जम्मू-कश्मीर में आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई खत्म नहीं हुई है : पुलिस प्रमुख

श्रीनगर. जम्मू-कश्मीर के पुलिस महानिदेशक आर. आर. स्वैन ने सोमवार को यहां कहा कि केंद्रशासित प्रदेश में आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई पूरी तरह से खत्म नहीं हुई है और इसे अंजाम तक पहुंचाए बिना पीछे नहीं हटा जाएगा. गुरु पर्व के अवसर पर श्रीनगर के छठी पादशाही गुरुद्वारे में मत्था टेकने के बाद स्वैन ने पत्रकारों से कहा, ”जैसा कि मैंने पहले भी कहा है कि यह लड़ाई अभी पूरी तरह से खत्म नहीं हुई है. लड़ाई तभी खत्म होगी जब अन्य पक्ष यह स्वीकार कर ले कि इसमें कोई लाभ नहीं है और यह कदम उसे सिवाय खून-खराबे के कहीं और नहीं ले जाएगा.”

जम्मू क्षेत्र के राजौरी इलाके में हाल में दो अधिकारियों सहित पांच सैन्यर्किमयों की शहादत का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा, ”जहां तक हमारी लड़ाई का संबंध है तो यह हकीकत है कि क्षति होती है लेकिन इस नुकसान को झेलते हुए हमें आगे बढ.ना होता है.” उन्होंने कहा, “हम इस युद्ध से पीछे नहीं हट सकते. लेकिन हम जो कर सकते हैं वह यह सुनिश्चित करना है कि जनता को कम से कम नुकसान हो. और एक लड़ाकू बल के रूप में, हम (सुरक्षाबलों को) नुकसान को कम करने की कोशिश करेंगे.” हालांकि, पुलिस महानिदेशक ने दोहराया कि वे किसी भी चुनौती से पीछे नहीं हटेंगे.

पिछले सप्ताह सेना के दो कैप्टन समेत पांच सैन्यकर्मी राजौरी में एक अभियान में शहीद हो गए थे. इसी अभियान में अफगानिस्तान में प्रशिक्षण प्राप्त लश्कर-ए-तैयबा के एक शीर्ष कमांडर सहित दो आतंकवादियों को मार गिराया गया था. स्वैन से पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) से घुसपैठ की बढ.ती कोशिशों की खबरों के बारे में भी पूछा गया. पुलिस प्रमुख ने कहा, “हिमपात के साथ, कुछ स्थानों पर घुसपैठ कम होती है और कुछ स्थानों पर बढ.ती है. यह रणनीति का मामला है और इस पर सार्वजनिक रूप से चर्चा नहीं की जा सकती.”

Related Articles

Back to top button