलपमेंटल इन्क्लूसिव अलायंस’ (इंडिया) के साथ मिलकर लड़ेगी. लोकसभा चुनाव अप्रैल-मई में प्रस्तावित हैं जबकि विधानसभा चुनाव इस साल के अंत में होंगे.

आप के राष्ट्रीय संयोजक केजरीवाल ने जींद में पार्टी की ‘बदलाव जनसभा’ में कहा, ”आज लोगों को केवल एक ही पार्टी पर भरोसा है, और वो आम आदमी पार्टी है. एक तरफ उन्हें पंजाब, तो दूसरी तरफ दिल्ली में हमारी सरकार दिखती है. आज हरियाणा एक बड़ा बदलाव चाहता है. इसके पहले दिल्ली और पंजाब के लोगों ने यह बड़ा बदलाव किया था और अब वहां के लोग खुश हैं.” केजरीवाल ने कहा कि आप हरियाणा की सभी 90 विधानसभा सीटों पर अपने दम पर चुनाव लड़ेगी, लेकिन लोकसभा चुनाव विपक्षी गठबंधन ‘इंडिया’ के हिस्से के रूप में लड़ा जाएगा. इस कार्यक्रम में पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान भी मौजूद थे.

उन्होंने कहा कि केवल आम आदमी पार्टी ही लोगों को 24 घंटे बिजली आपूर्ति और अन्य सुविधाएं प्रदान कर सकती है जैसा कि उसने दिल्ली और पंजाब में किया है. केजरीवाल ने कहा, ”क्या कांग्रेस, भाजपा और जजपा ऐसा कर सकती है? वे नहीं कर सकते. केवल आम आदमी पार्टी ही ऐसा कर सकती है.” दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रतिद्वंद्वी पार्टियां कहती थीं कि अगर लोगों को बिल नहीं देना पड़ेगा तो उन्हें बिजली आपूर्ति नहीं की जाएगी.

केजरीवाल ने कहा, ”पहले दिल्ली और पंजाब में रोजाना सात से आठ घंटे बिजली कटौती होती थी, लेकिन अब लोगों को 24 घंटे बिजली मिल रही है. हरियाणा में भी हम बिजली कटौती खत्म करेंगे.” केजरीवाल ने किसी का नाम लिए बिना कहा, ”मैं एक इंजीनियर हूं, शिक्षित हूं, समझदार हूं, मैं अनपढ़ नहीं हूं, मेरी डिग्री भी असली है. मेरी डिग्री ‘फर्जी’ नहीं है. मुझे पता है कि काम कैसे करना है, मैं 24 घंटे बिजली उपलब्ध कराऊंगा.” हरियाणा में भाजपा-जजपा (जननायक जनता पार्टी) गठबंधन सत्ता में है और मनोहर लाल खट्टर राज्य के मुख्यमंत्री हैं.

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने भाजपा नीत केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए उस पर उन्हें गिरफ्तार करने के लिए अपनी पूरी ताकत लगाने का आरोप लगाया और कहा कि वह जेल जाने से नहीं डरते. केजरीवाल ने आरोप लगाया, ”उन्होंने (केंद्र सरकार)मुझे गिरफ्तार करने के लिए अपनी पूरी ताकत लगा दी. मेरे पीछे आयकर विभाग, केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई), प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) और दिल्ली पुलिस को लगा दिया .”

केजरीवाल ने कहा, ”मैं जेल जाने से नहीं डरता. मैं हरियाणा का हूं और मैं उनसे कहना चाहता हूं कि किसी ‘हरियाणावाले’ को डराने की कोशिश मत कीजिए. मैं हरियाणा का बेटा हूं.” उन्होंने कहा, ”मैं भगवान राम और भगवान हनुमान का अनुयायी हूं. ‘राम राज्य’ से प्रेरणा लेकर हम दिल्ली और पंजाब में अपना प्रशासन चला रहे हैं. हम यहां सत्ता के लिए नहीं, बल्कि सेवा के लिए आए हैं.” आप के राष्ट्रीय संयोजक ने रेखांकित किया कि पंजाब में 42,000 युवाओं को सरकारी नौकरियां दी गई हैं.

हाल ही में राज्य के कुछ जिलों के युवाओं के कथित तौर पर इजराइल में नौकरियों के लिए कतार में लगने को लेकर केजरीवाल ने हरियाणा सरकार पर तीखा हमला किया. केजरीवाल ने कहा, ”हमने उन्हें इजराइल जाने के लिए नहीं कहा था.” केजरीवाल ने कहा, ”नौकरियों के लिए युवा खट्टर साहब के पास गए थे, लेकिन उन्हें नौकरियों के लिए इजराइल भेजा जा रहा है. वे उन्हें युद्धग्रस्त इजराइल में भेज रहे हैं. युवाओं को युद्धग्रस्त जगह पर कौन भेजता है जहां जीवन की कोई गारंटी नहीं है? खट्टर साहब, क्या आप ऐसी स्थिति में हमारे युवाओं को मरने के लिए भेज रहे हैं?”

केजरीवाल ने कहा, ”यदि आप नौकरी नहीं दे सकते, तो इस्तीफा दे दें. हम आपको दिखाएंगे कि नौकरी कैसे देनी है, हम जानते हैं कि नौकरी कैसे देनी है. मान साहब, केजरीवाल और आम आदमी पार्टी नौकरी देना जानते हैं, लेकिन हमारे बच्चों को मरने के लिए इजराइल मत भेजें.”

इस बदलाव जनसभा को संबोधित करते हुए पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने कहा कि दिल्ली में स्कूल बनवाने पर मनीष सिसोदिया को जेल में डाल दिया गया. मान ने कहा, ”भाजपा को यह डर सताता है कि जहां भी केजरीवाल जाते हैं वहां भाजपा का सूपड़ा साफ हो जाता है. इसलिए केजरीवाल को ईडी का नोटिस भेज दो ताकि वे डर जाएं, लेकिन भाजपा को कौन समझाए कि वे डरने वाले नहीं हैं.” मान ने कहा, ”हम वे पत्ते नहीं कि जो शाख से टूटकर गिर जाएं, भाजपा की आंधियों को बोल दो, औकात में रहें.”

Related Articles

Back to top button